मानवाधिकार

इराक़: प्रदर्शनकारियों की लगातार मौतों पर गहरी चिंता

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इराक़ में प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ गोली-बारूद इस्तेमाल किए जाने पर गंभीर चिंता जताई है. उन्होंने कहा कि इन कारणों से दक्षिणी शहर नसीरिया में हताहतों की संख्या बढ़ी है.

भोपाल त्रासदी: रसायन उद्योग जगत को ‘मानवाधिकारों का सम्मान करना होगा’

संयुक्त राष्ट्र के एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ने भारत में भोपाल गैस त्रासदी के 35 साल पूरे होने पर रसायन निर्माताओं से अपनी ज़िम्मेदारी समझने और मानवाधिकारों का सम्मान करने की अपील की है. यूएन के विशेष रैपोर्टेयर बास्कुट तुनचक ने कहा है स्वैच्छिक मानवाधिकार मानकों को अपनाने की प्रक्रिया में कमज़ोरियां नीहित हैं और इसलिए मज़बूत क़ानूनी विकल्पों की तत्काल आवश्यकता है.

गन्दगी साफ़ करने का अदम्य साहस

अनेक देशों में अब भी मानव मल व कचरा साफ़ करने के लिए स्वच्छता कर्मचारियों की ही सेवाएँ ली जाती हैं. ये कम लोग ही जानते हैं कि ये काम कितना जोखिम भरा है. कई बार तो स्वच्छता कर्मचारियों की मौत भी हो जाती है. और समाज में उनकी इस महत्वपूर्ण सेवा और बुनियादी कार्य को हिकारत की नज़र से देखा जाता है, ये तो किसी से छुपा नहीं है. ऐसे ही कुछ स्वच्छता कर्मचारियों की कहानी...

यौन हिंसा: कला के ज़रिए तकलीफ़ों की दास्तान

दुनिया भर में करोड़ों महिलाएँ और लड़कियाँ यौन हिंसा का शिकार होती हैं और भयावह तकलीफ़ में जीवन जीती हैं. यौन हिंसा अब भी युद्ध के एक हथियार के तौर पर इस्तेमाल की जाती है. यौन हिंसा के दंश की तकलीफ़ को बयाँ करती एक प्रदर्शनी. प्रस्तुति शिवानी काला...

युवाओं पर आतंकवाद निरोधक कार्रवाई की भारी गाज़, लाखों हैं हिरासत में

मानवाधिकार विशेषज्ञों का कहना है दुनिया भर में क़रीब 72 लाख से अधिक बच्चे हिरासत में रखे गए हैं. इनमें ऐसे युवाओं की भी बड़ी संख्या जिन्हें सशस्त्र गुटों से संबंध रखने के आरोप और उनकी सोशल मीडिया पोस्ट के आधार पर राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ख़तरा होने की दलील देते हुए आक्रामक आतंकवाद निरोधक उपायों के तहत हिरासत में लिया गया है.

इसराइली बस्तियाँ अंतरराष्ट्रीय क़ानून का 'घोर उल्लंघन' हैं - यूएन दूत

किसी देश का अपनी राष्ट्रीय नीति के तहत कुछ भी कहना हो, इसराइल द्वारा क़ब्ज़ा किए हुए फ़लस्तीनी क्षेत्रों में इसराइली बस्तियाँ बसाया जाना 'अंतरराष्ट्रीय क़ानून के तहत घोर उल्लंघन' है. मध्य पूर्व शांति प्रक्रिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष संयोजक निकोलय म्लदेनॉफ़ ने बुधवार को सुरक्षा परिषद में ये बात कही. 

बाल सपनों को सहेजना होगा, भविष्य अमानत है बच्चों की

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष - यूनीसेफ़ के सदभावना दूत डेविड बैकहम ने बुधवार को बाल दिवस के मौक़े पर कहा है कि नेताओं, सार्वजनिक हस्तियों, अभिभावकों और ज़ाहिर सी बात है कि इंसानों के रूप में, हम सभी को बच्चों के सपनों की हिफ़ाज़त करनी होगी, क्योंकि भविष्य हमारा नहीं, ये बच्चों की अमानत है. 

ईरान में विरोध प्रदर्शनों के दौरान गोलीबारी पर 'गहरी चिंता'

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने ईरान में विरोध-प्रदर्शनों के दौरान बड़ी संख्या में लोगों के मारे जाने की रिपोर्टों पर गहरी चिंता जताई है. देश में ईंधन की क़ीमतों में बढ़ोत्तरी के विरोध में पिछले शुक्रवार को प्रदर्शन शुरू हुए थे जिन पर सुरक्षा बलों की गोलीबारी में कुछ प्रदर्शनकारियों की मौत होने की ख़बरें मिली हैं.

'विविधता एक संपदा है, नाकि विभाजन की वजह'

एक ऐसे दौर में जब चरमपंथ और कट्टरता के मामले ज़्यादा दिखाई दे रहे हैं, जब “नफ़रता का विष” मानवता के एक हिस्से में ज़हर घोल रहा है, उस समय में सहिष्णुता की भूमिका बेहद आवश्यक हो गई है. संयुक्त राष्ट्र की सांस्कृतिक संस्था - यूनेस्को की प्रमुख ने ‘अंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस’ पर जारी अपने संदेश में यह बात कही है.

रोहिंज्या के ख़िलाफ़ अपराधों की जाँच के लिए आईसीसी की हरी झंडी

अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय आईसीसी ने रोहिंज्या समुदाय के लोगों के मामले में कथित तौर पर मानवता के ख़िलाफ़ अपराधों की जाँच के लिए हरी झंडी दे दी है. इनमें मुख्य रूप से रोहिंज्या लोगों के विस्थापन का मामला है जिसकी वजह से 2016 से अब तक म्याँमार से लाखों रोहिंज्या लोग सुरक्षा की तलाश में पड़ोसी देश बांग्लादेश पहुँचे चुके हैं जो वहाँ शरणार्थी हैं. रोहिंज्या शरणार्थियों की संख्या छह से 10 लाख के बीच बताई जाती है.