यूरोप

रूस: यूक्रेन में ‘विशेष सैन्य अभियान’ के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं था, विदेश मंत्री  

रूसी महासंघ के विदेश मंत्री सर्गेई लैवरोफ़ ने यूएन महासभा के 77वें सत्र की जनरल डिबेट को सम्बोधित करते हुए कहा कि यूक्रेन की सरकार ने पूर्वी हिस्से में अपने ही लोगों के विरुद्ध युद्ध छेड़ा हुआ था, और पश्चिमी देश बातचीत के लिये असमर्थ नज़र आ रहे थे. इन हालात में रूस के पास यूक्रेन में तथाकथित विशेष सैन्य अभियान को शुरू करने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं था. 

'यूक्रेन में युद्धापराध किये गए हैं', यूएन जाँच आयोग की रिपोर्ट

यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के लगभग सात महीने बाद, संयुक्त राष्ट्र द्वारा नियुक्त स्वतंत्र मानवाधिकार जाँचकर्ताओं ने कहा है कि हिंसक संघर्ष के दौरान निश्चित रूप से युद्धापराध किये गए हैं.

यूक्रेन: 'विवेकहीन युद्ध' पर विराम लगाने के लिये, दोगुने प्रयासों की पुकार 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरूवार को सुरक्षा परिषद में विदेश मंत्रियों की एक बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा है कि यूक्रेन में युद्ध का अन्त होने के फ़िलहाल कोई आसार नज़र नहीं आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि इसके मद्देनज़र, सदस्य देशों को तनाव और ज़्यादा भड़कने से रोकने और लड़ाई पर विराम लगाने के लिये अपने प्रयास बढ़ाने होंगे.

यूक्रेन: युद्ध से उपजे संकट से महिलाओं व लड़कियों पर विषम असर 

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट दर्शाती है कि यूक्रेन में जारी युद्ध और उसके भोजन, ऊर्वा व वित्त पोषण पर हुए वैश्विक असर से महिलाओं व लड़कियों पर अपेक्षाकृत अधिक असर हुआ है. अध्ययन के अनुसार यूक्रेन में और विश्व भर में यह रुझान देखा गया है. 

ब्रिटेन: 2022, आक्रामकता के विरुद्ध आज़ादी की जद्दोजेहद की कहानी है!

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री ऐलिज़ाबेथ ट्रस ने यूएन महासभा के 77वें सत्र की उच्च स्तरीय जनरल डिबेट को सम्बोधित करते हुए कहा है कि योरोप में पूर्ण रूप से आक्रामकता भरा युद्ध जारी है. इस पृष्ठभूमि में यूएन महासभा की वार्षिक बैठक भूराजनैतिक युग के एक नए दौर में आयोजित हो रही है, जो ये मांग करता है कि संयुक्त राष्ट्र के सिद्धान्तों में विश्वास करने वाले पक्ष, इस चुनौती से निपटने के लिये खड़े हों.

यूक्रेन: नए शान्ति फ़ॉर्मूले में आक्रामकता के लिये दण्ड, सुरक्षा की पुनर्बहाली

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदीमीर ज़ेलेंस्की ने बुधवार को यूएन महासभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनके देश के विरुद्ध ‘ग़ैरक़ानूनी युद्ध‘ छेड़ने के लिये रूस को दण्डित किया जाना होगा. उन्होंने कहा कि यह एक ऐसे शान्ति फ़ॉर्मूले का हिस्सा होना चाहिये, जिसमें नागरिकों की रक्षा व प्रतिरक्षा प्रयासों के लिये समर्थन का भी ध्यान रखा जाए.

अमेरिका: रूस ने 'यूएन चार्टर का बेशर्मी से किया उल्लंघन', यूक्रेन के साथ एकजुटता का आग्रह

अमेरिका के राष्ट्रपति जोसेफ़ बाइडेन ने यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की कड़ी निन्दा की है. उन्होंने बुधवार को यूएन महासभा के 77वें सत्र के दौरान उच्चस्तरीय जनरल डिबेट में, सदस्य देशों को सम्बोधित करते हुए आगाह किया कि यदि कोई पक्ष बिना नतीजों का सामना किये, साम्राज्यवादी महत्वाकांक्षाओं के पीछे जाता है, तो फिर इस महान संस्थान के सभी मूल्य जोखिम में पड़ जाएंगे.

फ्रांस: यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की निन्दा, शान्ति प्रयासों के लिये समर्थन का आग्रह

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्राँ ने मंगलवार को यूएन महासभा के 77वें सत्र को सम्बोधित करते हुए कहा है कि यूक्रेन पर रूस का आक्रमण, साम्राज्यवाद की वापसी है. उन्होंने सचेत किया कि जिन्होंने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी या फिर जिनकी इसमें गुपचुप मिलीभगत रही, उनके इस रुख़ से वैश्विक व्यवस्था को क्षति पहुँची है.

‘काला सागर अनाज पहल’: यह क्या है, और विश्व के लिये क्यों अहम है

फ़रवरी 2022 में यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की शुरुआत के बाद, यूक्रेन से अनाज और रूस से खाद्य वस्तुओं व उर्वरकों की आपूर्ति पर भीषण असर हुआ. आपूर्ति में आए इस व्यवधान की वजह से क़ीमतों में उछाल दर्ज किया गया, जिसकी वजह से विश्व में खाद्य संकट जैसे हालात भी पनपने लगे. इसके बाद, संयुक्त राष्ट्र और तुर्कीये के मध्यस्थता प्रयासों के फलस्वरूप ‘काला सागर अनाज पहल’ के ज़रिये, यूक्रेन से दुनिया भर में खाद्य सामग्री व उर्वरक निर्यात को सम्भव बनाने के लिये प्रयास किये गए. इसी पहल के विषय में कुछ अहम जानकारी…

यूक्रेन: पूर्वी इलाक़े में सामूहिक क़ब्रों की ख़बरों की जाँच

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय ने कहा है कि यूक्रेन के इज़यूम शहर में सामूहिक क़ब्रें पाए जाने की ख़बरों की जाँच, यूएन मानवाधिकार पर्यवेक्षकों से कराई जाएगी.