संस्कृति और शिक्षा

भारत में 'जनता करफ़्यू'

भारत में कोविड-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई में एकजुटता दिखाने और दिन-रात अथक सेवाएँ कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने के लिए रविवार, 22 मार्च को दिन भर का टजनता करफ़्यूट रखा गया है जिसमें लोगों ने स्वेच्छा से शिरकत की. इस दौरान लोगों ने तालियाँ व थालियाँ बजाकर एकजुटता दिखाई.

'रेडियो लोगों को आपस में जोड़ता है'

ख़बरों, विस्तृत कार्यक्रमों और महत्वपूर्ण सूचनाओं के एक आसान स्रोत के रूप में रेडियो की पहचान सर्वविदित है. आम लोगों के साथ संवाद में रेडियो की महत्ता को पहचान देने के लिए हर वर्ष 13 फ़रवरी को रेडियो दिवस मनाया जाता है. महासचिव का संदेश...

रेडियो: संवाद व विविधता को प्रोत्साहन देने का सशक्त माध्यम

तेज़ी से अपना स्वरूप बदल रही मीडिया में रेडियो अब भी एक ऐसा माध्यम है जिसमें लोगों को एकजुट करने और समुदायों के लिए महत्वपूर्ण ख़बरें व जानकारी उपलब्ध कराने की ताक़त है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ‘विश्व रेडियो दिवस’ पर अपने संदेश में रेडियो को एक ऐसा पथ-प्रदर्शक माध्यम बताया है जो विविधता को बढ़ावा और विश्व शांति में योगदान देता है.

जयपुर साहित्य महोत्सव में जलवायु संकट मुद्दा

भारत में राजस्थान की अनूठी सांस्कृतिक विरासत की पृष्ठभूमि में जयपुर साहित्य महोत्सव का 13वाँ संस्करण 23 से 27 जनवरी के बीच आयोजित हुआ. इस साहित्य महोत्सव में – अनेक साहित्यकारों, पत्रकारों, नोबेल पुरस्कार विजेताओं सहित अनेक अंतरराष्ट्री हस्तियों ने शिरकत की.

सरकारी शिक्षा ख़र्च में 'शर्मनाक विषमताओं" को दूर करने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ की एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा गया है कि ग़रीब परिवारों की एक तिहाई किशोरी लड़कियों को कभी स्कूली शिक्षा की सुविधा हासिल नहीं हुई और शिक्षा पर ख़र्च धनी परिवारों की तरफ़ भारी रूप में झुका हुआ है.

सीरिया: युद्ध ने बच्चों की दुनिया व सपने उजाड़ दिए हैं

सीरिया में नौ वर्ष से जारी भीषण लड़ाई और अशांति ने वहाँ के बच्चों का ना सिर्फ़ बचपन तबाह कर दिया है बल्कि उनके अधिकारों की तो धज्जियाँ उड़ा दी हैं. बड़े पैमाने पर लड़कों और लड़कियों की हत्याएँ हुई हैं, वो घायल हुए हैं, विस्थापित होने के साथ-साथ उन्हें उत्पीड़न, बलात्कार और यौन ग़ुलामी का भी शिकार होना पड़ा है.

तैरते शहरों की दुनिया की संभावना

ये विचार कई दशकों से घूम रहा है कि क्या सूखी धरती की सीमाओं से दूर समुद्रों की सतह पर तैरती हुई दुनिया बस सकती है. कुछ वैज्ञानिकों ने इस विचार पर काम किया और बताया कि ये संभव है. तो क्या भविष्य में समुद्र भी रहने के स्थान बन सकेंगे. एक जायज़ा...

खोई कला को बचाने की कला - मुख्यालय में प्रदर्शनी

न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक अनोखी कला प्रदर्शनी आयोजित की गई है जिसमें दुनिया भर से लाई गई ऐसी कला कृतियाँ प्रदर्शित की गई हैं जो इतिहास की एक झलक पेश करती हैं.

यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थलों की सुरक्षा की अहमियत दोहराई

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की प्रमुख ऑड्रे अज़ोले और ईरान के एक वरिष्ठ राजनयिक के बीच सोमवार को बैठक हुई जिसमें मध्य पूर्व व खाड़ी क्षेत्र में मौजूदा तनाव और हालात से सांस्कृतिक धरोहरों पर पड़ने वाले संभावित असर पर चर्चा की गई.

मूल भाषाओं को सहेजना मानव विरासत को सहेजने जैसा

संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बांडे ने कहा है कि यूएन के प्रयासों के बावजूद विश्व में आदिवासियों की मूल भाषाएं लुप्त होती जा रही हैं जिसके कारण उनकी पहचान व परंपराओं को ख़तरा पैदा हो रहा है. ‘आदिवासियों की मूल भाषाओं के लिए अंतरराष्ट्रीय वर्ष' के समापन पर न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही है.