शांति और सुरक्षा

लीबिया में शान्ति की दिशा में ठोस प्रगति, महिलाओं की भूमिका अहम

 लीबिया, दशकों की राजनैतिक अस्थिरता और हिंसक संघर्ष के बाद शान्ति पथ की ओर क़दम बढ़ा रहा है और इस प्रक्रिया में अन्तरराष्ट्रीय समुदाय को अपनी भूमिका निभानी होगी. लीबिया में यूएन महासचिव की कार्यवाहक विशेष प्रतिनिधि स्टेफ़नी विलियम्स ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास इन्टरव्यू में ने राष्ट्रीय सहमति वाली सरकार और लीबियाई नेशनल आर्मी के बीच हाल ही में ट्यूनीशिया में हुई पहले दौर की वार्ता की सराहना की है. 

लीबिया: सुरक्षित व समृद्ध भविष्य की ओर अग्रसर, मगर चुनौतियाँ बरक़रार

लीबिया में संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष अधिकारी ने गुरुवार को सुरक्षा परिषद को देश में मौजूदा हालात से अवगत कराते हुए कहा है कि वर्षों की राजनैतिक अस्थिरता और हिंसक संघर्ष के बाद देश शान्ति पथ पर ठोस प्रगति की ओर अग्रसर है.

कोविड-19: बढ़ते संक्रमण के बीच इसराइल-फ़लस्तीन के बीच तालमेल का स्वागत 

मध्य पूर्व में कोरोनावायरस संक्रमण के मामलों में कई सप्ताहों तक दर्ज हुई गिरावट के बाद वैश्विक महामारी के मामले एक बार फिर बढ़ रहे हैं. मध्य क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारी निकोलाय म्लादैनॉफ़ ने मौजूदा हालात के मद्देनज़र इसराइल के साथ समन्वय फिर शुरू करने के फ़लस्तीनी प्राधिकरण के निर्णय का स्वागत किया है. 

लीबिया: राष्ट्रीय चुनाव दिसम्बर 2021 में कराए जाने की घोषणा

लीबिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNSMIL) की प्रमुख स्टेफ़नी विलियम्स ने देश में राष्ट्रीय चुनाव 24 दिसम्बर 2021 को कराए जाने की बात कही है. उन्होंने ट्यूनीशिया की राजधानी ट्यूनिस में बातचीत शुरू होने के एक सप्ताह बाद एक वर्चुअल प्रैस वार्ता के दौरान चुनाव सम्बन्धी घोषणा की है. 

यमन: अकाल की आशंका के बीच व्यापक राजनैतिक समाधान की अपील

यमन में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने स्थानीय लोगों की व्यथा पर ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा है कि उनकी पीड़ाओं को दूर करने के लिये शान्ति प्रयासों में पूरी ऊर्जा झोंके जाने की ज़रूरत है. यूएन दूत ने बुधवार को वीडियो लिन्क के ज़रिये सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए हिंसा रोकने, देश को खोलने और समावेशी राजनैतिक समाधान की तलाश तेज़ करने की पुकार लगाई है.

मोज़ाम्बीक़: यूएन महासचिव ने बर्बरतापूर्ण हत्याओं पर जताया शोक

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने मोज़ाम्बीक़ में स्थानीय प्रशासन से हाल के दिनों में क्रूर हत्याओं की घटना की जाँच कराने और दोषियों की जवाबदेही तय किये जाने का आग्रह किया है. ये हत्याएँ देश के उत्तरी काबो डेलगाडो प्रान्त में हुई हैं जहाँ हथियारबन्द गुटों ने लगभग 50 लोगों की सिर धड़ से अलग कर हत्या कर दी है. 

लीबिया: आईसीसी अभियोजक की युद्धविराम समझौते को लागू किये जाने की पुकार

अन्तरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (ICC) की मुख्य अभियोजक फ़तू बेन्सूडा ने लीबिया में युद्धरत पक्षों से उस ऐतिहासिक युद्वविराम समझौते को लागू करने का आग्रह किया है जिस पर हाल ही मे सहमति बनी है. आईसीसी अभियोजक ने कहा है कि शान्ति की प्रतीक्षा कर रही लीबियाई जनता के लिये यह समझौता एक ठोस प्रगति को दर्शाता है और स्वागत-योग्य है. 

ज़ैतून के ‘फ़लस्तीनी किसानों की हिंसा से रक्षा करने की ज़रूरत'

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों व अन्य अन्तरराष्ट्रीय ग़ैर-सरकारी संगठनों ने इसराइल से ज़ैतून की पारम्परिक खेती में लगे फ़लस्तीनी किसानों की हिंसा से हिफ़ाज़त सुनिश्चित करने का आग्रह किया है. पश्चिमी तट में फ़लस्तीनी किसानों का अपने ज़ैतून बाग़ों तक पहुँच होना उनकी आजीविका के लिये अहम है लेकिन सख़्त पाबन्दियों और इसराइली बस्तियों में रह रहे बाशिन्दों द्वारा फ़लस्तीनी किसानों पर कथित हमलों के कारण हालात चुनौतीपूर्ण हो गए हैं. 

प्राकृतिक पर्यावरण को उठाना पड़ता है युद्ध का ख़ामियाज़ा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने प्राकृतिक संसाधनों और पारिस्थितिकी तन्त्र का बेहतर प्रबन्धन किये जाने का आहवान करते हुए ध्यान दिलाया है कि ऐसा करने से युद्धग्रस्त समाजों में शान्ति स्थापना करने और संकट प्रभावित देशों में टिकाऊ विकास में जान फूँकने का रास्ता निकल सकता है.

बोसनिया हरज़ेगोविना: कुछ राजनेता अब भी 'मूल योरोपीय मूल्यों' की अनदेखी कर रहे हैं

बोसनिया हरज़ेगोविना के लिये अन्तरराष्ट्रीय समुदाय के एक उच्च प्रतिनिधि ने सुरक्षा परिषद को बताया है कि 25 वर्ष पहले इसी महीने एक शान्ति समझौते पर हस्ताक्षर किये जाने के बाद वहाँ ख़ासी प्रगति दर्ज की गई है, लेकिन अब भी कुछ राजनेता मूल योरोपीय मूल्यों की अनदेखी करते हैं, और यहाँ तक कि युद्धापराधियों का महिमामण्डन भी करते हैं.