शांति और सुरक्षा

संघर्ष के दौरान और उसके बाद महिला अधिकारों की रक्षा ज़रूरी

लड़ाई के दौरान यौन हिंसा से अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा पर पड़ने वाले असर के विनाशकारी प्रभावों को समझने में हाल के दशक में बड़ा बदलाव आया है. सुरक्षा परिषद में मंगलवार को इस मुद्दे पर उच्चस्तरीय चर्चा के दौरान संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा कि यौन हिंसा और ऐसे अपराधों की तत्काल रोकथाम होनी चाहिए और दंडमुक्ति की संस्कृति को हटा कर दोषियों की जवाबदेही तय होनी ज़रूरी है.

श्रीलंका में आतंकी बम धमाकों की कड़ी निंदा

श्रीलंका में ईस्टर के त्योहार पर समारोहों के दौरान सिलसिलेवार बम धमाके हुए हैं जिनमें 200 से ज़्यादा लोगों की मौत हुई है और सैकड़ों घायल हुए हैं. इन बम धमाकों में गिरजाघरों और होटलों को निशाना बनाया गया. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने आतंकी हमलों पर क्षोभ जताते हुए कहा है कि दोषियों को तत्काल सज़ा मिलनी चाहिए.

सूडान में सत्ता परिवर्तन के बाद दार्फ़ूर में हिंसा बढ़ी

सूडान की राजधानी खार्तूम में पिछले सप्ताह सेना द्वारा सत्ता संभालने के बाद दार्फ़ूर प्रांत में सुरक्षा की स्थिति बदतर हुई है लेकिन वहां बढ़ती हिंसा के बीच यूएन शांतिरक्षा मिशन सतर्कता बनाए हुए है. दार्फ़ूर में यूएन और अफ़्रीकी संघ के साझा मिशन (UNAMID) के संयुक्त विशेष प्रतिनिधि जेरेमियाह मामाबोलो ने सुरक्षा परिषद को यह जानकारी दी है.

लीबिया में भारी गोलाबारी की 'भयावह रात'

लीबिया की राजधानी त्रिपोली और आस-पास के इलाक़ों में विरोधी गुटों के बीच झड़पें लगातार जारी हैं जिनसे रिहायशी इलाक़े भी अछूते नहीं हैं. मंगलवार को साढ़े चार हज़ार से ज़्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा और संकट फिर शुरू होने के बाद पहली बार इतनी बड़ी संख्या में लोग  विस्थापन का शिकार हुए हैं. यूएन के विशेष प्रतिनिधि घसन सलामे ने इसे एक भयावह रात करार दिया है. 

तालिबानी हमलों से 'स्थायी शांति' के लिए प्रयासों को झटका

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान चरमपंथियों की उस घोषणा की निंदा की है जिसमें वसंत के मौसम में हमले फिर शुरू करने की धमकी दी गई है. सुरक्षा परिषद के मुताबिक़ ये हमले अफ़ग़ानिस्तान की जनता के लिए अनावश्यक पीड़ा और तबाही लेकर आएंगे. अफ़ग़ानिस्तान में हिंसा के बीच शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए प्रयास भी हो रहे हैं.

यमन: हुदायदाह से सैनिक हटाने की योजना को मिली मंज़ूरी

यमन के मुख्य बंदरगाह शहर हुदायदाह और आस-पास के मोर्चों से सरकारी सुरक्षा बलों और हुती लड़ाकों को वापस बुलाने की योजना को दोनों पक्षों ने अपनी स्वीकृति दे दी है. यमन के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने सुरक्षा परिषद को सचेत किया कि देश के अन्य हिस्सों में फ़िलहाल हिंसा में कमी आती दिखाई नहीं दे रही है. 

'शांतिरक्षा अभियानों के केंद्र' में महिलाओं को रखना है लक्ष्य

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि शांतिरक्षा अभियानों के केंद्र में महिला अधिकारों, आवाज़ों और भागीदारी को सुनिश्चित करने के लिए और प्रयास किए जाने होंगे. सुरक्षा परिषद में इस विषय पर चर्चा में उन्होंने स्पष्ट किया कि महिला शांतिरक्षकों के होने से दायित्वों को प्रभावी ढंग से पूरा करने में मदद मिलती है. 

लीबिया में तेज़ होती हिंसा के बीच हज़ारों का पलायन

लीबिया की राजधानी त्रिपोली और आस-पास के इलाक़ों में लड़ाई भड़कने से 3,400 से ज़्यादा लोग अपने घर छोड़ने को मजबूर हुए हैं. संयुक्त राष्ट्र ने सभी पक्षों से हिंसा रोकने और लड़ाई में फंसे आम नागरिकों तक मदद पहुंचाने का रास्ता खुला रखने की अपील की है. 

'गहरी चिंता और भारी मन' से लीबिया में टकराव टालने की अपील

लीबिया से रवाना होते समय संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने आशा जताई है कि त्रिपोली और आस-पास के इलाक़े मे ंख़ूनी टकराव को टाला जा सकेगा. लीबिया की मौजूदा अंतरिम सरकार के सुरक्षा बलों और कमांडर ख़लीफ़ा हफ्तार की वफादार लीबियन नेशनल आर्मी में झड़पों की आशंका बढ़ गई है. 

लीबिया में सैन्य गतिविधियों ने बढ़ाई चिंता

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने लीबिया के पूर्वी हिस्से में तैनात सैन्य बलों के राजधानी त्रिपोली की ओर बढ़ने पर गहरी चिंता जताई है. लीबिया का दौरा कर रहे यूएन प्रमुख ने कहा कि देश में शांति और स्थिरता कायम करना आवश्यक है लेकिन इसका सैन्य ढंग से समाधान नहीं तलाशा जा सकता.