मानवाधिकार

अफ़ग़ानिस्तान: तालेबान से, निर्बलों की रक्षा किये जाने के 'वादे का सम्मान' करने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने कहा है कि तालेबान ने अफ़ग़ानिस्तान में पूर्व सरकारी कर्मचारियों को आम माफ़ी दिये जाने, महिलाओं को काम करने की इजाज़त देने और लड़कियों को शिक्षा हासिल करने के लिये स्कूल जाने देने की बात कही है, मगर इन वादों का सम्मान किया जाना होगा. 

अफ़ग़ानिस्तान: दो वर्षों में साढ़े पाँच हज़ार से ज़्यादा बच्चे हुए हताहत

'बच्चे और सशस्त्र संघर्ष' के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट दर्शाती है कि अफ़ग़ानिस्तान में पिछले दो वर्षों के दौरान, हज़ारों लड़के-लड़कियाँ हताहत हुए हैं. यह रिपोर्ट सोमवार को ऐसे समय में जारी की गई है जब एक ही दिन पहले तालेबान ने देश में फिर से अपना प्रभुत्व स्थापित किया है. 

अफ़ग़ानिस्तान: सभी से अधिकतम संयम बरतने की पुकार, सुरक्षा परिषद की विशेष बैठक

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने अफ़ग़ानिस्तान में निरन्तर गहराते संकट के बीच तालेबान और अन्य पक्षों से आम लोगों की रक्षा के लिये, अधिकतम संयम बरते जाने और मानवीय सहायता सुनिश्चित किये जाने का आग्रह किया है. इस बीच अफ़ग़ानिस्तान की ताज़ा स्थिति पर विचार-विमर्श के लिये, सोमवार को, सुरक्षा परिषद की एक विशेष बैठक हो रही है जिस यूएन प्रमुख भी सम्बोधित करेंगे.

अफ़ग़ानिस्तान: तालेबान से हमले तुरन्त रोकने और बातचीत में शामिल होने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अफ़ग़ानिस्तान में तालेबान से, वहाँ की सरकारी सेनाओं के ख़िलाफ़ चलाए जा रहे आक्रामक अभियान को, देश के हित की ख़ातिर तुरन्त रोक देने और सद्इच्छा के साथ, बातचीत की मेज़ पर लौटने का आहवान किया है.

अफ़ग़ानिस्तान में, सघन होते संकटों में, मानवीय त्रासदी के चिन्ह

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी  (UNHCR) ने शुक्रवार को कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान एक ऐसे रास्ते पर है जहाँ किसी एक वर्ष के दौरान, सबसे ज़्यादा आम लोगों के हताहत होने के मामले सामने आ सकते हैं. यूएन एजेंसियों ने देश में, मौजूदा हालात और तेज़ी से बढ़ते संकटों में, एक मानवीय त्रासदी के लक्षण नज़र आने की आशंका भी व्यक्त की है.

जासूसी सॉफ़्टवेयर प्रकरण: निगरानी टैक्नॉलॉजी की बिक्री पर स्वैच्छिक रोक की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों के एक समूह ने सभी देशों से निगरानी टैक्नॉल़ॉजी की बिक्री व हस्तांतरण पर स्वैच्छिक रोक लगाये जाने का आहवान किया है. उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय मानवाधिकार मानकों के अनुरूप सुदृढ़ नियामन लागू होने तक इन टैक्नॉलॉजी के इस्तेमाल को रोका जाना होगा. 

'फ़लस्तीनी मानवाधिकार पैरोकारों की गिरफ़्तारियाँ, व्यापक दमन का हिस्सा'

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की स्थित पर, संयुक्त राष्ट्र की विशेष रैपोर्टेयर मैरी लॉलोर ने बुधवार को कहा है कि इसराइल को, अपने क़ब्ज़े वाले फ़लस्तीनी क्षेत्रों और अपनी सीमाओं के भीतर, मानवाधिकार पैरोकारों की सुरक्षा का पुख़्ता इन्तज़ाम करना होगा.

उत्तरी आयरलैण्ड: मानवाधिकार हनन मामलों में ‘प्रस्तावित दण्डमुक्ति चिन्ताजनक’

संयुक्त राष्ट्र के दो स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने ब्रिटेन की उस योजना पर गम्भीर चिन्ता जताई है, जिसमें उत्तरी आयरलैण्ड में 30 वर्षों तक चले हिंसक संघर्ष के दौरान, घटित मानवाधिकार हनन के गम्भीर मामलों पर अभियोजन कार्रवाई समाप्त करने की बात कही गई है.

अफ़ग़ानिस्तान: स्थानीय आबादी के लिये विनाशकारी नतीजों की आशंका, कार्रवाई की पुकार

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने आगाह किया है कि अफ़ग़ानिस्तान में हिंसा, मानवाधिकार उल्लंघन व दुर्व्यवहारों के बढ़ते मामलों का स्थानीय लोगों पर त्रासदीपूर्ण असर हो रहा है. उन्होंने देश में मौजूदा घटनाक्रम और हिंसा के विनाशकारी नतीजों को टालने के लिये तत्काल कार्रवाई किये जाने का आग्रह किया है. 

अफ़ग़ानिस्तान में बाल अधिकार हनन के मामलों में ‘स्तब्धकारी तेज़ी’

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने अफ़ग़ानिस्तान में बच्चों के अधिकार हनन के गम्भीर मामलों में आई तेज़ी पर स्तब्धता जताई है. ख़बरों के अनुसार देश में पिछले 72 घण्टों में 27 बच्चों की मौत हुई है और 136 घायल हुए हैं.