स्वास्थ्य

कोविड-19: योरोप बना फैलाव का नया केन्द्र, सतर्कता में कोताही ना बरतने की सलाह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि योरोपीय क्षेत्र, कोविड-19 महामारी के फैलाव का नया केन्द्र बन गया है, मगर ये ध्यान रखना होगा कि कोई भी देश या क्षेत्र अभी इस चुनौती से पूरी तरह नहीं निपट पाया है. उन्होंने कुछ देशों में टीकाकरण के बाद, महामारी का अन्त होने और 'झूठी सुरक्षा' का भाव पनपने पर चिन्ता जताई है.

महज़ पेट भरने के बजाय, समुचित पोषण पर ध्यान दिये जाने की दरकार

जलीय भोजन, प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, सूक्ष्म पोषक तत्वों और अति-आवश्यक वसा अम्लों का स्रोत है, जिसके सेवन से बेहतर पोषण सुनिश्चित किया जा सकता है. विश्व खाद्य पुरस्कार (World Food Prize) विजेता, डॉक्टर शकुन्तला हरकसिंह थिल्सटेड ने, यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास इण्टरव्यू में, 2021 के लिये टिकाऊ व सेहतमन्द आहार में, मछली और जलीय खाद्य प्रणालियों की अहम भूमिका को रेखांकित किया है. 

कोविड-19: बच्चों में संक्रमण से कई अंगों पर असर के मामले, उपचार के लिये नए दिशानिर्देश

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोविड-19 संक्रमण के कारण, जिन बच्चों के कई अंग एक साथ प्रभावित होते हैं और उनमें सूजन व जलन (inflammation) होती है, उनका अस्पताल में उपचार स्टेरॉयड की मदद से किया जाना चाहिये.  

इण्टरव्यू: अफ़ग़ानिस्तान में मानवीय संकट ने छीना बच्चों का बचपन 

70 वर्षों से अधिक समय से, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने अफ़ग़ानिस्तान में अपनी मौजूदगी बनाए रखी है, और अगस्त 2021 में देश की सत्ता पर तालेबान का वर्चस्व होने के बाद उपजे कठिन माहौल में भी, स्थानीय बच्चों की देखभाल सुनिश्चित करने के प्रयास जारी हैं. 

'स्मार्ट' व टिकाऊ समुद्री परिवहन, वैश्विक पुनर्बहाली के लिये अहम

वर्ष 2020 में, कोविड-19 महामारी का समुद्री व्यापार पर, आशंका से कम गम्भीर असर साबित हुआ है, मगर, दीर्घकाल में उसके गहरे व दूरगामी प्रभाव होने की सम्भावना जताई गई है. व्यापार एवं विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) की बुधवार को प्रकाशित एक नई रिपोर्ट में, बुद्धिमान, सुदृढ़, और टिकाऊ समुद्री परिवहन को, वैश्विक सामाजिक-आर्थिक पुनर्बहाली के लिये अहम क़रार दिया गया है.

हर ज़रूरतमन्द बच्चे के लिये, नियमित व स्वस्थ स्कूली आहार योजना को समर्थन

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने स्कूली बच्चों के पोषण, स्वास्थ्य व उनकी शिक्षा में बेहतरी लाने पर केन्द्रित एक अन्तरराष्ट्रीय गठबन्धन को समर्थन देने की प्रतिबद्धता जताई है. वर्ष 2020 में कोविड-19 महामारी के कारण, विश्व भर में शिक्षण कार्य में उत्पन्न हुए भीषण व्यवधान और व्यापक पैमाने पर स्कूलों में तालाबन्दी लागू होने से, स्कूलों में मिलने वाले आहार सहित अन्य कार्यक्रम प्रभावित हुए थे.

सर्वाइकल कैंसर के उन्मूलन के लिये, स्वास्थ्य औज़ारों की न्यायोचित सुलभता पर बल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बुधवार, 17 नवम्बर, को ‘सर्वाइकल कैंसर उन्मूलन के लिये कार्रवाई दिवस’ के अवसर पर अपने साझीदारों के साथ मिलकर, इस स्वास्थ्य चुनौती को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिये, ज़रूरी जाँच, वैक्सीन व उपचार की न्यायसंगत उपलब्धता की पुकार लगाई है. 

कोविड-19: नई दवा के जैनेरिक उत्पादन के लिये महत्वपूर्ण लाइसेंस समझौता

संयुक्त राष्ट्र समर्थित वैश्विक स्वास्थ्य पहल (Unitaid) और औषधि निर्माता कम्पनी ‘फ़ाइज़र’ में एक स्वैच्छिक लाइसेंस समझौता हुआ है जिसके बाद, कोविड-19 के उपचार में ‘सहायक’ एक नई दवा की उपलब्धता, निम्न व मध्य-आय वाले देशों में बढ़ाने में मदद मिलने की उम्मीद जताई गई है.

 

 

तम्बाकू सेवन के आदी लोगों की संख्या में गिरावट, लक्ष्य प्राप्ति के लिये लम्बा सफ़र बाक़ी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक नई रिपोर्ट के अनुसार, विश्व में तम्बाकू सेवन करने वाले लोगों की संख्या में गिरावट आई है, और यह वर्ष 2015 में एक अरब 32 करोड़ से कम हो कर, अब एक अरब 30 करोड़ पर पहुँच गई है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी ने तम्बाकू सेवन के वैश्विक रुझानों पर अपनी चौथी रिपोर्ट में अनुमान जताया है कि 2025 तक यह आँकड़ा, एक अरब 27 करोड़ तक पहुँच जाएगा.

माँ से बच्चे को एचआईवी व सिफ़लिस संक्रमण – रोकथाम के लिये सस्ते परीक्षण उपलब्ध

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि माताओं से बच्चों में होने वाले एचआईवी व सिफ़लिस संक्रमण की रोकथाम के लिये, अब एक डॉलर से भी कम क़ीमत वाली दोहरी परीक्षण किट उपलब्ध हैं. अनेक देशों में गर्भवती महिलाओं के लिये, आसानी से इस्तेमाल की जाने वाली इस टैस्ट किट की उपलब्धता बढ़ाने के प्रयास किये जा रहे हैं.