स्वास्थ्य

कोविड-19: अफ़्रीका में टीकाकरण दर में छह गुना वृद्धि की दरकार

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है अफ़्रीकी देशों में इस वर्ष के मध्य तक, 70 प्रतिशत आबादी के टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा करने के लिये यह ज़रूरी है कि टीके लगाये जाने की मौजूदा रफ़्तार छह गुना बढ़ाई जाए.  

फ़िलिपीन्स: टाइफ़ून ‘राई’ से प्रभावित, लाखों ज़रूरतमन्दों के लिये सहायता अपील 

यूएन मानवीय राहत एजेंसियाँ, फ़िलिपीन्स में कुछ सप्ताह पहले चक्रवाती तूफ़ान ‘टाइफ़ून राई’ से हुई भीषण तबाही के बाद, लाखों प्रभावित लोगों तक सहायता पहुँचाने के लिये अपने अभियान का दायरा व स्तर बढ़ा रही हैं. इस क्रम में, संयुक्त राष्ट्र ने बढ़ती ज़रूरतों को पूरा करने के लिये 16 करोड़ 90 लाख डॉलर की एक अपील जारी की है.  

सिगरेट में माइक्रोप्लास्टिक से निपटने के लिये नया अभियान

संयुक्त राष्ट्र ने सिगरेट में होटों पर लगाए जाने वाले हिस्से – फ़िल्टर या बट में प्लास्टिक के अति सूक्ष्म कड़ों यानि माइक्रोप्लास्टिक के, स्वास्थ्य और पर्यावरणीय प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से, बुधवार को एक नई साझेदारी की घोषणा की है.

कोविड काल में 'टैलीवर्किंग': नव सामान्य के लिये, जोखिम, लाभ और क़दम

संयुक्त राष्ट्र की दो एजेंसियों ने बुधवार को कहा है कि क़रीब दो वर्ष पहले फैलनी शुरू हुई कोरोनावायरस महामारी ने दुनिया भर में दफ़्तरी कामकाज में भारी व्यवधान डाला और उसी के परिणामस्वरूप दफ़्तरों से दूरस्थ स्थानों और घरों से कामकाज यानि ‘टैलीवर्किंग’ का चलन शुरू होने के साथ ही, कामगारों के स्वास्थ्य व अन्य तरह की बेहतरी के लिये महत्वपूर्ण परिवर्तनों की ज़रूरत है.

भारत में ऑक्सीजन संकट के दीर्घकालीन हल की मुहिम

भारत में, 2021 के दौरान, अस्पतालों में भर्ती हुए कोविड-19 रोगियों की ख़ातिर ऑक्सीजन खोजने की पुरज़ोर कोशिश कर रहे रिश्तेदारों के मार्मिक दृश्यों ने, दुनिया को इस गम्भीर व घातक बीमारी की भयावहता से रूबरू कराया. लेकिन यह पहली बार नहीं था जब देश के अस्पतालों ने इस जीवन-रक्षक गैस की कमी की समस्या का सामना किया हो. तो सवाल यह उठता है कि अगला बड़ा स्वास्थ्य संकट आने पर, क्या पर्याप्त आपूर्ति हो सकेगी.

कोविड-19: मेडिकल कूड़े-कचरे की समस्या बनी विशाल चुनौती

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया भर में, कोविड-19 महामारी का मुक़ाबला करने के प्रयासों के परिणामस्वरूप लाखों टन अतिरिक्त मेडिकल कूड़ा - कचरा इकट्ठा हो गया है जिसने स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों पर भारी बोझ डाल दिया है.

एचआईवी : 2020 में बच्चों में संक्रमण के डेढ़ लाख नए मामले, ‘रोकथाम थी सम्भव’

एचआईवी/एड्स के विरुद्ध लड़ाई का नेतृत्व करने वाली संयुक्त राष्ट्र एजेंसी – यूएनएड्स (UNAIDS) का कहना है कि वर्ष 2020 में, बच्चों में एचआईवी संक्रमण के क़रीब डेढ़ लाख नए मामले दर्ज किये गए, जिनमें से अधिकतर संक्रमण मामलों की रोकथाम की जा सकती थी.

‘कुष्ठ रोग के प्रभावितों के विरुद्ध भेदभावपूर्ण क़ानून तुरन्त ख़त्म हों’

संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ऐलिस क्रूज़ ने कहा है कि दुनिया भर में 100 से भी ज़्यादा ऐसे क़ानून लागू हैं जो कुष्ठ रोग से प्रभावित लोगों के विरुद्ध भेदभाव करते हैं और उन क़ानूनों को तात्कालिक ज़रूरत के साथ ख़त्म किया जाना चाहिये.

भारत: डेढ़ अरब टीकाकरण, दीगर एक अरब टीकों के लिये चुनौतियाँ भी

विश्व बैंक के अर्थशास्त्रियों, आरूषि भटनागर और ओवेन स्मिथ का मानना है कि भारत में कोविड-19 महामारी की वैक्सीन के डेढ़ अरब टीके लगाने का अहम मुक़ाम तो हासिल कर लिया गया है मगर, अगले एक अरब टीके लगाने का मुक़ाम हासिल करने के लिये, अब वैक्सीन की झिझक नहीं, बल्कि दूरगामी इलाक़ों तक कोविड-19 वैक्सीन के टीके पहुँचाने में बाधाओं को पार करना, मुख्य चुनौती होगी.

कोविड-19: एक सप्ताह में सर्वाधिक संक्रमण मामलों की पुष्टि, ओमिक्रॉन का जोखिम बरक़रार

पिछले सप्ताह कोविड-19 संक्रमण मामलों की संख्या अपने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई और विश्व भर में, दो करोड़ 10 लाख से अधिक मामले दर्ज किये गए. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अपने साप्ताहिक अपडेट में आगाह किया है कि कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वैरीएण्ट से उपजा जोखिम अभी भी ऊँचे स्तर पर है.