मानवाधिकार

कोविड-19: वैक्सीन टीका वितरण में 'विनाशकारी नैतिक विफलता' की चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा है कि कुछ देशों में कोविड-19 वैक्सीन को पहले केवल अपने जनसमूहों को दिये जाने की प्रवृत्ति से इन जीवनदायी उपचारों की न्यायसंगत सुलभता पर जोखिम खड़ा हो गया है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी प्रमुख घेबरेयेसस ने सोमवार को कार्यकारी बोर्ड को सम्बोधित करते हुए कहा कि वैक्सीन टीकों से आशा का संचार हुआ है, लेकिन ये स्थिति, दुनिया में साधन-सम्पन्न और वंचितों के बीच मौजूद विषमता की दीवार में एक और ईंट बन गया है. 

कोविड-19 से मृत्यु संख्या 20 लाख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि हमारी दुनिया एक हृदय विदारक पड़ाव पर पहुँच गई है: कोविड19 महामारी ने अब 20 लाख ज़िन्दगियाँ ख़त्म कर दी हैं.इस दहला देने वाली संख्या के पीछे नाम और चेहरे हैं: एक ऐसी मुस्कान, जो अब केवल यादें बनकर रह गई है, खाने की मेज़ पर अब कोई कुर्सी हमेशा के लिये ख़ाली हो गई है, एक ऐसी जगह जहाँ प्रियजनों की ख़ामोशियाँ गूँजती हैं...

'न्यायसंगत टीकाकरण' से ज़िन्दगियों की रक्षा और स्वास्थ्य प्रणालियों को सहारा सम्भव

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोविड-19 महामारी से बचाव के लिये, अन्तरराष्ट्रीय वैक्सीन अलायन्स COVAX के तहत सुरक्षित और असरदार वैक्सीन की दो अरब खुराकों का इन्तज़ाम किया गया है, और जैसे ही वे तैयार होंगी उनका वितरण सुनिश्चित किया जाएगा. स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने शुक्रवार को इस आशय की जानकारी देते हुए कहा कि न्यायोचित टीकाकरण से लोगों की ज़िन्दगियाँ बचाने और स्वास्थ्य प्रणालियों को स्थायित्व प्रदान करने में मदद मिलेगी. 

हिंसक संघर्ष के दौरान नागरिक विमानों की सुरक्षा के लिये सुस्पष्ट मानकों की दरकार

संयुक्त राष्ट्र की स्वतन्त्र मानवाधिकार विशेषज्ञ एग्नेस कैलामार्ड ने कहा है कि हिंसा प्रभावित या सैन्य तनाव से ग्रस्त वायु क्षेत्र से गुज़रने वाले नागरिक विमानों की सुरक्षा के लिये तत्काल प्रयास किये जाने की ज़रूरत है.  न्यायेतर और मनमाने ढंग से मौत की सज़ा दिए जाने के मामलों पर विशेष रेपोर्टेयर एग्नेस कैलामार्ड ने अपनी यह अपील यूक्रेन इन्टरनेशनल एयरलाइन (UIA) की उड़ान पीएस752 के दुर्घटनाग्रस्त होने के एक साल पूरे होने पर जारी की है.

हाँगकाँग: कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारी पर चिन्ता, तत्काल रिहाई की माँग

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने चीन के हाँगकाँग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र में राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून के तहत, 50 से ज़्यादा लोगों की गिरफ़्तारी पर गहरी चिन्ता ज़ाहिर करते हुए उन्हें तत्काल रिहा किये जाने की माँग की है. यूएन कार्यालय ने स्थानीय प्रशासन से लोगों को शान्तिपूर्ण ढँग से एकत्र होने और अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार की गारण्टी देने का आग्रह किया है.

घर और समुद्र में फँसे समुद्री नाविकों के लिये एक ‘अनचाहा कारावास’

वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण यात्रा और आवाजाही सम्बन्धी पाबन्दियों के कारण लाखों समुद्री नाविकों को अनुमान से कहीं लम्बे समय तक जहाज़ों पर रहने के लिये मजबूर होना पड़ा. छह महीने पहले इस समस्या के पहली बार सामने आने के बाद बड़ी संख्या में समुद्री नाविक अब भी अनिश्चितता भरे हालात में रहने के लिये मजबूर हैं. 

पूर्वाग्रह, नस्लवाद और झूठ: आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस के अवान्छित नतीजों से निपटने की दरकार

वैश्विक महामारी कोविड-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई में आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस (एआई) का इस्तेमाल करने वाले ऐसे शक्तिशाली डिजिटल औज़ारों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिनमें दुनिया को बेहतर बनाने की सम्भावना है. लेकिन दैनिक जीवन में एआई की बढ़ती दखल से यह भी स्पष्ट हो रहा है कि इस टैक्नॉलॉजी के ग़लत इस्तेमाल से गम्भीर नुक़सान भी हो सकता है. इसी आशंका के मद्देनज़र संयुक्त राष्ट्र ने एआई के लिये एक मज़बूत अन्तरराष्ट्रीय नियामन की पुकार लगाई है. 
 

विश्व ब्रेल दिवस: सुलभ जानकारी की महत्ता पर ज़ोर

संयुक्त राष्ट्र ने, सोमवार, 4 जनवरी को, विश्व ब्रेल लिपि दिवस पर नेत्रविकारों वाले व्यक्तियों और आंशिक रूप से दृष्टिबाधित लोगों के मानवाधिकारों का पूर्ण सम्मान करने के वाली, वैश्विक स्पर्शनीय संचार प्रणाली की महत्ता पर विशेष ज़ोर दिया है.