वैश्विक

नए साल के पहले दिन जन्मेंगे क़रीब चार लाख बच्चे

वैसे तो जनवरी का पहला दिन नए साल का आग़ाज़ है, इसी दिन दुनिया भर में लगभग तीन लाख 92 हज़ार बच्चे अपने जीवन की शुरुआत करेंगे.  संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने विश्व नेताओं से स्वास्थ्य सेवाओं और स्वास्थ्यकर्मियों के प्रशिक्षण में निवेश की पुकार लगाई है ताकि हर नवजात शिशु को बचाया जा सके.

सब-सहारा अफ़्रीका में भुखमरी का विकराल रूप

विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) का एक नया विश्लेषण दर्शाता है कि सब-सहारा देशों में भुखमरी से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ रही है और आगामी महीनों में ज़िम्बाब्वे, दक्षिण सूडान, कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य सहित अन्य देशों में लाखों लोगों का जीवन बचाने के लिए खाद्य सहायता की ज़रूरत होगी.

युद्धापराध के आरोपों की जांच जवाबदेही तय करने में 'एक अहम क़दम'

संयुक्त राष्ट्र के स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ माइकल लिन्क ने अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय (ICC) के उस फ़ैसले का स्वागत किया है जिसमें फ़लस्तीन में कथित युद्धापराधों की आपराधिक जांच पर विचार करने की बात कही गई है. यूएन विशेषज्ञ ने कहा कि पांच दशक से फ़लस्तीनी इलाक़ों पर चले आ रहे इसराइली क़ब्ज़े की जवाबदेही तय करने की प्रक्रिया में यह एक बेहद महत्वपूर्ण क़दम होगा. 

बच्चों के लिए बेहद घातक साबित हुआ - सदी का दूसरा दशक

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की कार्यकारी निदेशक हेनरीएटा फ़ोर ने कहा है कि विश्व भर में हिंसक संघर्ष पहले से कहीं ज़्यादा अवधि तक खिंच रहे हैं और ज़्यादा संख्या में युवाओं की मौत का कारण बन रहे हैं. यूनीसेफ़ ने सोमवार को बताया कि वर्ष 2010 की शुरुआत से अब तक बच्चों के अधिकार हनन के गंभीर मामलों की संख्या एक लाख 70 हज़ार आंकी गई है यानी पिछले 10 वर्षों में औसतन हर दिन हनन के 45 मामले.

बीते दशक पर एक नज़र - तीसरा भाग

बीते दशक के तीसरे और अंतिम भाग में हम नज़र डालेंगे: रोहिंज्या शरणार्थी संकट से निपटने के प्रयास; लाइबेरिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन का सफल समापन; और मैड्रिड में कॉप-25 जलवायु सम्मेलन से निराशा के बावजूद जलवायु संकट के ख़िलाफ लड़ाई में नया जोश.

उथल-पुथल भरे दौर में युवाओं पर टिकी उम्मीदें

एक ऐसे समय में जब हर तरफ़ अनिश्चितता और असुरक्षा का माहौल है, विश्व के युवजन ही एक बेहतर दुनिया के निर्माण के लिए सभी की उम्मीद का महानतम स्रोत हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने नववर्ष 2020 के लिए अपने शुभकामना संदेश में यह बात कही है. 

महासभा ने 3.07 अरब डॉलर के यूएन बजट को हरी झंडी दी

यूएन महासभा ने वर्ष 2020 में संयुक्त राष्ट्र के लिए 3.07 अरब डॉलर के नियमित बजट को मंज़ूरी दे दी है. यूएन महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद बांडे ने बजट पारित होने पर सदस्य देशों का आभार जताते हुए कहा कि इससे अगले वर्ष संगठन के काम को सफलतापूर्वक आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी.

बीते दशक पर एक नज़र - दूसरा भाग

अब जब वर्ष 2019 विदा होने के कगार पर है, आइए यूएन न्यूज़ के साथ एक नज़र डालते हैं साल 2010 और 2019 के बीच घटी विश्व की कुछ बड़ी घटनाओं पर. सदी के दूसरे दशक पर केंद्रित तीन हिस्सों वाली इस समीक्षा की दूसरी कड़ी में हम 2014 और 2016 के बीच हुई घटनाओं पर नज़र डालेंगे जिनमें शामिल हैं: ईबोला का भयावह प्रकोप; ऐतिहासिक पेरिस जलवायु समझौते के माध्यम से विश्व नेताओं द्वारा जलवायु संकट से निपटने का प्रयास; और टिकाऊ विकास पर संयुक्त राष्ट्र के 2030 एजेंडा का शुभारंभ.

क्रिसमस पर शांति और सद्भावना का संदेश

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने शुक्रवार को वेटिकन में रोमन कैथोलिक चर्च के मुखिया पोप फ़्रांसिस के साथ मुलाक़ात करने के बाद क्रिसमस पर शांति का सद्भावना का संदेश दिया. उन्होंने कहा कि इस मुश्किल दौर में सभी को शांति व सामंजस्य की ख़ातिर एकजुट होना चाहिए.

महिलाओं की ख़ातिर यूएन वीमेन

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने भारतीय मूल की अनीता भाटिया को मई 2019 में सहायक महासचिव नियुक्त किया था. अनीता भाटिया को विश्व भर में लैंगिक समानता, लड़कियों और महिलाओं की बेहतरी के लिए काम करने वाली यूएन संस्था यूएन वीमेन की डिपुटी कार्यकारी निदेशक की ज़िम्मेदारी सौंपी है. ये पद उन्होंने अगस्त में संभाला और तभी से उन्होंने अनेक देशों का दौरा करके महिलाओं की भलाई के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों का जायज़ा लिया है. यूएन हिन्दी न्यूज़ के साथ ख़ास बातचीत...