शांति और सुरक्षा

अफ़ग़ान राष्ट्रपति चुनाव के अंतिम चरण की अखंडता के लिए पुकार

अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन के प्रमुख तादामीची यामामोतो ने देश के राष्ट्रपति चुनाव में रविवार को आए प्रारंभिक परिणामों का स्वागत करते हुए सभी अधिकारियों और संबंधित लोगों से "प्रक्रिया के अंतिम चरण की अखंडता की रक्षा करने" का आग्रह किया है.

दुनिया भर में शांति और सामंजस्य के लिए एकजुटता की पुकार

उथल-पुथल और मुश्किलों से भरे मौजूदा दौर में विश्व भर के लोगों को शांति व सामंजस्य में एकजुटता दिखाने की ज़रूरत है. ये शब्द हैं यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश के जो उन्होंने शुक्रवार को वेटिकन में रोमक कैथोलिक चर्च के मुखिया पोप फ्रांसिस के साथ मुलाक़ात करने के बाद कहे. महासचिव ने संयुक्त राष्ट्र को समर्थन देने के लिए पोप का शुक्रिया भी अदा किया.

अफ़ग़ानिस्तान में हर दिन 9 बच्चे हताहत

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की एक नई रिपोर्ट कहती है कि अफ़ग़ानिस्तान में हर दिन औसतन नौ बच्चों की या तो मौत हो रही है या फिर वे घायल हो रहे हैं. यूनीसेफ़ की रिपोर्ट में अफ़ग़ानिस्तान को दुनिया का सबसे घातक युद्धक्षेत्र क़रार दिया गया है. वर्ष 2009 से 2018 तक साढ़े छह हज़ार से ज़्यादा बच्चों की मौत हुई है और लगभग 15 हज़ार घायल हुए हैं.

चौथी कमेटी:अनेक दुनियाओं का एजेंडा

एक ऐसी टाइमलाइन जो औपनिवेशिक अतीत से होकर वर्तमान तक पहुँचती है, और जो अंतिम सीमाएँ निर्धारित करने के लिए भविष्य में भी दाख़िल होती है, यही टाइमलाइन संयुक्त राष्ट्र महासभा की सर्वाधिक विविध चौथी कमेटी का परिचय निर्धारित करती है. संयुक्त राष्ट्र महासभा की समितियों के बारे में इस विशेष श्रंखला में इस आलेख में प्रस्तुत है चौथी कमेटी का परिचय. ध्यान रहे कि महासभा 193 देशों के प्रतिनिधियों से मिलाकर बनती है और महासभा का कामकाज समितियों के ज़रिए संचालित किया जाता है.

दक्षिण सूडान: एक भारतीय पशु चिकित्सक ने बदल दी उनकी दुनिया

वर्षों तक अंतर-जातीय संघर्ष का दंश झेलने वाले दक्षिण सूडान के बोर इलाक़े में पशु उद्योग तबाही के कगार पर पहुंच गया था लेकिन अब भारतीय शांतिरक्षकों की मेहनत से वहां आए सकारात्मक बदलाव महसूस किया जा सकता है. भारतीय शांतिरक्षक लैफ़्टिनेंट-कर्नल रिचमार्क फ़र्नांडीज़ दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNMISS) के साथ एक पशु चिकित्सक के रूप में काम करते हुए स्थानीय मवेशियों की अच्छी सेहत सुनिश्चित कर रहे हैं.

आँग सान सू ची - आईसीजे में

म्याँमार के रख़ाइन प्रान्त में रोहिंज्या आबादी के जनसंहार करने के कथित अपराधों के आरोप में गांबिया ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में मुकदमा दायर किया. इस मुक़दमे पर दिसंबर 2019 में सुनवाई हुई. म्याँमार की राजनैतिक नेता आँग सान सू ची ने न्यायालय में पेश होकर अपने देश का बचाव किया.

म्याँमार: मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की सुरक्षा की अपील

म्याँमार में संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत यंगी ली ने कहा है कि रोहिंज्या लोगों पर अत्याचारों के आरोप में हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में नवंबर में गांबिया द्वारा दाख़िल किए गए क़ानूनी मुक़दमे के बाद से ही मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ ऑनलाइन मंचों पर विद्वेष यानी शत्रुता का माहौल बढ़ गया है. यंगी ली ने म्याँमार सरकार और सोशल मीडिया कंपनियों से सभी मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर संभव कार्रवाई करने का आग्रह किया है.

 

मानवाधिकार दिवस: युवाओं की सक्रियता व ऊर्जा पर ध्यान

संयुक्त राष्ट्र ने वर्ष 2019 के मानवाधिकार दिवस के मौक़े पर ख़ासतौर से युवाओं की सक्रियता व ऊर्जा पर ध्यान केंद्रित करते हुए सभी लोगों के लिए एक बेहतर भविष्य के निर्माण की दिशा में युवाओं की भूमिका को रेखांकित किया है.  मानवाधिकार दिवस हर वर्ष 10 दिसंबर को मनाया जाता है.

मानवाधिकार दिवस: युवाओं पर है ध्यान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने 2019 के मानवाधिकार दिवस पर जीवन में मानवाधिकार सुनिश्चित करने में युवाओं की भूमिका को रेखांकित किया है.  उन्होंने कहा है...

इराक़ में निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर हमलों की कड़ी निंदा 

इराक़ में संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष अधिकारी जिनीन हैनिस-प्लासशर्ट ने शुक्रवार रात को बग़दाद में हथियारबंद मिलिशिया द्वारा निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाए जाने की कड़ी निंदा की है. इस घटना में बड़ी संख्या में लोगों की मौत हुई है और अनेक घायल हुए हैं. यूएन अधिकारी ने कहा है कि बिना किसी देरी के दोषियों की पहचान कर उन्हें न्याय के कटघरे में लाया जाना चाहिए.