यूरोप

दुनिया भर में शांति और सामंजस्य के लिए एकजुटता की पुकार

उथल-पुथल और मुश्किलों से भरे मौजूदा दौर में विश्व भर के लोगों को शांति व सामंजस्य में एकजुटता दिखाने की ज़रूरत है. ये शब्द हैं यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश के जो उन्होंने शुक्रवार को वेटिकन में रोमक कैथोलिक चर्च के मुखिया पोप फ्रांसिस के साथ मुलाक़ात करने के बाद कहे. महासचिव ने संयुक्त राष्ट्र को समर्थन देने के लिए पोप का शुक्रिया भी अदा किया.

बाल यौन शोषण पर 'गोपनीयता का पर्दा' हटाए जाने का स्वागत

संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ने कहा है कि वेटिकन स्थित चर्च मुख्यालय को उन लोगों को न्याय दिलाने के लिए ठोस कार्रवाई करनी होगी जो अपने बचपन के दौरान चर्च पादरियों द्वारा यौन शोषण का शिकार हुए.

कॉप-25: जलवायु कार्रवाई में व्यवसायों को सहारा देने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने तमाम व्यवसायों और सिविल सोसायटी का आहवान किया है कि वो सरकारों पर ऐसी बेहतर नीतियाँ बनाने के लिए दबाव डालें जिनके ज़रिए जलवायु परिवर्तन की चुनौती का सामना करने में निजी क्षेत्र के प्रयासों को भी सहारा दिया जा सके.

पूर्वी यूक्रेन में बच्चों की सुरक्षा के लिए राजनैतिक समाधान की दरकार

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष - यूनीसेफ़ ने कहा है कि यूक्रेन के पूर्वी इलाक़े में लगभग 5 लाख बच्चे अपने शारीरिक व मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य के लिए लगातार गंभीर ख़तरों का सामना कर रहे हैं. 

अल्बानिया में शक्तिशाली भूकंप के बाद तेज़ी से बचाव कार्य

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के कर्मचारी अल्बानिया में भूकंप के बाद वहाँ अधिकारियों की सहायता करने में लगे हैं. इस भूकंप में कम से कम 25 लोग मारे गए हैं और 650 से अधिक घायल होने की ख़बरें हैं.

कला से औषधि का काम: क्या आपने कभी आज़माया है!

ये जानना वाक़ई दिलचस्प है कि जन्म होने के पहले से और जीवन का अंत होने तक, नृत्य, गायन या पेंटिंग जैसी गतिविधियों से हमारे स्वास्थ्य पर सकारात्मक असर पड़ता है. इस आर्ट थैरेपी यानी कला के विभिन्न रूपों द्वारा किए जाने वाले उपचार पारंपरिक तरीक़ों से भी ज़्यादा किफ़ायती साबित हो सकते हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सोमवार को जारी एक ताज़ा रिपोर्ट में कला और सांस्कृतिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव पर एक रिपोर्ट जारी की है.

जहाज़रानी उद्योग से ‘पर्यावरणीय आपदा’ का ख़तरा

संयुक्त राष्ट्र के व्यापारिक अंग, यूएनसीटीएडी की उप प्रमुख, इसाबेल ड्यूरेंट ने बुधवार को ग्लोबल मैरीटाइम फोरम शिखर सम्मेलन में कहा है कि यदि समुद्री उद्योग से उत्पन्न उत्सर्जन में कटौती नहीं की जाती है, तो हम "एक पर्यावरणीय आपदा" को न्यौता दे देंगे. 

राष्ट्रविहीनों का सहारा बनने वाला

राष्ट्रविहीनता के शिकार लोगों के अधिकारों की लड़ाई लड़ रहे किर्गिस्तान के एक वकील अज़ीज़बेक अशुरोफ़ को संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी के ‘2019 नेन्सेन रैफ़्यूजी अवॉर्ड’ से सम्मानित किया गया है. अशुरोफ़ ने पूर्व सोवियत संघ के विघटन के बाद 10 हज़ार राष्ट्रविहीन लोगों को किर्गिस्तान की नागरिकता दिलाने में मदद की है.

ग्रीस के द्वीपों पर शरणार्थियों की संख्या बढ़ने से चिंता

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने कहा है कि ग्रीस के द्वीपों पर शरणार्थियों और प्रवासियों के लिए बनाए गए केंद्रों पर ज़बरदस्त भीड़ है जिससे वहां हालात बिगड़ने का ख़तरा पैदा हो गया है. इन हालात के मद्देनज़र यूएन एजेंसी ने ग्रीस सरकार से अपील की है कि शरण मांग रहे लोगों की जल्द सुनवाई करते हुए उन्हें उन द्वीपों से तत्काल देश के अन्य हिस्सों में भेजा जाना चाहिए.

योरोप में स्वास्थ्य असमानता की खाई पाटने की चुनौती

योरोप में स्वस्थ जीवन को सर्वजन के लिए सुलभ बनाने की दिशा में प्रगति के बाद अब इन प्रयासों में एक ठहराव का सामना करना पड़ रहा है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा मंगलवार को जारी एक नई रिपोर्ट बताती है कि समाज में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ सभी के लिए सुनिश्चित करने का स्पष्ट रास्ता होने के बावजूद एक ऐसी खाई बनी हुई है जिसे पाटना मुश्किल हो रहा है.