शांति और सुरक्षा

‘दुनिया को बदलने से पहले ख़ुद को बदलें’

कैप्टन तन्वी शुक्ला काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य में यूएन मिशन (MONUSCO) में भारतीय दल की महिला टीम की कमाण्डर हैं. कैप्टन शुक्ला के मुताबिक शान्तिरक्षा मिशन का हिस्सा बनने पर उन्हें बहुत कुछ सीखने, विविध पृष्ठभूमियों से आए लोगों से मिलने-जुलने और स्थानीय लोगों से संवाद स्थापित करने का अवसर मिला है. उनका कहना है कि हमें पहले ख़ुद में वो बदलाव लाने का प्रयास करना चाहिए जैसा कि हम दूसरों में देखना चाहते हैं. 

लेबनान में महात्मा गाँधी पार्क का नवीनीकरण

दुनिया को अहिंसा का गुरू मन्त्र देने वाले भारत के राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी की स्मृति में दक्षिण-पूर्वी लेबनान के अबल अल साक़ी शहर में 1999 में भारतीय शान्तिरक्षकों ने एक पार्क का निर्माण किया था. दक्षिण-पूर्वी लेबनान के अबल अल साक़ी में तैनात यूनीफ़िल की वर्तमान भारतीय बटालियन ने हाल ही में इस पार्क की मरम्मत और नवीनीकरण का बीड़ा उठाया. 

यूएन दूत की चेतावनी, सीरिया में समय किसी के पक्ष में भी नहीं

सीरिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गेयर पेडरसन ने कहा है कि देश में आर्थिक हालात बदतर होते जा रहे हैं और इसलिए जल्द ही ऐसा रास्ता ढूँढा जाना होगा जिससे लोग अपनी पीड़ाओं से उबर सकें और अपने भविष्य को आकार दे सकें. 

लीबिया में सामूहिक क़ब्रें मिलीं, जाँच की माँग

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि लीबिया में हाल के दिनों में सामूहिक क़ब्रें मिलने से उन्हें गहरा आघात पहुँचा है. ये क़ब्रें उन इलाक़ों में मिली हैं जो कुछ समय पहले तक विरोधी गुट के जनरल ख़लीफ़ा हफ़्तार के नेतृत्व वाली कथित लीबियन नेशनल आर्मी के क़ब्ज़े में थे.

डीआरसी: यूनीसेफ़ द्वारा बाल हत्याओं की कड़ी निन्दा

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य (डीआरसी) के पूर्वोत्तर क्षेत्र में हुए एक हमले की कड़ी निन्दा की है जिसमें 16 लोग मारे गए हैं, इनमें 15 वर्ष से कम उम्र की पाँच लड़कियाँ भी हैं.

कोविड-19: महामारी की चुनौती के बावजूद शान्ति व सुरक्षा के अनवरत प्रयास

अफ़्रीका और मध्य पूर्व में संयुक्त राष्ट्र के तीन मिशनों के सैन्य प्रमुखों ने गुरुवार को सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए बताया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के दौरान यूएन मिशन की ज़िम्मेदारियों को पूरा करने के साथ-साथ शान्तिरक्षकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा का भी ध्यान रखने के प्रयास किए जा रहे हैं.
 

शान्तिरक्षा अभियानों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने का आहवान

‘अन्तरराष्ट्रीय यूएन शान्तिरक्षक दिवस’ के अवसर पर संयुक्त राष्ट्र के उन सभी शान्तिरक्षकों को सम्मान के साथ याद किया जा रहा है जिन्होंने वर्ष 1948 से विश्व शान्ति व सुरक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है. इस वर्ष यूएन शान्तिरक्षक दिवस पर शान्तिरक्षा अभियानों में महिलाओं के महत्वपूर्ण योगदान को रेखांकित करते हुए उनकी भागीदारी बढ़ाने पर ज़ोर दिया जा रहा है.

कोविड-19: हिन्साग्रस्त क्षेत्रों में आम लोगों के समक्ष एक नया ख़तरा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए कहा कि हिन्सा में फँसे मासूम लोगों के सामने कोविड-19 के रूप में अब एक नया और घातक ख़तरा पैदा हो गया है. उन्होंने चेतावनी जारी करते हुए बताया कि कोरोनावायरस विश्व में पहले से मौजूद भंगुरताओं को और भी गम्भीर बना रहा है.  यूएन प्रमुख ने हिन्सक संघर्षों में आम नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक योजना भी पेश की है.

कोविड-19: क़ानून-व्यवस्था और सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए प्रयासरत है यूएन पुलिस

सशस्त्र सन्घर्ष से प्रभावित कई देशों में संयुक्त राष्ट्र क़ानून-व्यवस्था से जुड़े मुद्दों पर सहायता प्रदान करता है और इनमें पुलिस बल भी शामिल हैं. वैश्विक महामारी कोविड-19 के दौरान यूएन के पुलिस अधिकारियों के काम में जिस तरह चुनौतियाँ पेश आई हैं वैसा पहले कभी नहीं देखा गया. यूएन न्यूज़ के साथ एक इन्टरव्यू में यूएन की पुलिस डिविज़न के प्रमुख लुइस कैरिल्हो ने बताया कि कोरोनावायरस की वजह से शान्ति बनाए के उनके सहकर्मियों के प्रयास किस तरह प्रभावित हुए हैं.

ब्राज़ील और भारत की महिला शान्तिरक्षकों को साझा रूप से पुरस्कार

लैंगिक समानता पर उत्कृष्ट कार्य के लिए भारतीय और ब्राज़ीलियाई महिला शान्तिरक्षकों को वर्ष 2019 के लिए संयुक्त रूप से 'यूएन मिलिट्री जैन्डर एडवोकेट ऑफ़ द ईयर' अवॉर्ड से सम्मानित किए जाने की घोषणा की गई है. ब्राज़ील की नौसैनिक अधिकारी कमान्डर कार्ला मोन्तिएरो डे कास्त्रो अराउजो मध्य अफ़्रीका गणराज्य में यूएन मिशन (MINUSCA) में कार्यरत हैं और भारतीय सेना में मेजर सुमन गवानी दक्षिण सूडान के यूएन मिशन (UNMISS) में सैन्य पर्यवेक्षक के तौर पर ज़िम्मेदारी संभाल चुकी हैं.