शांति और सुरक्षा

कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य: राजनैतिक तबके से बदलाव की बयार के समर्थन की अपील

कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) में संयुक्त राष्ट्र की प्रमुख लैला ज़ेरोगी ने सुरक्षा परिषद को देश में हालात की जानकारी देते हुए बताया है कि हाल के दिनों में सकारात्मक प्रगति अगर आगे भी जारी रही तो देश की कायापलट करने और वहां स्थिरता लाने में मदद मिलेगी.  उन्होंने देश के राजनैतिक तबके से परिवर्तन की इस हवा को समर्थन देने का आह्वान किया है. 

अफ़ग़ानिस्तान जांच: ड्रग्स लैब पर बमबारी में कम से कम 60 लोगों की मौत

अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNAMA) ने कहा है कि कथित रूप से मेथाफ़ेटामाइन - नशीली दवा (ड्रग्स) - बनाने के ठिकानों को सैन्य रूप से निशाना बनाते हुए उन पर हवाई बमबारी नहीं की जानी चाहिए थी. यूएन मिशन की जांच में पाया गया है कि इन ठिकानों का सीधे तौर पर तालिबान के साथ संबंध स्थापित नहीं हो पाया है. अमेरिकी सेना की इस कार्रवाई में कम से कम 60 आम नागरिकों के मारे जाने की रिपोर्टें हैं.

यूएन मुख्यालय में गाँधी जयंती

महात्मा गाँधी के जन्म दिन 2 अक्तूबर को विश्व अहिंसा दिवस मनाया जाता है. इसी मौक़े पर 2019 में भी यूएन मुख्यालय में एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें महासचिव एंतोनियो गुटेरेश, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहितअनेक हस्तियों ने शिरकत की. अंशु शर्मा की विशेष रिपोर्ट.

माली में यूएन शांति रक्षकों पर हमले की निंदा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने माली में संगठन के बहुपक्षीय एकीकृत स्थिरता मिशन (MINUSMA) के ख़िलाफ़ रविवार को हुए दो अलग-अलग हमलों की तीखी भर्त्सना की है.  इन हमलों में एक शांति रक्षक की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए. 

यूएन प्रमुख कैमेरून में विपक्षी नेता की रिहाई पर उत्साहित

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कैमेरून में मुख्य विपक्षी दल के नेता मॉरिस कैम्टो की रिहाई पर प्रसन्नता व्यक्त की है. मॉरिस कैम्टो पिछले 9 महीनों से जेल में बंद थे. उन्हें अक्तूबर 2018 में हुए राष्ट्रपति पद के चुनावों के परिणामों पर सवाल उठाने वाले शांतिपूर्ण प्रदर्शनों के बाद जेल में बंद कर दिया गया था. वो ख़ुद भी उन चुनावों में एक उम्मीदवार थे.

इराक़ व अन्य देशों में प्रदर्शनों पर बल प्रयोग पर गंभीर चिंता

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय ने इराक़ सरकार से आग्रह किया है कि नागरिकों को अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार का इस्तेमाल करने की इजाज़त दी जाए. ये आग्रह उन घटनाओं के बाद किया गया है जब इस सप्ताह के आरंभ में कुछ सरकार विरोधी प्रदर्शनों पर सुरक्षा बलों ने गोलियाँ चलाई थीं.

अफ़्रीका: ग्रेट लेक्स क्षेत्र में स्थिरता क़ायम करने का 'सुनहरा अवसर'

संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हुआंग श्या ने सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए कहा है कि अफ़्रीका के ग्रेट लेक्स क्षेत्र में अस्थिरता समाप्त करने के लिए यह एक सुनहरा अवसर है जिसका अंतरराष्ट्रीय समुदाय को लाभ उठाना होगा. विशेष दूत के अनुसार प्राकृतिक संपदा से भरपूर इस क्षेत्र में शांति क़ायम होने का लाभ लाखों स्थानीय लोगों को मिल सकेगा.  

गाँधी@150:चिरजीवी अमन मशाल

2019 महात्मा गाँधी के जन्म का 150वाँ वर्ष है. यूएन मुख्यालय में भी इस अवसर पर 24 सितंबर को एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख़ हसीना सहित अनेक अंतरराष्ट्रीय हस्तियों ने शिरकत की. इस विशेष बैठक को इन नेताओं ने संबोधित भी किया और गाँधी संदेश के ज़रिए अमन की मशाल को फिर से प्रज्ज्लित किया. 

संवैधानिक समिति का गठन सीरिया के लिए आशा की किरण

सीरिया में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गेयर पेडरसन ने कहा है कि लंबे समय से हिंसक संघर्ष से पीड़ित लोगों के लिए आशा की किरण दिखाई दे रही है. यूएन के विशेष दूत का इशारा सीरिया में संवैधानिक समिति के गठन से था जिसकी रूप रेखा तैयार हो गई है और अब उसे अक्तूबर महीने से संविधान निर्माण पर विचार विमर्श करना है.

यमन में बंदियों की रिहाई से शांति की उम्मीदें जागी

लंबे समय से युद्ध और अशांति के दंश को झेल रहे यमन में हिंसा के संभावित अंत की उम्मीदें जागी हैं. रिपोर्टों के अनुसार हूती लड़ाकों ने सदभावना भरा रुख़ दर्शाते हुए 300 से ज़्यादा बंदी रिहा कर दिए हैं. यमन के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने इस ख़बर का स्वागत करते हुए इससे दोनों पक्षों में फिर से बातचीत होने की संभावना बढ़ने की उम्मीद जताई है.