शांति और सुरक्षा

यमन: युद्धरत पक्षों के बीच 1000 बन्दियों की रिहाई के लिये रज़ामन्दी

यमन में युद्धरत पक्ष बन्दियों के पहले समूह की रिहाई की के लिये रज़ामन्द हुए हैं. सप्ताहान्त के दौरान स्विट्ज़रलैण्ड़ में सप्ताह भर चली बैठक के आख़िर में ये रज़ामन्दी हुई जिसे संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत ने “एक बहुत ही महत्वपूर्ण पड़ाव” क़रार दिया है.

कोविड-19 महामारी के दौरान आपसी सहयोग की परीक्षा में ‘विफल हुई दुनिया’

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए बहुपक्षवाद को मज़बूती देने और सभी देशों के बीच भरोसा क़ायम करने की आवश्यकता पर बल दिया है. गुरूवार को अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 ने विभिन्न मोर्चों पर ख़ामियाँ उजागर की हैं लेकिन अन्तरराष्ट्रीय समुदाय इस परीक्षा का सामना करने में विफल रहा है. 

लेबनान में नेताओं को राजनीति से हटकर लोगों की बेहतरी को महत्व देना होगा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि लेबनान में तमाम नेताओं को अगस्त में बेरूत बन्दरगाह पर हुए भीषण विस्फोट के बाद की चुनौतियों का सामना करने के लिये राजनीति को पीछे छोड़कर आम लोगों की भलाई को ऊपर रखना होगा.

म्याँमार: राख़ीन प्रान्त में हमलों में बच्चों की मौतों को रोकना होगा - मानवाधिकार विशेषज्ञ

म्याँमार में मानवाधिकारों की स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र के स्वतन्त्र मानवाधिकार विशेषज्ञ थॉमस एण्ड्रयूज़ ने मंगलवार को कहा है कि देश के राख़ीन प्रान्त में गाँवों पर सुरक्षा बलों के हमले तुरन्त रोकने होंगे, और तुरन्त संघर्षविराम घोषित होना चाहिये.

अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस: एकजुटता से न्यायसंगत विश्व के निर्माण का आहवान

वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण दुनिया भर में मची उथलपुथल के दौर में भी हर देश में लोगों को शान्ति क़ायम रखने को अपनी प्राथमिकता बनाए रखना होगा. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार, 21 सितम्बर, को अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस पर यह सन्देश दिया है.

शान्ति दिवस: हथियार डालने का आग्रह

अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने दुनियाभर में संघर्षरत पक्षों से आग्रह किया कि वे अपने हथियार डालकर सदभाव का रास्ता अपनाएँ. महासचिव ने इस मौक़े पर वैश्विक युद्धविराम की याद भी दिलाई है. अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस 21 सितम्बर को मनाया जाता है. महासचिव का वीडियो सन्देश...

सीरिया: नए संविधान पर वार्ता से हिंसा पर विराम लगाने की उम्मीद

सीरिया में युद्धरत पक्षों में गहरा अविश्वास क़ायम है, इसके बावजूद हाल ही में जिनीवा में संवैधानिक समिति की बैठक में आशा की एक धूमिल लेकिन वास्तविक किरण उभरती दिखाई दी है. यह बैठक नौ महीने के अन्तराल के बाद आयोजित की गई थी. शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गेयर पैडरसन ने सुरक्षा परिषद को एक दशक से जारी हिंसा से सीरिया को उबारने के लिये किये जा रहे प्रयासों के सम्बन्ध में अवगत कराया है. 

यमन: युद्ध और कोविड-19 से लाखों लोग तबाही के कगार पर

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने गुरुवार को बताया कि पाँच साल से अधिक समय से चल रहे युद्ध ने "यमन के करोड़ों लोगों का जीवन तबाह कर दिया है." विशेषज्ञों का अनुमान है कि यमन में लगभग दस लाख लोग कोविड-19 से प्रभावित हुए हैं.

दरकती दुनिया को कोविड-19 से ख़तरा, शान्ति की पुकार

जापान में प्रचलित एक सिद्धान्त के अनुसार टूटी हुई वस्तुओं में भी ख़ूबियाँ तलाश की जाती हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरुवार को यूएन मुख्यालय में 21 सितम्बर को मनाए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस से पहले गुरूवार को आयोजित एक वार्षिक कार्यक्रम में वैश्विक आग्रह किया कि ऐसे समय जब दुनिया दरक रही है, कोविड-19 से उबरने की प्रक्रिया के दौरान इसी सिद्धान्त को अपनाए जाने की आवश्यकता है.  

अन्याय का सामना करने के लिये उठ खड़े हों, मिशेल बाशेलेट की पुकार

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का नया सत्र जिनीवा में मंगलवार को शुरू हुआ जिसमें सदस्य देशों ने निजी तौर पर इसमें शिरकत की. यूएन मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बाशेलेट ने तमाम देशों से आग्रह किया कि वो हर जगह अन्याय का मुक़ाबला करने के लिये हर सम्भव प्रयास व उपाय करने में कोई कमी ना छोड़ें.