शांति और सुरक्षा

सीरिया: रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल संबंधी रिपोर्ट पर चर्चा

दुनिया भर में रासायनिक हथियारों पर नज़र रखने वाले संगठन की एक नई रिपोर्ट पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बंद दरवाज़े के भीतर एक बैठक में चर्चा हुई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसा मानने का पर्याप्त आधार है कि पिछले साल सीरिया के पूर्वी घोटा पर नियंत्रण के लिए हुई लड़ाई में रासायनिक हथियारों से हमला किया गया.

बारूदी सुरंग प्रतिबंध संधि के 20 साल पूरे, लेकिन ख़तरा बरक़रार

बारूदी सुरंगों पर प्रतिबंध लगाने वाली संधि के दो दशक पूरे होने के बावजूद पुराने रणक्षेत्रों में बिछी सुरंगें अब भी लोगों को अपना निवाला बना लेती हैं. अपने संदेश में यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि इस ख़तरे को धरती से मिटा देने के लिए त्वरित प्रयासों की ज़रूरत है. 

वेनेज़्वेला: सुरक्षा परिषद में पारित नहीं हुए रूस और अमेरिका के प्रस्ताव

वेनेज़्वेला पर इस हफ़्ते दूसरी बार सुरक्षा परिषद की गुरुवार को बैठक हुई जिसमें अमेरिका और रूस की ओर से परस्पर विरोधी प्रस्ताव पेश किए गए. लेकिन दोनों ही पारित नहीं हो पाए क्योंकि अमेरिकी प्रस्ताव को वीटो कर दिया गया जबकि रूस के प्रस्ताव को ज़रूरी वोट नहीं मिले.  

लंबे कूटनीतिक प्रयासों के बाद बनी उत्तर मैसेडोनिया गणराज्य नाम पर सहमति

पिछले साल जून महीने में एक ऐतिहासिक समझौते के साथ ही दो देशों, पूर्व यूगोस्लाविया के मैसेडोनिया गणराज्य और ग्रीस, में 27 साल से चले आ रहे विवाद का निपटारा हो गया. इस मुद्दे पर चली वार्ताओं में संयुक्त राष्ट्र की ओर से मैथ्यू निमेत्ज़ ने अहम भूमिका निभाई और दो दशकों से ज़्यादा समय तक वार्ताओं का नेतृत्व किया.

यूएन और अफ़्रीकी संघ की साझेदारी शांति प्रयासों की 'आधारशिला'

संयुक्त राष्ट्र और अफ़्रीकी संघ के बीच रणनीतिक साझेदारी अफ़्रीका में शांति और सुरक्षा के लिए हो रही प्रयासों की आधारशिला बन गई है.  राजनीतिक मामलों के लिए यूएन की सहायक महासचिव रोज़मैरी डिकार्लो ने सुरक्षा परिषद में चर्चा के दौरान कहा कि अफ़्रीकी महाद्वीप पर बंदूकों को शांत करने की दिशा में प्रयास परिणाम दिखाने लगे हैं.   

हथियारों पर नियंत्रण के लिए नए सिरे से प्रयासों की ज़रूरत

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा की दृष्टि से जटिल वातावरण में हथियारों पर नियंत्रण कसने के लिए एक नई वैश्विक दृष्टि की आवश्यकता है. उन्होंने आगाह किया कि सदस्य देशों को बिना सोचे-समझे परमाणु हथियारों की दौड़ में शामिल नहीं हो जाना चाहिए. 

अफ़ग़ानिस्तान के लिए त्रासदी भरा रहा साल 2018

महिलाओं और बच्चों सहित 3,800 से ज़्यादा आम नागरिकों की ज़िंदगियां लील जाने वाला पिछला साल बेहद ‘व्यथित कर देने वाला और अस्वीकार्य’ साबित हुआ. अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNAMA) और मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) की नई रिपोर्ट दर्शाती है कि 2017 की तुलना में मृतकों की संख्या में 11 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है. 

सुरक्षा परिषद ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जम्मू और कश्मीर राज्य में 'जघन्य और कायराना' ढंग से हुए आत्मघाती बम हमले की कड़े से कड़े शब्दों में निंदा की है. 14 फ़रवरी को पुलवामा ज़िले में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ़) के काफ़िले पर हुए इस हमले में 40 भारतीय सुरक्षाकर्मी मारे गए थे.

तनाव कम करने के लिए 'जल्द कदम उठाएं' भारत और पाकिस्तान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने  भारत और पाकिस्तान से आग्रह  किया है कि पुलवामा हमले के बाद से पैदा हुए तनाव को कम करने के लिए उन्हें तत्काल कदम उठाने चाहिए. पिछले गुरुवार को जम्मू कश्मीर के पुलवामा ज़िले में भारतीय सुरक्षा बलों पर आत्मघाती कार बम हमले में 40 सुरक्षाकर्मी मारे गए थे. 

'यमन के प्रति आशावान होने का अवसर'

यमन सरकार और हूती विद्रोहियों में हुदायदाह पुन: तैनाती योजना के पहले चरण पर सहमति बनना दर्शाता है कि दोनों पक्ष स्टॉकहोम समझौते के लिए प्रतिबद्ध हैं. सुरक्षा परिषद को यह जानकारी देते हुए यमन के लिए यूएन महासचिव के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने बताया कि समझौते के अमलीकरण में उल्लेखनीय प्रगति हुई है.