वैश्विक

मानव तस्करी की ज़्यादातर शिकार महिलाएँ व लड़कियाँ

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ज़ोर देकर कहा है कि मानव तस्करी एक ऐसा जघन्य अपराध है जिससे दुनिया का हर इलाक़ा प्रभावित होता है, विशेषरूप में महिलाएँ और बच्चे. मंगलवार, 30 जुलाई को मानव तस्करी निरोधक दिवस के अवसर पर महासचिव ने ये संदेश दिया है. मानव तस्करी को रोकने के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर वर्ष ये दिवस 30 जुलाई को मनाया जाता है.

सशस्त्र संघर्षों का बच्चों पर बढ़ता क़हर

दुनिया भर में सशस्त्र संघर्षों में मारे जाने वाले और अपंग होने वाले बच्चों की संख्या वर्ष 2018 में 12 हज़ार का आंकड़ा पार कर गई. जब से संयुक्त राष्ट्र ने इस विषय में आकंड़ों की निगरानी करना आरंभ किया है तब से यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है. सोमालिया, सीरिया, कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य और माली जैसे देशों में हिंसा बच्चों से उनका बचपन छीन रही है. सशस्त्र संघर्षों में बच्चों की व्यथा को टटोलती एक नई रिपोर्ट में यह तथ्य सामने आया है.

हेपेटाइटिस के उन्मूलन के लिए निवेश बढ़ाने की पुकार

रविवार, 28 जुलाई, को विश्व हेपेटाइटिस दिवस है. इस अवसर पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सभी देशों से हेपेटाइटिस के उन्मूलन के लिए साहसिक राजनीतिक नेतृत्व का  प्रदर्शन करने और बीमारी के परीक्षण और इलाज को आसान बनाने के लिए ज़रूरी निवेश करने का अनुरोध किया है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी की रणनीति पर अमल के ज़रिए 2030 तक 45 लाख मौतों को रोका जा सकता है.

तंबाकू सेवन की जानलेवा लत से छुटकारे के लिए ज़्यादा मुस्तैदी की दरकार

इस समय लगभग पाँच अरब लोग ऐसे देशों में रह रहे हैं जहाँ धूम्रपान पर पाबंदी लगाई जा चुकी है, धूम्रपान उत्पादों पर ख़तरे की चेतावनी दिखाई जाती है और तंबाकू सेवन पर नियंत्रण के अन्य तरीक़े शुरू किए गए हैं, फिर भी विश्व स्वास्थ्य संगठन की ताज़ा रिपोर्ट दिखाती है कि बहुत से देश तंबाकू सेवन और धूम्रपान पर नियंत्रण पाने के लिए समुचित उपाय नहीं कर रहे हैं.

इकोसॉक की नई अध्यक्ष की बुनियादी स्वतंत्रताओं की हिमायत

संयुक्त राष्ट्र की आर्थिक व सामाजिक परिषद (इकोसॉक) की नई अध्यक्ष मोना जुऊल ने अपना पद संभालने के मौक़े पर कहा है कि इस संस्था के आदर्श और गतिविधियाँ उतने ही प्रासंगिक हैं जितने कि 1945 में थे जब इसका गठन किया गया था. नॉर्वे मूल की मोना जुऊल ने कहा कि ये परिषद आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक मुद्दों पर अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने के लिए वजूद में आई थी.

नवप्रवर्तन में स्विट्ज़रलैंड सबसे आगे, भारत की रैंकिंग में सुधार

विश्व बौद्धिक संपदा संगठन (WIPO) की नई रिपोर्ट ‘ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2019’ के अनुसार नवप्रवर्तन (इनोवेशन) के क्षेत्र में स्विटज़रलैंड विश्व में पहले स्थान पर है और उसके बाद अमेरिका, नीदरलैंड्स और ब्रिटेन का नंबर आता है. रिपोर्ट दर्शाती है कि भारत ने  अपनी रैंकिंग में सुधार जारी रखते हुए 2019 में इस सूची में 52वां स्थान हासिल किया है जबकि 2015 में उसका नंबर 81वां था. 

वायु प्रदूषण रोकने के लिए सरकारों का आह्वान

संयुक्त राष्ट्र ने वायु प्रदूषण कम करने और सांस लेने के लिए स्वच्छ हवा की उपलब्धता सुनिश्चित करने के इरादे से  साझेदार संगठनों के साथ मिलकर सरकारों से ‘क्लीन एयर इनिशिएटिव’ से जुड़ने का आह्वान किया है. सितंबर में यूएन जलवायु शिखर वार्ता से पहले सरकारों से वायु की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने की अपील की गई है ताकि नागरिकों के स्वास्थ्य की रक्षा हो सके और 2030 तक जलवायु परिवर्तन और वायु प्रदूषण नीतियों में एकरूपता लाई जा सके.

युवा तलाश करेंगे जलवायु संकट का समाधान

क्या युवा कंप्यूटर प्रोग्रामर कोडिंग के माध्यम से जलवायु संकट का समाधान ढूंढ सकते हैं? संयुक्त राष्ट्र में युवा मामलों की विशेष दूत जयाथमा विक्रमानायके ने हाल ही में एक नई प्रतियोगिता “रीबूट द अर्थ” की शुरुआत की है जिसकी मदद से संयुक्त राष्ट्र, शिक्षा जगत, नागरिक समाज और युवाओं के बीच पारस्परिक सहयोग को बढ़ावा देते हुए जलवायु आपात स्थिति का समाधान ढूंढने का प्रयास किया जाएगा.  

फ़लस्तीनी घरों को ढहाना 'अंतरराष्ट्रीय मानवीय क़ानूनों के अनुरूप नहीं'

इसराइल द्वारा फ़लस्तीन के पश्चिमी तट में सुर बाहीर इलाक़े में घर ढहाए जाने की घटना पर संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के तीन वरिष्ठ अधिकारियों ने दुख जताया है. संयुक्त रूप से जारी एक बयान में कहा गया है कि इसराइल की कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय मानवीय क़ानूनों के तहत तय किए गए दायित्वों के अनुरूप नहीं है.  

आईएईए के महानिदेशक यूकिया अमानो को श्रद्धांजलि

विश्व भर में परमाणु गतिविधियों पर नज़र रखने वाली संयुक्त राष्ट्र संस्था - अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA), के महानिदेशक यूकिया अमानो का 72 साल की आयु में निधन हो गया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने उन्हें श्रृद्धांजलि देते हुए कहा है कि परमाणु तकनीक के शांतिपूर्ण इस्तेमाल को सुनिश्चित करने में उनका असाधारण योगदान रहा है.