मानवाधिकार

नफ़रत की सूनामी से तत्काल निपटना होगा: यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने नफ़रत और असहिष्णुता को एक ऐसा दैत्य बताया है जिसके कई सिर हैं और जिसमें से नफ़रत और हिंसा भरी सूनामी लहरें उफ़ान पर हैं. डिजिटल माध्यमों पर कट्टरता और नफ़रत के प्रसार पर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि इससे लोकतांत्रिक मूल्यों और सामाजिक स्थिरता को ख़तरा पैदा हो रहा है.

महिलाओं की स्थिति: परिवारों में ही है बदलाव की बुनियाद

महिलाओं की अधिकारों की स्थिति में हाल के दशकों के दौरान अलबत्ता काफ़ी सुधार देखा गया है लेकिन पुरुषों और महिलाओं के बीच असमानता (लिंग भेद) और परिवारो में ही महिलाओं के अन्य बुनियादी अधिकारों के उल्लंघन के गंभीर मामले अब भी सामने आते हैं.

म्यांमार में इंटरनेट पर लगी पाबंदी को तत्काल हटाने की अपील

म्यांमार के कुछ इलाक़ों में मीडिया की पहुंच नहीं होने और मानवाधिकार संगठनों पर गंभीर पाबंदियां लगाए जाने की ख़बरें मिली हैं. इसके बाद संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत यैंगही ली ने म्यांमार सरकार से अपना फ़ैसला बदलने और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल करने का अनुरोध किया है.

चरमपंथियों के परिवारों को देशविहीन नहीं छोड़ा जा सकता - मिशेल बाचेलेट

चरमपंथी संगठन आइसिल यानी दाएश के जिन संदिग्ध हज़ारों विदेशी लड़ाकों को सीरिया और इराक़ में बंदीगृहों में रखा गया है, उनके साथ मानवीय बर्ताव किए जाने और उनके मूल देशों को सौंपे जाने का आग्रह किया गया है. संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बेशेलेट ने सोमवार को मानवाधिकार परिषद का 41वाँ वार्षिक सत्र शुरू होने के अवसर पर ये आहवान किया.

विधवाओं को क़तई बेसहारा नहीं छोड़ा जा सकता

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस के अवसर पर कहा है कि विधवाओं के नाज़ुक हालात के बारे में सभी को संवेदनशील तरीक़े से सोचना होगा और सुनिश्चित करना होगा कि उनकी आर्थिक व भावनात्मक मुश्किलें कहीं उनके लिए और ज़्यादा मुश्किलें ना पैदा कर दें. अंतरराषट्रीय विधवा दिवस हर वर्ष 23 जून को मनाया जाता है. इस मौक़े पर महासचिव ने सभी का आहवान करते हुए कहा कि ये सभी इंसानों की ज़िम्मेदारी है कि विधवाएं कहीं अकेली और बेसहारा ना रह जाएँ और उन्हें पीछे ना छोड़ दिया जाए.

कार्यस्थलों पर हिंसा और उत्पीड़न पर रोक लगाने वाला ऐतिहासिक समझौता पारित

कार्यस्थल पर कर्मचारियों के साथ हिंसा और उत्पीड़न पर पाबंदी लगाने के लिए एक महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय समझौता पारित हो गया है. जिनीवा में अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के शताब्दी सम्मेलन के दौरान इस समझौते की घोषणा हुई जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सदस्य देशों और अन्य हिस्सेदारों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है.

खशोगी हत्या मामले में सघन जाँच की माँग

संयुक्त राष्ट्र द्वारा नियुक्त एक स्वतंत्र मानवाधिकार जाँचकर्ता ने कहा है कि सऊदी अरब मूल के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की ज़िम्मेदारी देश के सत्तारूढ़ शाही परिवार के उच्चस्तरीय अधिकारियों पर है.

स्वतंत्र मानवाधिकार जाँचकर्ता ने हत्या के इस अपराध में सऊदी अरब सरकार की ज़िम्मेदारी ठहराने का आहवान किया है.

'नफ़रत को नोटिस मिल चुका है' - निपटने के लिए नई रणनीति

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने नफ़रत फैलाने वाले संदेशों और भाषणों यानी हेट स्पीच पर धावा बोलते हुए सदस्य देशों का आहवान किया है कि सभी को बहुत ज़्यादा मुस्तैदी से काम लेना होगा. मंगलवार को हेट स्पीच पर संयुक्त राष्ट्र की रणनीति और कार्य योजना शुरू करते हुए उन्होंने कहा, “हेट स्पीच को अपने पैर जमाने के लिए कुछ ज़मीन मिल गई है मगर इसे अब नोटिस भी मिल चुका है.”

वृद्धों पर यौन हमले सभ्य समाजों के माथे पर कलंक

वृद्धावस्था में अक्सर लोगों के साथ ख़राब बर्ताव होने के मामले तो पूरी दुनिया में सामने आते हैं मगर उनका यौन शोषण होने के मामले होते तो हैं लेकिन उनका अक्सर पता नहीं चलता. वृद्ध लोगों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए शनिवार, 15 जून को विश्व दिवस (World Elder Abuse Awareness Day) मनाया जा रहा है.

सूडान में प्रदर्शनकारियों के साथ बलात्कार की रिपोर्टों पर चिंता

हिंसा और संघर्ष के दौरान यौन हिंसा पर संयुक्त राष्ट्र की विशेष प्रतिनिधि प्रमिला पैटन ने सूडान की राजधानी खार्तूम में लोकतंत्र के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों के विरुद्ध सुरक्षा बलों की कार्रवाई और बलात्कार की रिपोर्टों पर गहरी चिंता जताई है. उन्होंने सैन्य मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों के ख़िलाफ़ हिंसा को तत्काल रोके जाने का आग्रह किया है.