जलवायु और पर्यावरण

अफ़ग़ानिस्तान: विनाशकारी भूकम्प के बाद सहायता के लिये यूएन एजेंसियाँ सक्रिय

संयुक्त राष्ट्र और उसके साझीदार संगठन, अफ़ग़ानिस्तान में बुधवार तड़के आए विनाशकारी भूकम्प के बाद, सहायता कार्यों में सक्रिय हो गए हैं. इस भूकम्प ने देश के कम से कम दो प्रान्तों - पक्तिका और ख़ोस्त को प्रभावित किया है. संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – UNICEF ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में बुधवार सुबह तड़के एक विनाशकारी भूकम्प ने पक्तिका प्रान्त के अनेक इलाक़ों को दहलाकर रख दिया, जिसके परिणामस्वरूप सैकड़ों लोग हताहत हुए हैं, जिनमें बहुत से बच्चे भी हैं.

क्या आप धूप में सुरक्षित हैं? त्वचा कैंसर से बचाव के लिये यूएन ऐप

वैज्ञानिक तथ्य दर्शाते हैं कि पराबैंगनी विकिरण (UV radiation) के सम्पर्क में अधिक रहने से त्वचा कैंसर होने का जोखिम बढ़ जाता है. संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के समूह ने उपयुक्त बचाव उपायों के इरादे से, मंगलवार को एक नया ऐप (सॉफ़्टवेयर प्रोग्राम) पेश किया है, जिससे हर किसी के लिये, कहीं भी यह जानना सरल होगा कि घर से बाहर कितनी देर के लिये, धूप में सुरक्षित रहा जा सकता है.
 

बांग्लादेश: बाढ़ में 40 लाख लोग फँसे, 16 लाख बच्चे भी, यूनीसेफ़ मदद में सक्रिय

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – UNICEF ने कहा है कि बांग्लादेश के पूर्वोत्तर इलाक़े में आई ताज़ा बाढ़ में लगभग 40 लाख लोग फँस गए हैं जिन्हें तत्काल सहायता की आवश्यकता है. इनमें लगभग 16 लाख बच्चे भी हैं.

Zero Waste: मछलियों के कूड़ा-करकट से, कुत्तों के लिये स्वादिष्ट ख़ुराक

इसमें कोई सन्देह नहीं है कि भोजन की हानि व बर्बादी के कारण, हमारी खाद्य प्रणालियों की सततता कमज़ोर हो रही है. इस समस्या का मुक़ाबला करने के लिये, दुनिया भर में कुछ लघु व्यवसाय, अपशिष्ट प्रबन्धन की नई टिकाऊ आदतों पर ध्यान केन्द्रित कर रहे हैं.

योरोप: गर्मियों की शुरुआत में ही भीषण तापलहर का प्रकोप

विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) ने कहा है कि योरोपीय देशों को इस साल ऐसी अभूतपूर्व और झुलसा देने वाली ताप लहर से जूझना पड़ रहा है, जिसने अपेक्षित समय से पहले ही दस्तक दे दी है. गर्मी के मौसम के शुरुआती दिनों में ही तापमान के इस रुझान ने आगामी दिनों में हालात के प्रति चिन्ता बढ़ा दी है. 

जलवायु: दुनिया ने जीवाश्म ईंधन का जुआ खेला और हार देखी है, गुटेरेश की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने शुक्रवार को चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि जीवाश्म ईंधनों जैसे सीमित मात्रा वाले संसाधनों के प्रयोग पर निर्भर, मौजूदा असीमित वृद्धि के वैश्विक आर्थिक रूप से, केवल मंहगाई, जलवायु अव्यवस्था और संघर्ष का तिहरा अभिशाप ही सामने आएगा.

जलवायु परिवर्तन: जीवाश्म ईंधन में और ज़्यादा निवेश स्पष्टतः भ्रान्तिमय

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने मंगलवार को आगाह करते हुए कहा है कि देशों की सरकारों द्वारा जीवाश्म ईंधन की खोज या उत्पादन के लिये धन की नवीन उपलब्धता, स्पष्टतः भ्रान्तिमय है, और इससे युद्ध की विभीषिका, प्रदूषण और जलवायु आपदाओं की आग्नियों को और ज़्यादा ईंधन मिलेगा.

इण्टरव्यू: एक साथ मिलकर महासागरों की देखभाल करने का आग्रह

विश्व महासागर दिवस’ हर वर्ष 8 जून को मनाया जाता है, जोकि हमारे दैनिक जीवन में महासागरों की महत्वपूर्ण भूमिका पर फिर से ध्यान दिलाने का एक अवसर है. वर्ष 2022 की थीम, ऊर्जा का पुन: संचार: महासागरों के लिये सामूहिक कार्रवाई (Revitalization: collective action for the ocean) के ज़रिये उनकी रक्षा के लिये साथ मिलकर प्रयास किये जाने की अहमियत को रेखांकित किया जा रहा है.

यूएन महासागर सम्मेलन के लिये, छात्रों का प्रभावशाली सन्देश

पहली नज़र में वो, किसी गहरे हरे मैदान पर सफ़ेद हिलती हुई परछाई के चमकदार थक्के नज़र आते हैं. उनकी तस्वीरें लेने वाला ड्रोन कैमरा जैसे-जैसे आकाश में अपना दायरा व्यापक करता है, तो स्पष्ट होता है कि ये तो असली लोग हैं - आधे दर्जन देशों से आए 200 से ज़्यादा छात्र – एक विशेष आकार बनाने वाली पंक्तियों में खड़े होकर, विश्व को ये सन्देश देने के लिये: महासागरों की रक्षा करें.

विश्व महासागर दिवस: यूएन महासचिव का सन्देश

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने 'विश्व महासागर दिवस' पर जारी अपने सन्देश में कहा है कि एक स्वस्थ व उत्पादक महासागर सुनिश्चित करना एक सामूहिक ज़िम्मेदारी है, और ये तभी सम्भव है जब हम सभी एक साथ मिलकर काम करें...