मानवाधिकार

श्रीलंका में गम्भीर संकट टालने के लिये रोकथाम उपायों पर बल

श्रीलंका में संयुक्त राष्ट्र की रैज़िडेण्ट कोऑर्डिनेटर हैना सिंगर-हामदी ने श्रीलंका में मौजूदा घटनाक्रम व नाज़ुक परिस्थितियों पर चिन्ता जताते हुए कहा है कि मानवीय संकट की रोकथाम के लिये तुरन्त कारगर प्रयास किये जाने होंगे. यूएन न्यूज़ हिन्दी के साथ एक विशेष बातचीत...

मीडिया कर्मियों की स्वतंत्रता के लिये दिनोंदिन बढ़ते जोखिम, यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने मंगलवार, 3 मई, को ‘विश्व प्रैस स्वतंत्रता दिवस’ के अवसर पर जारी अपने सन्देश में पत्रकारों और मीडिया कर्मियों की आज़ादी पर बढ़ते ख़तरों के प्रति आगाह किया है. यूएन प्रमुख ने कहा है कि वैश्विक स्वास्थ्य से लेकर जलवायु संकट, भ्रष्टाचार और मानवाधिकारों के हनन तक, पत्रकारों को अपने काम के बढ़ते राजनीतिकरण व विभिन्न पक्षों की तरफ़ से ख़ामोश कराने के प्रयासों का सामना करना पड़ रहा है.

जनसंहार शब्द अन्तरराष्ट्रीय क़ानून का हिस्सा किस तरह बना

संयुक्त राष्ट्र ने ‘जनसंहार की रोकथाम पर सन्धि’ को वर्ष 1948 में पारित किया था. सन्धि की ऐतिहासिक बुनियाद, इसके प्रावधान और हाल के दशकों में जनसंहारों को रोक पाने में मिली विफलता, विश्व के समक्ष मौजूदा चुनौतियों को रेखांकित करते हैं. बढ़ते जोखिमों की पृष्ठभूमि में, जनसंहार की रोकथाम पर यूएन के विशेष सलाहकार ऐडामा डिएन्ग ने, सर्वजन से इस अपराध के विरुद्ध खड़े होने का आहवान किया है. एक वीडियो रिपोर्ट...

डॉक्टर हंसा मेहता स्मृति सम्वाद 2022

भारत की प्रसिद्ध महिलाधिकार पैरोकार, शिक्षाविद, समाज सुधारक और लेखिका डॉक्टर हंसा मेहता की स्मृति में, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में मंगलवार, 15 मार्च को, भारतीय मिशन के सहयोग से, एक स्मृति सम्वाद आयोजित किया गया. एक वीडियो रिपोर्ट...

यूएन मुख्यालय में डॉक्टर हंसा मेहता स्मृति सम्वाद

भारत की प्रसिद्ध महिलाधिकार पैरोकार, शिक्षाविद, समाज सुधारक और लेखिका डॉक्टर हंसा मेहता की स्मृति में, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में मंगलवार, 15 मार्च को, भारतीय मिशन के सहयोग से, एक स्मृति सम्वाद आयोजित किया गया.

श्रीलंका: मानवाधिकार हनन के मामलों से निपटने के लिये सुधारों की अपील

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने श्रीलंका में "लोकतांत्रिक संस्थानों को कमज़ोर करने वाले, अल्पसंख्यकों की परेशानियाँ बढ़ाने वाले, और सुलह में बाधा डालने वाले, सैन्यीकरण एवं जातीय-धार्मिक राष्ट्रवाद की ओर निरन्तर जारी रुझान" को रेखांकित किया है.

हॉलोकॉस्ट: मानव इतिहास की अभूतपूर्व भयावहता और सुनियोजित क्रूरता के पीड़ितों का स्मरण

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरूवार को हॉलोकॉस्ट स्मरण दिवस के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को अपने सम्बोधन के दौरान, यहूदी जनसंहार की अभूतपूर्व भयावहता और क्रूरता के पीड़ितों को श्रृद्धांजलि अर्पित करते हुए, भरोसा दिलाया है कि धार्मिक कट्टरता, भेदभाव और नस्लवाद के सभी रूपों के विरुद्ध लड़ाई में, संयुक्त राष्ट्र अग्रिम मोर्चे पर मौजूद है. 

हॉलोकॉस्ट स्मरण दिवस, 27 जनवरी 2022

हॉलोकॉस्ट स्मरण दिवस पर, यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश का वीडियो सन्देश...

नफ़रत को दूर धकेलना होगा, मिशेल बाशेलेट

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि नस्लभेद और ख़ुद से भिन्न लोगों के लिये नफ़रत का फैलाव (Xenophobia) अपने सिर फिर तेज़ी से उठा रहे हैं. उन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान योरोप में यहूदियों के जनसंहार – हॉलोकॉस्ट की याद में, 27 जनवरी को मनाए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय दिवस के इस सन्दर्भ में कहा है कि यहूदियों के स्थलों पर हिंसक हमले हो रहे हैं और अनेक देशों में यहूदी विरोधवाद की घटनाएँ देखी गई हैं.

अफ़ग़ानिस्तान: बच्चों पर बढ़ता स्वास्थ्य संकट

अफ़ग़ानिस्तान में बढ़ते कुपोषण, अभूतपूर्व खाद्य संकट, सूखा, स्वास्थ्य व पोषण केन्द्रों में व्यवधान, पानी एवं स्वच्छता सेवाओं तक पहुँच की कमी व भीषण सर्दी के घातक संयोजन से बच्चे बीमारियों से ग्रस्त हो रहे हैं. एक वीडियो रिपोर्ट...