शांति और सुरक्षा

त्रिपोली पर नियंत्रण की दौड़ में नहीं थम रहा ख़ूनख़राबा

तथाकथित लीबियन नेशनल आर्मी और अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त अंतरिम सरकार के सुरक्षाकर्मियों के बीच त्रिपोली पर नियंत्रण के लिए छिड़ी लड़ाई को पांच महीने पूरे हो गए हैं. लीबिया में संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिनिधि ग़ासन सलामे ने ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि इस लड़ाई की वजह से देश में शांति और स्थिरता स्थापित करने के प्रयासों को झटका लगा है.

'दुनिया भर में संकटों के बावजूद मानवाधिकार मुद्दे सबकी ज़िम्मेदारी'

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अशांति व हिंसा के मद्देनज़र वैश्विक पुकार लगाते हुए कहा है कि सभी संबद्ध पक्ष हिंसा को छोड़कर संयम से काम लें और मुक्त व समावेशी संवाद को प्राथमिकता दें. मानवाधिकार उच्चायुक्त के पद पर एक वर्ष पूरा करने के मौक़े पर बुधवार को जिनीवा में प्रेस से बातचीत में उन्होंने ये आहवान किया.

म्याँमार में सेना द्वारा बंधक बनाए गए लोगों के उत्पीड़न पर चिंता

म्याँमार की सेना द्वारा एक बंदी शिविर में रखे गए राखीन प्रांत के लोगों के उत्पीड़न और फिर उनकी मौत के आरोपों के बाद संयुक्त राष्ट्र के तीन स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने ये उत्पीड़न तुरंत रोके जाने का आहवान किया है. इन विशेषज्ञों ने साथ ही इन आरापों की 'निष्पक्ष व भरोसेमंद' जाँच कराने का भी आहवान किया है.

डीआर कॉंगो में लोकतंत्र के लिए एक ‘ऐतिहासिक क्षण’

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) की यात्रा के तीसरे और अंतिम दिन कहा है कि देश लोकतांत्रिक प्रक्रिया में एक ऐतिहासिक क्षण का अनुभव कर रहा है जिससे डीआरसी में लोकतांत्रिक संस्थानों की नींव मज़बूत करने का रास्ता स्पष्ट होगा.

‘यमन के लिए बेहद अंधकारपूर्ण समय’ 

यमन में संयुक्त राष्ट्र मानवीय समन्वयक लिज़े ग्रान्डे ने रविवार को धमर शहर में घातक हवाई बमबारी को एक भयावह घटना क़रार दिया है. इस बमबारी में बड़ी संख्या में बंदियों के मारे जाने पर शोक जताते हुए उन्होंने कहा कि यमन के लिए यह एक अंधकार भरा समय है. हाल के दिनों में यमन में लड़ाई और दक्षिणी हिस्से में बमबारी में तेज़ी आई है जिसमें सैकड़ों की संख्या में लोग हताहत हुए हैं.  

डीआर कॉंगो की जनता और यूएन शांतिरक्षकों के साहस को सलाम

कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) की यात्रा के दूसरे दिन संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने देश की जनता के साहस की प्रशंसा करते हुए भरोसा दिलाया है कि बीमारियों और असुरक्षा के विरूद्ध लड़ाई में संयुक्त राष्ट्र उनके साथ है. यूएन प्रमुख ने जनता को सुरक्षा प्रदान करते समय अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शांतिरक्षकों को श्रृद्धांजलि दी है.

यमन में हिंसा में तेज़ी से मुश्किलें बढ़ीं

यमन में संयुक्त राष्ट्र की मानवीय सहायता अधिकारी  लिज़े ग्रान्डे ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि वहां स्थिति "बहुत नाज़ुक" है और पिछले तीन दिनों में दो गवर्नरेट में झड़पों के दौरान 13 लोग मारे गए हैं और कम से कम 70 घायल हुए हैं.

इदलिब में लाखों लोगों की आस मदद के लिए सुरक्षा परिषद पर

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता कार्यों के प्रमुख मार्क लोकॉक ने सुरक्षा परिषद को गुरूवार को बताया कि सीरिया के युद्धग्रस्त इलाक़े इदलिब में युद्धक गतिविधियाँ रोकने के लिए 2018 में लगभग एक साल पहले हुए समझौते के बावजूद बमबारी और लड़ाई अब भी जारी है, हर दिन ये सिलसिला देखा जा सकता है.

सीटीबीटी को लागू करना परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि परमाणु हथियारों के परीक्षणों ने दुनिया को तबाही के सिवाय और कुछ नहीं दिया है. आज की बढ़ते तनावों की दुनिया में हम सबकी सामूहिक सुरक्षा इस बात पर निर्भर है कि परमाणु विस्फोटों पर पाबंदी लगाने वाली एक वैश्विक संधि लागू की जाए. 

लीबिया के निकट नौका दुर्घटना में 40 यात्रियों की मौत

भूमध्य सागर में एक ताज़ा नौका दुर्घटना में कम से कम 40 लोगों के डूब जाने की आशंका है. ये दुर्घटना लीबिया के तट के नज़दीक मंगलवार को हुई बताई गई है. इस हादसे के बाद संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) ने इस तरह से होने वाली मौतों से लोगों को बचाने की एक बार फिर पुकार लगाई है.