के द्वारा छनित:

यूरोप

ब्रिटेन में 40 डिग्री सेल्सियस तापमान का अनुमान, जुलाई 2022 में पहली बार किया गया है.
UK Met Office

ब्रिटेन में रिकॉर्ड 40 डिग्री सेल्सियस तापमान, जलवायु परिवर्तन से सम्बद्ध

विश्व मौसम संगठन (WMO) ने सोमवार को कहा है कि ब्रिटेन में इस सप्ताह रिकॉर्ड 40 डिग्री या उससे भी अधिक असाधारण तापमान का स्तर, दरअसल मौजूदा वातावरण में, “मानव गतिविधियों से अप्रभावित प्राकृतिक वातावरण” की तुलना में 10 गुना ज़्यादा होने की सम्भावना है.

यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश, न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय में, पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए. (फ़ाइल)
UN Photo

यूक्रेन: विन्नीत्सिया में मिसाइल हमले की निन्दा, 20 से ज़्यादा की मौत

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश गुरूवार को यूक्रेन के केन्द्रीय विन्नीत्सिया इलाक़े में हुए एक घातक मिसाइल हमले पर हतप्रभ हैं जिसमें ख़बरों के अनुसार 22 लोगों की मौत हुई है और 100 अधिक घायल हुए हैं. मृतकों में तीन बच्चे भी हैं.

यूक्रेन के क्रास्ने गाँव में गेहूँ की उपज.
© FAO/Anatolii Stepanov

यूक्रेन के अनाज की निर्यात बहाली, एक अहम बढ़त वाला क़दम

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अनाज का निर्यात बहाल करने के मुद्दे पर रूस और यूक्रेन के दरम्यान, तुर्कीये में यूएन समर्थित बातचीत में हुई प्रगति को, “दुनिया भर में मानव तकलीफ़ें कम करने व भुखमरी के हालात आसान करने के लिये उम्मीद की एक किरण क़रार दिया है”.

पोलैण्ड सीमा के पास यूक्रेनी शरणार्थी.
© UNHCR/Chris Melzer

यूक्रेन: शरणार्थी घर वापसी के लिये इच्छुक, मगर पहले शान्ति व बेहतर सुरक्षा हालात ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) का एक नया सर्वेक्षण दर्शाता है कि यूक्रेन में युद्ध के कारण अपना घर छोड़ने के लिये मजबूर अधिकांश शरणार्थी जल्द से जल्द अपने घर वापिस लौटना चाहते हैं. मगर, क़रीब दो-तिहाई शरणार्थी सुरक्षा हालात बेहतर होने और टकराव में कमी आने तक शरण प्रदान करने वाले देशों में ही रहने के इच्छुक हैं.

मॉस्को का एक विहंगम दृश्य
UN News/Anton Uspensky

रूस: मीडिया व सिविल सोसायटी पर 'दमन' की निन्दा

संयुक्त राष्ट्र द्वारा नियुक्त स्वतंत्र मानवाधिकर विशेषज्ञों ने, रूस द्वारा सिविल सोसायटी संगठनों, मानवाधिकार पैरोकारों और मीडिया संगठनों पर लगातार जारी और बढ़ रहे दमन की निन्दा की है.

यूएन शरणार्थी एजेंसी के प्रमुख फ़िलिपो ग्रैण्डी ने यूक्रेन के इरपिन का दौरा किया, जहाँ एक हज़ार इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं और 115 पूरी तरह ध्वस्त हो गई हैं.
© UNHCR/Andrew McConnell

यूक्रेन: युद्ध प्रभावितों के लिये सर्दियों में कठिनाइयाँ और बढ़ने की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने गुरूवार को आगाह किया है कि यूक्रेन में युद्ध से प्रभावित लाखों लोगों के लिये सर्दी के महीने बेहद कठिनाई भरे साबित हो सकते हैं. यूएन एजेंसी की यह चेतावनी ऐसे समय में आई है जब यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में भीषण लड़ाई के बीच रूसी सैन्य बल आगे बढ़ रहे हैं.

यूक्रेन की कीयेव में बमबारी के कारण ध्वस्त हुई इमारत.
© UNDP/Oleksandr Ratushniak

युद्ध में तबाह हुए यूक्रेन में, पुनर्निर्माण प्रयासों के लिये समर्थन

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने युद्ध प्रभावित यूक्रेन में पुनर्निर्माण के इरादे से, मंगलवार को स्विट्ज़रलैण्ड में आरम्भ हुए एक सम्मेलन में अन्तरराष्ट्रीय प्रयासों को अपना समर्थन दिया है.

यूक्रेन के ख़ारकीव में युद्ध प्रभावित लोगों को विश्व खाद्य कार्यक्रम की तरफ़ से खाद्य पैकेट बाँटे जाते हुए.
© WFP/Ukrainian Red Cross/Yurii Chornobuk

यूक्रेन: रूसी आक्रमण के चार महीने बाद भी, तेज़ी से बढ़ती मानवीय आवश्यकताएँ

संयुक्त राष्ट्र मानवीय राहतकर्मियों ने कहा है कि यूक्रेन पर रूसी सैन्य बलों के आक्रमण के चार महीने बाद भी विशाल पैमाने पर मानवीय राहत आवश्यकताएँ और मानवाधिकारों के प्रति चिन्ता बरक़रार है. उन्होंने गुरूवार को, देश में काला सागर बन्दरगाह के ज़रिये, खाद्य सुरक्षा के लिये अति महत्वपूर्ण अनाज की सुलभता सुनिश्चित करने की अपनी अपील भी दोहराई है.

बेलारूस की राजधानी मिन्स्क में प्रदर्शनकारियों का एक दृश्य (फ़ाइल फ़ोटो)
Unsplash/Andrew Keymaster

'बेलारूस भय और मनमानेपन के माहौल में जकड़ा'

संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ अनाइस मैरिन ने आगाह करते हुए कहा है कि बेलारूस में मानवाधिकारों की बिगड़ती स्थिति ने, देश को भय और मनमानी व्यवस्था की जकड़ में लेना जारी रखा हुआ है.

उत्तरी यूक्रेन के सूमी क्षेत्र में, IOM कर्मचारी ज़रूरतों का आकलन कर रहे हैं.
© IOM/Marco Chimenton

यूक्रेन: रोकना होगा मृत्यु, विनाश, विस्थापन और व्यवधान का चक्र

संयुक्त राष्ट्र की राजनैतिक और शान्ति निर्माण प्रमुख रोज़मैरी डीकार्लो ने सुरक्षा परिषद को बताया कि यूक्रेन में "भयानक युद्ध" समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है.उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल को उनके पिछले अपडेट के बाद, "अनगिनत यूक्रेनी नागरिक" अन्धाधुन्ध हमलों में मारे गए हैं, शहर और क़स्बे सपाट कर दिये गए हैं, और देश की अधिकांश कृषि योग्य भूमि "गोलाबारी से बुरी तरह विकृत" हो गई है.