संस्कृति और शिक्षा

'बच्चों को शिक्षा हानि से बचाने के लिये, स्कूल खोले जाने ज़रूरी' - यूनीसेफ़

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने कहा है कि कोविड-19 महामारी ने शिक्षा जगत पर विनाशकारी प्रभाव छोड़े हैं, और एक ऐसे संकट को और भी ज़्यादा उजागर कर दिया है जिसके बारे में, यह महामारी फैलने से पहले भी, व्यापक चिन्ताएँ व्याप्त थीं. यूनीसेफ़ में, शिक्षा मामलों के निदेशक रॉबर्ट जेनकिन्स ने, इन चिन्ताओं के बीच बदलाव की पुकार लगाई है कि मौजूदा शिक्षा व्यवस्था, करोड़ों लोगों की कसौटी पर नाकाम साबित हो रही है.

हॉलोकॉस्ट खण्डन की निन्दा करने वाला प्रस्ताव पारित

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गुरूवार को एक ऐसा प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया है जिसमें हॉलोकॉस्ट का खण्डन करने या उसके बारे में तोड़-मरोड़ कर जानकारी पेश किये जाने के मामलों या गतिविधियों की निन्दा की गई है.

जल गहराई में समाई दुर्लभ प्रवाल भित्तियों की खोज, 'एक कलाकृति के समान'

संयुक्त राष्ट्र समर्थित एक वैज्ञानिक मिशन ने, फ्रेंच पोलेनेशिया में ताहिती तट के पास दुनिया की सबसे बड़ी प्रवाल भित्तियों (Coral reefs) में से एक की खोज की है. संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) ने गुरूवार को बताया कि ग़ोताख़ोरों ने, 30 से 65 मीटर तक की गहराई तक जाकर इसका पता लगाया है.

विश्व हिन्दी दिवस: बहुभाषावाद में हिन्दी का व्यापक योगदान रेखांकित

विश्व भर में हिन्दी के प्रयोग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, हर वर्ष 10 जनवरी को, विश्व हिन्दी दिवस मनाया जाता है. संयुक्त राष्ट्र के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन – यूनेस्को ने भी हिन्दी को अपनी एक आधिकारिक भाषा बनाया हुआ है. यूनेस्को ने इस वर्ष के विश्व हिन्दी दिवस पर, हिन्दी को, विभिन्न देशों के लोगों को आपस में जोड़ने में एक सूत्रधार का काम करने वाली भाषा क़रार दिया है और आशा व्यक्त की है कि हिन्दी जल्द ही, यूनेस्को की एक कामकाजी भाषा भी बन सकेगी.

2021 में 55 पत्रकारों ने गँवाई अपनी ज़िन्दगी, अतीत के अनसुलझे मामलों पर चिन्ता

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) के अनुसार, वर्ष 2021 में दुनिया भर में 55 पत्रकारों और मीडियाकर्मियों ने अपनी जान गवाँई है. वर्ष 2006 के बाद से पत्रकारों के मारे जाने की कुल घटनाओं में के, 87 फ़ीसदी अब भी अनसुलझी हैं.

विश्व ब्रेल दिवस: महामारी ने सर्वसुलभ जानकारी की महत्ता उजागर की

कोरोनावायरस महामारी ने ये सुनिश्चित करने की महत्ता उजागर कर दी है कि प्रत्येक व्यक्ति को आवश्यक जानकारी हासिल हो, और इनमें विकलांगता वाले लोग भी शामिल हैं. विश्व ब्रेल दिवस पर, यूएन एजेंसियाँ दिखा रही हैं कि वो स्वास्थ्य संकट का मुक़ाबला करने में किस तरह विकलांगता समावेशी तरीक़े को बढ़ावा दे रही हैं.

भारत: अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं को शिक्षा व कामकाज से जोड़ने का प्रयास

भारत में विश्व बैंक की मदद से ‘नई मंज़िल’ नामक एक कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसके अन्तर्गत अल्पसंख्यक समुदाय के ऐसे युवाओं को, कौशल प्रशिक्षण के ज़रिये आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है जो शिक्षा से वंचित रह जाते हैं. ‘नई मंज़िल’ योजना पर विश्व बैंक के शिक्षा विशेषज्ञ, मेघना शर्मा, प्रद्युम्न भट्टाचार्जी और मार्गुराइट क्लार्क का संयुक्त ब्लॉग...

कोविड-19: स्कूलों में तालाबन्दी यथासम्भव टालने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की कार्यकारी निदेशक हैनरीएटा फ़ोर ने आगाह किया है कि कोरोनावायरस के बेहद संक्रामक वैरीएण्ट, ओमिक्रॉन, के फैलाव के बावजूद, स्कूलों में तालाबन्दी टाले जाने के लिये हरसम्भव प्रयास किये जाने होंगे. 

असमानताएँ कम करने के लिये, निजी शिक्षा के बेहतर नियामन पर बल

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की एक नई रिपोर्ट में, निजी शिक्षा की ऊँची क़ीमतों और कमज़ोर नियामन के कारण बढ़ती विषमताओं पर चेतावनी जारी की गई है. रिपोर्ट में सर्वजन के लिये गुणवत्तापरक शिक्षा सुनिश्चित किये जाने के इरादे से पाँच, अहम उपायों की हिमायत की गई है.

कोविड-19: छात्रों की जीवन-पर्यन्त कमाई पर असर, 17 हज़ार अरब डॉलर के नुक़सान की आशंका

कोविड-19 महामारी के दौरान स्कूलों में तालाबन्दी होने की वजह से, छात्रों की मौजूदा पीढ़ी को अपनी आजीवन कमाई में 17 हज़ार अरब डॉलर के नुक़सान का सामना करना पड़ सकता है. वैश्विक शिक्षा संकट के मुद्दे पर, विश्व बैन्क (World Bank), यूएन शैक्षिक, सांस्कृतिक एवं वैज्ञानिक संगठन (UNESCO), और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की नई रिपोर्ट में यह अनुमान व्यक्त किया गया है.