एशिया प्रशांत

काबुल में हमले और चुनावी हिंसा की धमकियों पर क्षोभ

अफ़गानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNAMA) ने काबुल में तालिबान द्वारा हमला किए जाने और चुनाव प्रक्रिया में हिंसा की धमकियां देने पर गहरा क्षोभ ज़ाहिर किया है. बुधवार को हुए इस हमले में कम से कम 14 लोगों की मौत हुई है और 150 से ज़्यादा घायल हुए हैं. यूएन मिशन ने एक ट्वीट संदेश कहा है कि घनी आबादी वाले इलाक़ों में इस तरह के हमले बंद होने चाहिए.

कश्मीर में घटनाक्रम से 'मानवाधिकारों की स्थिति बदतर होगी'

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने कहा है कि भारत प्रशासित कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संवैधानिक प्रावधान, अनुच्छेद 370, को ख़त्म किए जाने से वहां लोगों की बुनियादी लोकतांत्रिक आज़ादी पर जोखिम और ज़्यादा बढ़ जाएगा. यूएन मानवाधिकार एजेंसी ने क्षेत्र में संचार माध्यमों पर लगी पाबंदियों और सूचना पर पूरी तरह रोक लगाए जाने पर भी  गंभीर चिंता जताई है.

म्यांमार की सेना की व्यावसायिक गतिविधियों पर रोक की माँग

म्यांमार की सेना पर आरोप लगा है कि अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्तर पर व्यापार के ज़रिए सेना जो धन एकत्र कर रही है उसका इस्तेमाल मानवाधिकार उल्लंघन के मामलों को अंजाम देने में किया जा रहा है. संयुक्त राष्ट्र के स्वंतत्र समूह की एक नई रिपोर्ट में म्यांमार में सेना के व्यापारिक हितों को गहराई से परखा गया है और ज़िम्मेदार लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की गई है.

कश्मीर मुद्दे पर संयम बरतने का आग्रह

संयक्त राष्ट्र ने कहा है कि वो कश्मीर क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति पर नज़दीकी से नज़र रखा रहा है और भारत व पाकिस्तान से कश्मीर मुद्दे पर संयम बरतने का आग्रह किया है. 

दिल्ली में एसडीजी जागरूकता प्रदर्शनी

संयुक्त राष्ट्र के टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए दिल्ली के एक स्कूल में एक रोचक प्रदर्शनी आयोजित की गई. संरक्षण नामक इस प्रदर्शनी में छात्रों ने नुक्कड़ नाटक के साथ-साथ अन्य तरीक़ों का भी सहारा लिया. प्रदर्शनी की एक झाँकी...

साँसों के लिए साफ़ हवा की ख़ातिर

पर्यावरण प्रदूषण और वायु की गुणवत्ता के बारे में जाकरूकता बढ़ाने के इरादे से दिल्ली में 23 जुलाई 2019 को क्लीन एयर इनिशिएटिव यानी स्वच्छ वायु पहल लाँच की गई. इस पहल को जलवायु कार्रवाई सम्मेलन 2019 के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव के विशेष दूत एम्बेसेडर लुइस अल्फ़ोंसो डी अल्बा ने लाँच किया. अंशु शर्मा की रिपोर्ट...

अफ़ग़ान नागरिकों को हिंसा की आग से बचाने की पुकार

अफ़ग़ानिस्तान में  जारी हिंसा और संघर्ष वहाँ आम नगारिकों के लिए तबाही का कारण बना हुआ है. मंगलवार को जारी किए गए नए आंकड़े दर्शाते हैं कि वर्ष 2019 के पहले छह महीनों में हवाई हमलों में मारे गए लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है. देश में यूएन मिशन प्रमुख ने कहा है कि हिंसक गतिविधियों में आम लोगों को निशाना बनाए जाने पर रोक लगनी चाहिए.

चीन में भूस्खलन पीड़ितों के प्रति शोक

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने चीन में रविवार को भूस्खलन के कारण मलबे में दब जाने से कई लोगों की मौत होने पर गहरी संवेदना व्यक्त की है. दक्षिणी चीन के ग्वेज़ो प्रांत में भारी बारिश की वजह से  भूस्खलन की घटना हुई जिसमें 20 से ज़्यादा घर मलबे में दब जाने की ख़बरें हैं. इस दुर्घटना में 36 लोगों के मारे जाने और अनेक के लापता होने की आशंका है. 

दक्षिण एशिया के देशों में भारी बारिश और बाढ़ का क़हर

दक्षिण एशिया के कई देशों में मॉनसून की मूसलाधार बारिश बाढ़ और मुश्किलों को साथ लाई है जिससे ढाई करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं और 600 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. संयुक्त राष्ट्र मानवीय राहत एजेंसियों के अनुसार इस क्षेत्र में लगातार बारिश से भारत, बांग्लादेश, नेपाल और म्यांमार में पांच लाख से ज़्यादा लोगों को विस्थापन के लिए मजबूर होना पड़ा है.

भारत में विकलांग बच्चों की शिक्षा स्थिति

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ़) ने भारत में विकलांग बच्चों की शिक्षा की स्थिति के बारे में व्यापक आँकड़े जुटाए हैं. सर्वे में कहा गया है कि विकलांग बच्चों को उचित शिक्षा मुहैया कराने में काफ़ी प्रगति हुई है लेकिन अभी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है. ख़ासतौर से ऐसे मौक़े पर जब राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विचार विमर्श हो रहा है. इसी विषय पर अंशु शर्मा की एक रिपोर्ट... (मल्टीमीडिया सामग्री साभार: यूनेस्को)