जलवायु और पर्यावरण

विश्व वन्यजीवों की संरक्षा के लिये प्रयास बढ़ाएँ

संयुक्त राष्ट्र महासचिव, एंतोनियो गुटेरेश ने विश्व वन्यजीव दिवस पर सन्देश में, देशों, कारोबारों और हर जगह के आमजन का आहवान करते हुए कहा है कि वो वनों और वन्य जीव-जन्तुओं की संरक्षा के लिये अपने प्रयास बढ़ाएँ, और वन समुदायों की आवाज़ सुनने व उसे बुलन्द करने में सहयोग दें.
 

पेरिस समझौते में अमेरिकी वापसी का स्वागत

अमेरिका, पेरिस जलवायु समझौते में फिर से शामिल हो गया है. वर्ष 2015 में विश्व नेताओं द्वारा अपनाए गए इस समझौते में, अमेरिका की सक्रिय भूमिका रही थी.

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने, पेरिस समझौते में अमेरिकी वापसी का स्वागत करते हुए, 19 फ़रवरी को, एक ऑनलाइन कार्यक्रम में, जलवायु परिवर्तन पर अधिक मज़बूत कार्रवाई किये जाने की अपनी पुकार दोहराई. 

उन्होंने कहा कि पेरिस जलवायु समझौता, हमारी आने वाली पीढ़ियों और सम्पूर्ण मानव परिवार के साथ एक क़रार है.

कुवैत में री-सायक्लिंग को बढ़ावा

कुवैत की एक इलेक्ट्रिकल इन्जीनियर को संयुक्त राष्ट्र ने दुनिया के सबसे धनी देशों में से एक में री-सायक्लिंग का आर्थिक मूल्य बढ़ाने और पर्यावरणीय महत्व समझाने में उनकी सफलता के लिये मान्यता दी है.

सैलमन संरक्षण के लिये वर्चुअल रियलिटी का सहारा

संयुक्त राष्ट्र ने अमेरिका की एक युवती को युवा पृथ्वी चैम्पियन के रूप में पहचान दी है, जो वर्चुअल रियलिटी की मदद से, सैलमन मछलियों के संरक्षण अभियान में सक्रिय हैं. 

ग्रीस में मछुआरों की मदद से समुद्री प्लास्टिक की री-सायक्लिंग

ग्रीस के लेफ़्तेरिस अरापाकिस को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूनेप) द्वारा पृथ्वी के युवा चैम्पियन, 2020 के रूप में पहचान मिली है.

केनया: प्लास्टिक की री-सायकलिंग से फ़र्श का निर्माण

संयुक्त राष्ट्र ने केनया की एक उद्यमी को प्लास्टिक की री-सायकलिंग में शानदार काम करने के लिये 'युवा पृथ्वी चैम्पियन-2020' के रूप में नामांकित किया है. इस उद्यमी ने, एक ऐसी मशीन बनाई है, जो प्लास्टिक को ऐसी मज़बूत ईंटों में बदल देती है जिन्हें फ़र्श निर्माण में प्रयोग किया जा सकता है.

हवा से पानी बनाने की मशीन

पेरू के एक जीवविज्ञानी और युवा आविष्कारक को, हवा को पानी में बदलने की तकनीक विकसित करने के लिये, वार्षिक संयुक्त राष्ट्र के "Youth Champion of the Earth 2020" पर्यावरण पुरस्कार का विजेता घोषित किया गया है. देखें उनके काम की एक झलक...(वीडियो)

चीन में साफ़ पानी की ख़ातिर...

चीन में, बीजिंग की एक युवती ने एक ऐसा मोबाइल ऐप बनाया है जिससे ग्रामीणों को यह पता चलता है कि उनके स्थानों पर उपलब्ध पानी पीने के लिये सुरक्षित है या नहीं. इसके लिये उन्हें संयुक्त राष्ट्र के पर्यावरण पुरस्कार - 'यंग चैम्पयिन ऑफ़ द अर्थ' से नवाज़ा गया है... (वीडियो)

विद्युत मोहन: यंग चैम्पियन ऑफ़ द अर्थ-2020

भारत के युवा इंजीनियर विद्युत मोहन को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम ((UNEP) का - यंग चैम्पियन ऑफ़ द अर्थ 2020 चुना गया है. विद्युत मोहन ने एक ऐसी तकनीक ईजाद की है जिसके ज़रिये, खेतीबाड़ी के कूड़े-करकट को पर्यावरण अनुकूल ईंधन में तब्दील किया जा सकता है, जिससे ना केवल प्रदूषण को रोकने में मदद मिलती है, बल्कि उससे आमदनी भी होती है. देखिये, इस वीडियो में...

युवा पृथ्वी चैम्पियन: स्वच्छ ऊर्जा की चाह पूर्ति के वाहक, विद्युत मोहन

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम ने, भारत के एक युवा इंजीनियर विद्युत मोहन को, एक ऐसी अदभुत तकनीक ईजाद करने के लिये पुरस्कृत किया है, जिससे ना केवल ऊर्जा पैदा होती है, बल्कि हवा को भी साफ़-सुथरा रखने में मदद मिलती है और अन्ततः जलवायु परिवर्तन में भी कमी होती है.