कानून और अपराध की रोकथाम

भ्रष्टाचार और कर चोरी क़ाबू से बाहर, तत्काल सुधारों की दरकार – यूएन आयोग 

संयुक्त राष्ट्र के एक उच्चस्तरीय पैनल ने कहा है कि वैश्विक वित्तीय प्रणाली इस समय मौजूदा कर व्यवस्था के ग़लत इस्तेमाल, अवैध वित्तीय लेनदेन, काला धन सफ़ेद किये जाने और भ्रष्टाचार जैसी समस्याओं की जकड़ में है. उच्चस्तरीय पैनल ने गुरूवार को अपनी अन्तरिम रिपोर्ट पेश करते हुए वर्ष 2030 तक टिकाऊ विकास लक्ष्य हासिल करने के लिये तात्कालिक सुधारों की आवश्यकता को रेखांकित किया है. 

'स्वर्णिम त्रिकोण' इलाक़े में ड्रग तस्करी से टक्कर: ब्लॉग

गोल्डन ट्रायंगल यानि स्वर्णिम त्रिकोण क्षेत्र में काफ़ी लम्बे समय से ड्रग ट्रैफ़िकिंग यानि नशीले पदार्थों की तस्करी से एक समस्या रही है. स्वर्णिम त्रिकोण इलाक़ा उस क्षेत्र को कहा जाता है जो थाईलैण्ड के चियाँग राय प्रान्त और म्याँमार व लाओस से मिलता है. थाईलैण्ड में संयुक्त राष्ट्र की रैज़िडैण्ट कोऑर्डिनेटर (आरसी) गीता सभरवाल और यूएनओडीसी के दक्षिण-पूर्व एशिया व प्रशान्त के लिये प्रतिनिधि जेरेमी डगलस के इस ब्लॉग में, इस पर कुछ प्रकाश डाला गया है कि संयुक्त राष्ट्र और थाईलैण्ड सरकार ड्रग ट्रैफ़िकिंग की समस्या से निपटने के लिये किस तरह मिलजुलकर काम कर रहे हैं...

सीरिया: आमजन पर ज़ुल्म ढाने में सभी पक्ष हैं शामिल, जाँच आयोग की रिपोर्ट


सीरिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के जाँच आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च 2020 में युद्धविराम लागू होने के बाद से बड़े पैमाने वाली युद्धक गतिविधियों में तो कुछ कमी आई है, मगर अब भी सशस्त्र गुट आम लोगों पर बहुत ज़ुल्म ढा रहे हैं, और जानबूझकर व सोचसमझकर लोगों के मानवाधिकारों का उल्लंघन किया जा रहा है. 

पत्रकारिता पर जोखिम: पत्रकारों पर बढ़ते हमलों के बारे में ख़तरे की घण्टी

यूएन सांस्कृतिक एजेंसी – यूनेस्को ने कहा है कि वर्ष 2020 में पत्रकारों पर बल प्रयोग बहुत तेज़ी से बढ़ा है और इस वर्ष दुनिया भर में 21 ऐसे प्रदर्शन हुए जिनमें सरकारी सुरक्षा बलों ने पत्रकारों के अधिकारों का उल्लंघन किया.

पाकिस्तान: मानवाधिकार कार्यकर्ता इदरीस खटक की गुमशुदगी ख़त्म करने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र के स्वतन्त्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने पाकिस्तान सरकार से एक मानवाधिकार कार्यकर्ता इदरीस खटक का ख़ुफ़िया बन्दीकरण ख़त्म करने का आहवान किया है. लगभग नौ महीनों से अभी तक इदरीस ख़टक की कोई ख़बर नहीं है.

आईसीसी अधिकारियों पर अमेरिकी पाबन्दियाँ - यूएन की चिन्ताजनक नज़र

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अमेरिका के उस फ़ैसले पर चिन्ता जताई है जिसमें अन्तरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (ICC) की मुख्य अभियोजक और एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी पर पाबन्दियाँ लगाने की घोषणा की गई है. यूएन प्रमुख के प्रवक्ता ने बुधवार को बताया कि मौजूदा घटनाक्रम पर नज़र रखी जा रही है. ग़ौरतलब है कि द हेग शहर में स्थित अन्तरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (आईसीसी) अफ़ग़ानिस्तान में अमेरिकी सैनिकों द्वारा कथित युद्धापराधों की जाँच की तैयारी कर रहा है जिस पर अमेरिका ने विरोध जताया है. 

आतंकवादी गुट कोविड-19 की स्थिति को भुनाने की कोशिश में

संयुक्त राष्ट्र के आतंकवाद निरोधक मामलों के अधिकारी ने सोमवार को कहा है कि इराक़ और आसपास के इलाक़ों में सक्रिय आतंकवादी संगठन दाएश व इसी तरह के अन्य गुट कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति को अपने फ़ायदों के लिये भुनाने की कोशिश कर रहे हैं. अन्तरारष्ट्रीय समुदाय को इस चुनौती का सामना करने के लेय और ज़्यादा सामूहिक कार्रवाई व सहयोग से मुक़ाबला करने की ज़रूरत है.

आतंकवाद और संगठित अपराध के तार जुड़े - वैश्विक कार्रवाई की दरकार

सुरक्षा परिषद में आतंकवाद और संगठित अपराध के बीच की कड़ियों पर गुरुवार को चर्चा हुई जिसमें विशेषज्ञों ने चिन्ता जताई कि आपराधिक व आतंकी गुटों में अवसरवादी सहयोग बढ़ रहा है, और वैश्विक महामारी कोविड-19 से उपडी व्यवस्थागत कमज़ोरियों का फ़ायदा उठाने की कोशिश की जा रही है. विशेषज्ञों ने इस चुनौती से निपटने के लिये अन्तरराष्ट्रीय सन्धियों व क़ानूनी औज़ारों के असरदार उपयोग की अहमियत को रेखांकित किया है.

नेपाल: मानव तस्करी पर अंकुश लगाने की दिशा में अहम क़दम 

नेपाल में हर वर्ष हज़ारों लोग मानव तस्करों के चंगुल में फँस कर यौन शोषण, जबरन मज़दूरी और शारीरिक अंगों की चोरी का शिकार बनते हैं. इस चुनौती से निपटने के प्रयासों के तहत नेपाल ने संयुक्त राष्ट्र के प्रोटोकॉल पर मुहर लगाई है जिसके लागू होने के बाद शोषण के सभी रूपों की शिनाख़्त करने, पीड़ितों को ज़रूरी सहायता प्रदान करने और दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई किये जाने की उम्मीदें जागी हैं. 

वन्यजीव अपराधों से पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य को बढ़ता ख़तरा

मादक पदार्थों एवँ अपराध पर संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (UNODC) ने शुक्रवार को एक नई रिपोर्ट जारी की है जिसमें वन्यजीवों की तस्करी से प्रकृति, जैवविविधिता के साथ-साथ मानव स्वास्थ्य के लिये बढ़ते ख़तरे के प्रति आगाह किया गया है. अध्ययन के मुताबिक वन्यजीवों की तस्करी के लिए अब डिजिटल साधनों का भी सहारा लिया जा रहा है.