जलवायु और पर्यावरण

जलवायु कार्रवाई में कैसे मदद करें

जलवायु परिवर्तन के ख़िलाफ़ लड़ाई में विकलांग लोगों को समान भागीदार बनाने के लिये, सांकेतिक भाषा का एक सुलभ वीडियो. अन्तरराष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस पर विशेष...

मानवता अपने विकास की किशोरावस्था जीवन काल के अन्तिम चरण में, ब्रिटिश प्रधानमंंत्री

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने यूएन महासभा की उच्च स्तरीय जनरल डिबेट में कहा है कि मानवता के लिये, यह समय परिवपक्वता और समझदारी दिखाने, और पृथ्वी ग्रह को हम जो नुक़सान पहुँचा रहे हैं, उसकी ज़िम्मेदारी स्वीकार करने का है.

टिड्डियों से लेकर चक्रवातों तक: आपस में जुड़ी आपदाओं की मानवीय क़ीमत

चरम पर्यावरणीय घटनाओं का लोगों के जीवन पर विनाशकारी प्रभाव पड़ता है, और संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट से स्पष्ट हुआ है कि उनमें से अनेक घटनाओं के अन्तर्निहित कारण समान और आपस में जुड़े हुए हैं.  इस रिपोर्ट के परिपेक्ष्य में, एक केनयाई किसान पर टिड्डियों के झुण्ड के प्रभाव का अवलोकन किया गया, और एक भारतीय कामगार पर चक्रवात अम्फ़ान का जायज़ा लिया.