शांति और सुरक्षा

दक्षिण सूडान में भोजन की भारी कमी, अकाल जैसे हालात

दक्षिण सूडान में लगभग 70 लाख लोगों के पास रोज़मर्रा की ज़रूरतें पूरी करने के लिए पर्याप्त भोजन नहीं बचा है और 20 हज़ार से ज़्यादा लोग भुखमरी के कगार पर पहुँच गए हैं. विश्व खाद्य कार्यक्रम ने शुक्रवार को ये चेतावनी जारी की है.

अस्पताल की अंधेरी दुनिया में सूरज की रौशनी

अब्राहम लियर ने दक्षिणी सूडान के जोंगलेई राज्य में स्थित एक मात्र सक्रिय स्वास्त्य केंद्र - बोर अस्पताल में काफ़ी लंबे समय से काम किया है और उन्होंने वहाँ बहुत सी घुप्प अंधेरी रातें देखी हैं, मगर अब रौशनी की किरणों ने अस्पताल की अंधेरी रातों को जगमगा दिया है.

हिंसा की रोकथाम के लिए एकजुटता और मध्यस्थता ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि विश्व  में व्याप्त मानवीय पीड़ा को कम करने के लिए दो सबसे अहम ज़रिए हैं: हिंसा और संघर्ष की रोकथाम और मध्यस्थता के प्रयास. शांति प्रयासों के सफल होने के लिए आपसी एकजुटता और समावेशी संवाद की आवश्यकता पर भी बल दिया गया है.

गुमशुदाओं के परिजनों को सही सूचना और जवाब मिलना ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सशस्त्र संघर्षों और लड़ाई-झगड़ों में लापता हुए लोगों के मुद्दे पर पहली बार कोई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किया है. मंगलवार को पारित हुए इस प्रस्ताव को सभी 15 सदस्यों ने एकमत से मंज़ूरी दी. इस प्रस्ताव का उद्देश्य तमाम देशों को अपनी मानवीय और क़ानूनी जिम्मेदारियाँ पूरी करने के लिए प्रोत्साहित करना है.

अफ़ग़ानिस्तान: रमज़ान में आम लोगों को 'जानबूझकर बनाया गया निशाना'

अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र ने सभी पक्षों से आग्रह किया है कि हिंसा में आम लोगों को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए और  उनकी रक्षा के दायित्व  को पूर्ण रूप से निभाया जाना चाहिए. रमज़ान के पवित्र महीने में चरमपंथियों के हमलों में राजधानी काबुल में ही 100 से ज़्यादा आम नागरिकों की मौत हो गई जिसकी यूएन ने निंदा की है. 

सुरक्षा परिषद के पाँच नए अस्थाई सदस्य

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने शुक्रवार को सुरक्षा परिषद के पाँच नए अस्थाई सदस्यों का चुनाव कर लिया है. इन देशों के नाम हैं – सेंट विंसेंट एंड द ग्रेनैडाइन्स, एस्तोनिया, निजेर, ट्यूनिशिया और वियतनाम. इनमें सेंट विंसेंट एंड द ग्रेनैडाइन्स अभी तक का सबसे छोटा राष्ट्र है जिसे सुरक्षा परिषद की अस्थाई सदस्यता मिली है.

दुनिया को 'एक नए शीत युद्ध' से बचना होगा

एक ऐसी दुनिया में जहां अंतरराष्ट्रीय संबंधों में अराजकता बढ़ रही है, विश्व नेताओं को शीत युद्ध  के रास्ते पर आगे बढ़ने से बचना होगा. रूस के सेंट पीटर्सबर्ग शहर में आयोजित इंटरनेशनल इकॉनॉमिक फ़ॉरम में प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बहुपक्षीय व्यवस्था के ज़रिए आपसी मतभेदों को दूर करने पर बल दिया है.

सूडान में शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी की निंदा

सूडान की राजधानी खार्तूम में सुरक्षा बलों ने लोकतंत्र के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोलियां चलाई हैं जिसमें कई लोगों के मारे जाने और घायल होने की रिपोर्टें मिली हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गोलीबारी की कड़ी निंदा करते हुए शांतिपूर्ण ढंग से बातचीत को फिर से शुरू करने की अपील की है.  यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त ने भी सुरक्षा बलों की कार्रवाई की भर्त्सना की है. 

वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए 'मज़बूत और एकजुट' यूरोप ज़रूरी

दूसरे विश्व युद्ध के बाद दुनिया में बहुपक्षवाद को बढ़ावा देने के इरादे से जिन अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं को स्थापित किया गया था उन पर संकट मंडरा रहा है. जर्मनी के प्राचीन शहर आखेन में ‘शार्लेमान पुरस्कार’ ग्रहण करते समय संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सचेत किया है कि एक मज़बूत और एकजुट यूरोप का यूएन के साथ खड़ा होना पहले से कहीं ज़्यादा महत्वपूर्ण हो गया है.

शांति और सुरक्षा कायम रखने में अहम भूमिका निभाते शांतिरक्षक

हिंसा से आम नागरिकों को बचाने के लिए यूएन शांतिरक्षक हर दिन अपनी जान को जोखिम में डालते हैं. 29 मई को अंतरराष्ट्रीय संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षक दिवस पर दुनिया में शांति और सुरक्षा बनाए रखने में शांतिरक्षकों की अहम भूमिका को याद किया जा रहा है.