स्वास्थ्य

कोविड-19 काल में व्यवधान से, मलेरिया मामलों व मृतक संख्या में वृद्धि 

कोविड-19 महामारी के दौरान स्वास्थ्य सेवाओं में आए व्यवधान के कारण, मलेरिया के मामलों व उससे होने वाली मौतों में वृद्धि हुई है, मगर हालात उतने ख़राब साबित नहीं हुए हैं जिनकी पहले आशंका जताई गई थी. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सोमवार को मलेरिया पर अपनी वार्षिक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है.

ओमिक्रॉन: ‘घबराने के बजाय, सम्भावित फैलाव का सामना करने की तैयारी करना बेहतर'

दुनिया भर में वैज्ञानिक गण, कोविड-19 के नए वैरिएण्ट – ओमिक्रॉन के बारे में ज़्यादा जानकारी व शोध करने में जुटे हैं, ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) शुक्रवार को, सभी देशों से घबराहट से बचने का आग्रह किया है. साथ ही, इस वैरिएण्ट के सम्भावित फैलाव का सामना करने की तैयारी करने का भी आग्रह किया गया है.

भावी महामारियों से रक्षा के लिये वैश्विक समझौते की दिशा में प्रगति, 'आशा का स्रोत'

विश्व स्वास्थ्य ऐसेम्बली ने भविष्य में वैश्विक महामारियों व स्वास्थ्य संकटों की रोकथाम करने, उनसे निपटने की तैयारियों और जवाबी कार्रवाई को पुख़्ता बनाये जाने के इरादे से, एक वैश्विक प्रक्रिया शुरू किये जाने पर सहमति व्यक्त की है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के प्रमुख टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने ऐसेम्बली के निर्णय को आशाजनक बताते हुए इसका स्वागत किया है.

कोविड-19 के दौरान तालाबन्दियों के बावजूद, वैश्विक विस्थापन में वृद्धि - IOM

कोविड-19 महामारी के कारण लागू की गई यात्रा पाबन्दियों, तालाबन्दियों और वैश्विक गतिशीलता के लगभग थम जाने के बावजूद, आपदाओं, हिंसक संघर्ष व टकराव के कारण घरेलू विस्थापन में नाटकीय बढ़ोत्तरी हुई है. अन्तरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (IOM) द्वारा बुधवार को जारी एक नई रिपोर्ट में यह निष्कर्ष सामने आया है.