मध्य पूर्व

मध्य पूर्व ‘शांति प्रक्रिया ठप’, हिंसा भड़कने का ख़तरा

मध्य पूर्व में शांति प्रयासों के लिए विशेष समन्वयक निकोलय म्लादेनॉफ़ ने कहा है कि शांति प्रक्रिया में आए गतिरोध को दूर करने और वार्ता को पुर्नजीवित करने के लिए तत्काल कदम उठाए जाने की आवश्यकता है. उन्होंने क्षेत्र में हिंसा और अस्थिरता फैलने के ख़तरे के बीच दोनों पक्षों से अनुरोध किया है कि चरमपंथियों और कट्टरपंथियों के विरुद्ध मज़बूती दिखानी होगी.

मध्य पूर्व में 'संयम और सुलह-सफ़ाई की सख़्त ज़रूरत'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव की चीफ़ डी कैबिनेट मारिया लुइज़ा वॉयटी ने कहा है कि क्षेत्र में ख़तरनाक टकराव की स्थिति को टालने के लिए संयम और शांति के लिए गंभीर बातचीत बहुत ज़रूरी है, अगर इस टकराव को नहीं रोका गया तो इसके बेहद ख़तरनाक परिणाम हो सकते हैं जिनका क्षेत्र से बाहर भी गंभीर असर हो सकता है.

यमन, वहाँ की जनता और क्षेत्र का ‘भविष्य दांव पर’

यमन में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने कहा है कि हिंसा से बदहाल यमन विघटन के ख़तरे का सामना कर रहा है और उसके पास गँवाने के लिए बहुत ज़्यादा समय नहीं बचा है. यमन में हाल के दिनों में हुई हिंसा और नई चुनौतियों के परिप्रेक्ष्य में उन्होंने कहा कि देश का भविष्य दांव पर लगा है और इसलिए शांति प्रयासों की सुस्त रफ़्तार को तेज़ किए जाने की आवश्यकता है.

सऊदी महिलाओं के लिए संरक्षण प्रणाली का ख़ात्मा 'उत्साहजनक'

सऊदी अरब में महिलाओं को पासपोर्ट के लिए आवेदन और पुरुष संरक्षकों की मर्ज़ी के बग़ैर विदेश यात्रा की अनुमति दिए जाने को उत्साहजनक क़दम बताया गया है. संयुक्त राष्ट्र के स्वतंत्र विशेषज्ञों का कहना है कि इस निर्णय से पुरुष संरक्षक प्रणाली के पूर्ण उन्मूलन में मदद मिलेगी लेकिन अभी सभी पाबंदियां हटाने के लिए और प्रयास किए जाने होंगे.

सीरिया में हिरासत में बंद लोगों के मुद्दे पर 'विफल रही सुरक्षा परिषद'

सीरिया में हिंसक संघर्ष के दौरान हिरासत में लिए गए लोगों और उनके परिजनों की मदद करने में सुरक्षा परिषद पूरी तरह विफल रही है. बुधवार को 'फ़ैमिलीज़ फ़ॉर फ़्रीडम' की सह-संस्थापक आमिना खोलानी ने सुरक्षा परिषद को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जेल में बंद और लापता लोगों की हरसंभव सहायता की जानी चाहिए.

सीरिया में त्रासदी पर 'सुरक्षा परिषद भी बेबस'

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेट ने सीरिया के इदलिब प्रांत और अन्य हिस्सों में सिलेसिलेवार हवाई हमलों में आम लोगों के मारे जाने के बावजूद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्याप्त उदासीनता पर गहरा क्षोभ व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि सीरिया जैसी बड़ी त्रासदी से निपटने में सुरक्षा परिषद भी बेबस नज़र आ रही है. पिछले दस दिनों में हुए हमलों में 100 से ज़्यादा लोगों के मारे जाने की ख़बर है जिनमें 26 बच्चे भी हैं.

फ़लस्तीन में संकट समाप्त करने के लिए ठोस प्रयासों पर बल

संयुक्त राष्ट्र में राजनैतिक और शांति निर्माण मामलों की प्रमुख रोज़मैरी डिकार्लो ने कहा है कि इसराइली-फ़लस्तीनी संघर्ष में ख़तरनाक गतिरोध बना हुआ है जिससे चरमपंथ को बढ़ावा मिल रहा है और क्षेत्र में तनाव भड़क रहा है. मंगलवार को सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए उन्होंने आगाह किया कि फ़िलहाल क़ायम स्थिति से बातचीत के ज़रिए शांति हासिल करने की उम्मीदें क्षीण होती नज़र आ रही हैं.

लीबिया: हिरासत में रखे गए शरणार्थियों और प्रवासियों को रिहा करने की अपील

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी और यूएन प्रवासन एजेंसी के प्रमुखों ने लीबिया में हिरासत में रखे गए साढ़े पांच हज़ार से ज़्यादा शरणार्थियों और प्रवासियों को रिहा करने की अपील की है. यूएन अधिकारियों ने एक साझा बयान में हिरासत केंद्रों से लोगों को व्यवस्थित ढंग से रिहा करने की और उनके मानवाधिकारों की रक्षा करने की आवश्यकता पर ज़ोर दिया है.

सीरिया: हवाई हमले में 7 बच्चों सहित 20 की मौत

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) के अनुसार, पश्चिमोत्तर सीरिया में शनिवार को विस्थापितों के ख़िलाफ हवाई हमले में कम से कम सात बच्चे मारे गए हैं.

बेथलहेम चर्च संकटग्रस्त विरासत स्थलों की सूची से बाहर

संयुक्त राष्ट्र की सांस्कृतिक एजेंसी ने ईसा मसीह की जन्मस्थली के रूप में मान्यता प्राप्त बेथलहम चर्च को संकटग्रस्त विरासत स्थलों की विश्व सूची से हटाने की घोषणा की है. एजेंसी ने बताया कि इसका श्रेय फिलीस्तीन के बेथलेहेम नेटिविटी चर्च को जाता है जिसने व्यापक सुधार कार्यक्रम के तहत इसकी पूरी मरम्मत कर दी है.