एसडीजी

हर मिनट एक ट्रक प्लास्टिक समुद्र में फेंक दिया जाता है

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) ने कहा है कि हर साल लगभग 80 लाख टन प्लास्टिक कूड़ा-कचरा समुद्रों में फेंका जाता है - इसका मतलब इस तरह भी समझा जा सकता है कि एक बड़े ट्रक में समाने वाले कूड़े-कचरे के बराबर ये हर मिनट समुद्र में फेंका जाता है.

जलवायु की ख़ातिर छोड़नी होगी कोयले की लत - महासचिव

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने थाईलैंड में हुए आसियान सम्मेलन के दौरान शनिवार को राजधानी बैंकाक में नए शताब्दी पार्क का दौरा किया जहाँ एक नया क्लाइमेट मिटिगेशन प्रोजेक्ट बनाया गया है. महासचिव ने इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कोयले का इस्तेमाल करने के चलन को अब हल हाल में बंद करना होगा.

टिकाऊ शहरों के निर्माण में युवाओं व तकनीक की अहम भूमिका

विश्व की आधी से ज़्यादा आबादी – 3.9 अरब - अब शहरों में रहती है और वर्ष 2050 तक यह संख्या दोगुनी होने की संभावना है. बढ़ते शहरीकरण से नई चुनौतियां पैदा हो रही हैं, लेकिन शहर भावी पीढ़ियों के लिए बेहतर जीवन सुनिश्चित करने और टिकाऊ विकास लक्ष्यों को हासिल करने में अग्रणी भूमिका भी निभा सकते हैं. 31 अक्टूबर को ‘विश्व शहर दिवस’ के अवसर पर यही रेखांकित करने का प्रयास किया जा रहा है.

दूसरी कमेटीः दुनिया को एक बेहतर स्थान बनाने की ज़िम्मेदारी

संयुक्त राष्ट्र अपने सबसे महत्वाकांक्षी और दूरगामी परिणामों वाले प्रोजेक्टः 2030 एजेंडा को किस तरह आगे बढ़ा रहा है जिसका उद्देश्य विश्व को बदलना है? ये विशालकाय ज़िम्मेदारी संयुक्त राष्ट्र महासभा की दूसरी कमेटी के कंधों पर है. ये कमेटी दुनिया भर में आर्थिक और वित्तीय मामलों के बारे में महत्वपूर्ण नीति बनाती है और फ़ैसले लेती है.

नेपाल में खुले में शौच के अंत से लाभ ही लाभ

नेपाल के तराई क्षेत्र में बसे माझी गांव में 104 लोग रहते हैं. ग़रीबी से घिरे इस गांव में सुनयना भी रहती हैं. इस गांव में मिट्टी की एक गंदी सड़क के किनारे मिट्टी, घास और पुआल से बनी झोपड़ियां एक क़तार में खड़ी हैं. ये सड़क चावल के उन खेतों से गुज़रती है जिनसे सुनयना और उसके पड़ोसियों का जीवन-यापन होता है.

कृषि को टिकाऊ बनाने और किसानों की आय बढ़ाने पर ज़ोर

अंतरराष्ट्रीय कृषि विकास कोष (International Fund for Agricultural Development) के अध्यक्ष गिल्बर्ट हॉन्गबो इस सप्ताह भारत का दौरा कर रहे हैं. उनकी यात्रा का लक्ष्य भारत में खाद्य प्रणालियों को टिकाऊ बनाना और किसानों की आय बढ़ाने के लिए किए जा रहे साझा प्रयासों को मज़बूती देना है.

'चरम ग़रीबी का अंत ज़रूरी' है टिकाऊ भविष्य के लिए

वैश्वीकरण से यदि सभी बच्चों, उनके परिवारों और समुदायों को लाभ नहीं पहुंचा तो सर्वजन के लिए टिकाऊ भविष्य का निर्माण कर पाना संभव नहीं होगा. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने 'अंतरराष्ट्रीय ग़रीबी उन्मूलन दिवस' पर जारी अपने संदेश में ग़रीबी के कुचक्र को तोड़ने के लिए किए जा रहे प्रयासों में बच्चों पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करने की पुकार लगाई है.

एक तरफ़ बेतहाशा भोजन से मोटापा, दूसरी तरफ़ भोजन के अभाव में भुखमरी

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने 'विश्व खाद्य दिवस' पर जारी अपने संदेश में भुखमरी मिटाने और एक ऐसी दुनिया बनाने की पुकार लगाई है जहां पौष्टिक भोजन हर जगह सभी के लिए उपलब्ध हो. वैश्विक आबादी के एक बड़े हिस्से को खाने के लिए पर्याप्त मात्रा में भोजन उपलब्ध नहीं है, बढ़ता वज़न और मोटापे की समस्या स्वास्थ्य के लिए कई चुनौतियां खड़ी कर रही है जिसके मद्देनज़र इस वर्ष भुखमरी से लड़ाई के अलावा सेहतमंद आहार की ज़रूरत को भी रेखांकित गया है.

वैश्विक जलवायु कार्रवाई में ग्रामीण महिलाएँ एक शक्तिबल

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि दुनिया भर में ग्रामीण महिलाएँ व लड़कियाँ जलवायु परिवर्तन की चुनौती का सामना करने के वैश्विक प्रयासों में एक ताक़तवर माध्यम हैं.  

यूएन रिपोर्ट: भोजन की बर्बादी रोकने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन (UNFAO) की नई रिपोर्ट दर्शाती है कि मानव उपभोग के लिए पैदा किया जाने वाला एक तिहाई से ज़्यादा भोजन या तो बर्बाद हो जाता है या फिर उसका नुक़सान होता है.  इस रिपोर्ट में ऐसे समाधान भी पेश किए गए हैं जिन्हें अपनाए जाने से असरदार ढंग से भोजन की विशालकाय बर्बादी की रोकथाम के साथ-साथ भुखमरी से निपटने और टिकाऊ विकास लक्ष्यों को हासिल करने में भी मदद मिलेगी.