मानवाधिकार

केवल 6% कर्मचारियों को हासिल हैं, सामाजिक सुरक्षा लाभ

अन्तरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) की एक नई रिपोर्ट दर्शाती है कि विश्व भर में केवल छह प्रतिशत घरेलू कर्मचारियों को ही, व्यापक तौर पर, चिकित्सा देखभाल, बेरोज़गारी भत्ता, मातृत्व अवकाश समेत अन्य सामाजिक संरक्षा लाभों तक पहुँच है.

अफ़ग़ानिस्तान: एक पीढ़ी में 'सबसे कठिन पल' से गुज़रता देश

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने मानवाधिकार परिषद को अफ़ग़ानिस्तान में मौजूदा हालात से अवगत कराते हुए बताया है कि स्थानीय आबादी, एक पीढ़ी में "सबसे बुरे क्षणों" से गुज़र रही हैं.

यूक्रेन: युद्धग्रस्त क्षेत्रों से ‘अनाथ बच्चों को गोद लेने के लिये’ रूस ले जाए जाने पर चिन्ता

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने यूक्रेन के युद्धग्रस्त पूर्वी क्षेत्रों से बच्चों को देश-निकाला देकर, जबरन रूस ले जाए जाने और वहाँ उन्हें गोद लिये जाने की प्रक्रिया शुरू किये जाने की ख़बरों पर चिन्ता जताई है.

विकलांगता कन्वेन्शन: 'समावेशी, सुलभ और टिकाऊ दुनिया' के निर्माण को समर्थन

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने विकलांगजन के अधिकारों पर कन्वेन्शन के लिये सम्बद्ध पक्षों के 15वें सम्मेलन के दौरान मंगलवार को कहा कि विकलांगजन के "व्यवस्थागत रूप में हाशिये पर धकेले जाने" को समाप्त करने के लिये हमारे पास उपयुक्त उपाय मौजूद हैं. 

म्याँमार: मानवाधिकार हनन व उत्पीड़न का चक्र जारी, बाशेलेट की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बाशेलेट ने मंगलवार को कहा है कि म्याँमार के लोग, फ़रवरी 2021 में हुए सैन्य तख़्तापलट के विनाशकारी प्रभावों से अब भी पीड़ित हैं और निर्धनता व विस्थापन, मानवाधिकार हनन और उत्पीड़न के चक्र में फँस गए हैं.

'म्याँमार का बहुकोणीय संकट नाटकीय रूप में गहराया और फैला है'

म्याँमार के लिये संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत नोएलीन हेयज़र ने सोमवार को यूएन महासभा में बताया है कि देश में फ़रवरी 2021 में सैन्य तख़्तापलट के बाद शुरू हुए राजनैतिक संकट ने, ऐसे अनेक मोर्चे खोल दिये हैं जहाँ लम्बे समय से शान्ति क़ायम थी, और देश में चुनौतियाँ ज़्यादा गहरी होने के साथ-साथ, उनका दायरा भी नाटकीय तरीक़े से फैला है.

ब्रिटेन-रवाण्डा शरणार्थी क़रार ग़लत है, यूएन शरणार्थी उच्चायुक्त

संयुक्त राष्ट्र के शरणार्थी उच्चायुक्त फ़िलिपो ग्रैण्डी ने ब्रिटेन में पनाह चाहने वाले शरणार्थियों की अर्ज़ियों पर विचार किये जाने की प्रक्रिया को रवाण्डा स्थानान्तरित करने के प्रस्ताव को रद्द करते हुए, इस सम्बन्ध में दोनों देशों के बीच गत अप्रैल में हुए समझौते को एक त्रुटि क़रार दिया है.

‘यूक्रेन और बढ़ती वैश्विक असुरक्षा, हम सब के लिये परीक्षा’, मानवाधिकार प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने सोमवार को मानवाधिकार परिषद के 50वें सत्र के प्रारम्भ को सम्बोधित करते हुए कहा है कि यूक्रेन में युद्ध ने भीषण तबाही मचाना और बहुत से लोगों की ज़िन्दगियाँ तबाह करना जारी रखा हुआ है, और इस युद्ध के कारण उत्पन्न वैश्विक खाद्य, ईंधन व वित्तीय संकट को सीमित करना, हर एक इनसान की ज़िम्मेदारी है. 

2030 तक एड्स महामारी का अन्त करने के प्रयासों की गति बढ़ानी होगी

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश के कार्यालय प्रमुख (Chef de Cabinet) कोर्टेने रैटरे ने शुक्रवार को यूएन महासभा की एक बैठक में कहा है कि विश्व को, एड्स का ख़ात्मा करने, कोविड-19 का मुक़ाबला करने और भविष्य की महामारियों को होने से पहले ही रोकने के लिये, जीवनरक्षक स्वास्थ्य प्रोद्योगिकियों की सर्वसुलभता सुनिश्चित करनी होगी.

ब्राज़ील: लापता पत्रकार और कार्यकर्ता की तलाश बढ़ाने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय ने शुक्रवार को ब्राज़ील सरकार से, एक ब्रितानी पत्रकार और एक आदिवासी अधिकार कार्यकर्ता को ढूंढने के लिये प्रयास तेज़ करने का आग्रह किया है, जो लगभग एक सप्ताह पहले, अमेज़ॉन के एक दूरदराज़ वाले ख़तरनाक इलाक़े में लापता हो गए थे.