स्वास्थ्य

बच्चों में एड्स, 2030 तक समाप्ति के लिये, एक नया गठबन्धन

दुनिया भर में, एचआईवी संक्रमण के साथ जीवन जीने वाले वयस्कों की तीन चौथाई संख्या को किसी ना किसी तरह का उपचार हासिल है, मगर इस तरह का उपचार हासिल करने वाले बच्चों की संख्या केवल 52 प्रतिशत है. इस गम्भीर विषमता की स्थिति को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र की अनेक एजेंसियों ने नए संक्रमण मामलों की रोकथाम और एचआईवी से संक्रमित सभी बच्चों को 2030 तक जीवनरक्षक उपचार की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये, एक वैश्विक गठबन्धन गठित किया.

स्तनपान: जीवन आरम्भ के लिये अभूतपूर्व रूप से अहम

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी – विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और यूएन बाल कोष – यूनीसेफ़ के प्रमुखों ने सोमवार को कहा है कि नवजात शिशुओं को माँ का दूध पिलाने के साथ, नवजीवन की शुरुआत करना, अभूतपूर्व रूप से महत्वपूर्ण है.

बच्चों को नए 'अस्पष्ट तीव्र हेपेटाइटिस' के प्रकोप का जोखिम

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने गुरूवार को विश्व हेपेटाइटिस दिवस पर चेतावनी देते हुए कहा कि विश्व इस समय एक नए प्रकोप, “अस्पष्ट तीव्र हेपेटाइटिस संक्रमण" का सामना कर रहा है जो बच्चों को प्रभावित कर रहा है.

 

भारत में कोविड-19 की वैक्सीन के दो अरब टीके लगाए जाने का आँकड़ा पार

भारत में कोविड-19 की वैक्सीन के दो अरब टीके लगाए जाने का आँकड़ा पार - संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के सक्रिय सहयोग पर, यूएन रैज़िडैण्ट कोऑर्डिनेटर शॉम्बी शार्प के साथ ख़ास (वीडियो) बातचीत...

WHO: मंकीपॉक्स वैक्सीन की प्रभावशीलता पर डेटा साझा करने का आग्रह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, 78 देशों में मंकीपॉक्स के संक्रमण मामलों की संख्या 18 हज़ार से अधिक पहुँच चुकी है. ऐसे में संगठन ने, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं समेत संक्रमित लोगों के सम्पर्क में आने वाले सभी व्यक्तियों, प्रयोगशाला कर्मचारियों और एक से अधिक लोगों के साथ यौन सम्बन्ध बनाने वाले लोगों जैसे उच्च जोखिम श्रेणी के व्यक्तियों के लिये टीकाकरण की सिफ़ारिश की है.

एचआईवी के ख़िलाफ़ लड़ाई में धीमेपन के बीच, तत्काल वैश्विक कार्रवाई की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के बुधवार को जारी किये गए ताज़ा आँकड़ों में दिखाया गया है कि एड्स की पूर्ण बीमारी का कारण बन सकने वाले एचआईवी संक्रमण मामलों में आ रही गिरावट धीमी पड़ गई है.

मंकीपॉक्स: इस बीमारी के प्रसार व जोखिम से सम्बन्धित कुछ ज़रूरी जानकारी

मंकीपॉक्स कोई नई बीमारी नहीं है बल्कि कुछ अफ़्रीकी देशों में यह स्थानिक है. हालाँकि, मई 2022 में शुरू हुए इस अन्तरराष्ट्रीय प्रकोप के बाद, विश्व स्वास्थ्य संगठन  (WHO) ने इस बीमारी को एक अन्तरराष्ट्रीय चिन्ता वाली सार्वजनिक स्वास्थ्य आपदा घोषित करना अनिवार्य समझा. आइये, जानते हैं, मंकीपॉक्स से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें...

WHO: मंकीपॉक्स को, सही रणनीतियों के ज़रिये रोका जा सकता है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को कहा है कि तेज़ी से फैल रही मंकीपॉक्स बीमारी को सही समूहों में सही रणनीतियाँ अपनाकर, रोका जा सकता है.

WHO: डूबने से होने वाली मौतों की रोकथाम के लिये, ‘कम से कम एक चीज़’ करने की पुकार

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सोमवार को कहा है कि दुनिया भर में, हर साल पानी में डूबने से, दो लाख 36 हज़ार से भी ज़्यादा लोगों की मौत हो जाती है और ये, एक वर्ष से 24 वर्ष आयु वर्ग में मौत होने के प्रमुख कारणों में से एक है. संगठन ने हर किसी से, ज़िन्दगियाँ बचाने की ख़ातिर, “कम से कम एक चीज़” अवश्य करने की पुकार लगाई है. 

WHO: मंकीपॉक्स 'अन्तरराष्ट्रीय चिन्ता वाली सार्वजनिक स्वास्थ्य आपदा' घोषित

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक डॉक्टर टैड्रॉस ऐडहेनॉम घेबरेयेसस ने मंकीपॉक्स को अन्तरराष्ट्रीय चिन्ता की एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपदा’ घोषित किया है.