अफ्रीका

यूगांडा में ईबोला वायरस से दूसरी मौत के बाद यूएन एजेंसियां सतर्क

यूगांडा में ईबोला वायरस से दो लोगों की मौत होने के बाद संयुक्त राष्ट्र की मानवीय राहत एजेंसियां स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए सरकार के साथ मिलकर काम कर रही हैं.  पड़ोसी देश काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य में पहले से ही बड़े पैमाने पर ईबोला फैला हुआ है और अब यूगांडा में भी इसके मामले सामने आए हैं.

अस्पताल की अंधेरी दुनिया में सूरज की रौशनी

अब्राहम लियर ने दक्षिणी सूडान के जोंगलेई राज्य में स्थित एक मात्र सक्रिय स्वास्त्य केंद्र - बोर अस्पताल में काफ़ी लंबे समय से काम किया है और उन्होंने वहाँ बहुत सी घुप्प अंधेरी रातें देखी हैं, मगर अब रौशनी की किरणों ने अस्पताल की अंधेरी रातों को जगमगा दिया है.

यूनीसेफ़ प्रमुख ने सूडान में हिंसा तत्काल रोके जाने की अपील की

सूडान में लोकतंत्र के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों के विरूद्ध सुरक्षा बलों की कार्रवाई की चपेट में आने से अब तक 19 बच्चों की के मारे जाने की रिपोर्टें है और 49 घायल हुए हैं. लोकतंत्र समर्थकों और अंतरिम सैन्य परिषद में बातचीत विफल होने के बाद सुरक्षा बलों ने इस महीने के शुरू में कार्रवाई शुरू की. संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने देश में हिंसा के जारी रहने और उसके बच्चों और युवाओं पर पड़ रहे असर पर गहरी चिंता जताई है.

लीबिया: शरणार्थी और प्रवासी 'भयावह हालात' में रहने को मजबूर

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने चिंता जताई है कि टीबी जैसी घातक बीमारी से पीड़ित प्रवासियों और शरणार्थियों को लीबिया की राजधानी त्रिपोली के एक हिरासत केंद्र में मरने के लिए छोड़ा जा रहा है. लीबिया में राजनीतिक अस्थिरता और हिंसा के बीच प्रवासी और शरणार्थी बेहद विकट परिस्थितियों में रह रहे हैं.

सूडान में शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी की निंदा

सूडान की राजधानी खार्तूम में सुरक्षा बलों ने लोकतंत्र के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर गोलियां चलाई हैं जिसमें कई लोगों के मारे जाने और घायल होने की रिपोर्टें मिली हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गोलीबारी की कड़ी निंदा करते हुए शांतिपूर्ण ढंग से बातचीत को फिर से शुरू करने की अपील की है.  यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त ने भी सुरक्षा बलों की कार्रवाई की भर्त्सना की है. 

मोज़ाम्बिक के लिए 1.2 अरब डॉलर की मदद का संकल्प

तबाही लाने वाले चक्रवाती तूफ़ानों से प्रभावित मोज़ाम्बिक में पुनर्निर्माण कार्यों के लिए अंतरराष्ट्रीय दानदाताओं ने 1.2 अरब डॉलर की मदद का संकल्प लिया है. बेयरा शहर में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संकल्प सम्मेलन को संबोधित करते हुए यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र मोज़ाम्बिक को नहीं भूलेगा.  

तूफ़ानों से हुई तबाही से उबरने के लिए मोज़ाम्बिक को 3.2 अरब डॉलर की आवश्यकता

दो चक्रवाती तूफ़ानों से मोज़ाम्बिक में हुई भारी तबाही के बाद मदद जुटाने के उद्देश्य से बेयरा शहर में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संकल्प सम्मेलन शुरू हुआ है. ‘इडाई’ और ‘कैनेथ’ नामक  तूफ़ानों से 18 लाख से ज़्यादा लोग प्रभावित हुए, सैकड़ों लोगों की मौत हुई और बेयरा सबसे ज़्यादा प्रभावित शहर था. इस बर्बादी से उबरने के लिए 3.2 अरब डॉलर की सहायता राशि का अनुमान लगाया गया है.

'उसने अपनी जान गंवाई ताकि मेरी ज़िंदगी बच सके'

संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षक प्राइवेट चांसी चिटेटे ने अगर निस्वार्थ भाव से साहस का प्रदर्शन करते हुए कॉरपोरल अली खमीस ओमारी को सुरक्षित स्थान पर न खींचा होता तो उनकी जान बचना मुश्किल था. लेकिन हथियारबंद लड़ाकों का सामना करते हुए और अपने साथी सैनिक को बचाते समय मलावी के शांतिरक्षक प्राइवेट चिटेटे ने ख़ुद अपनी जान गंवा दी.  

काँगो में ईबोला नियंत्रण के प्रयासों के लिए समय बहुत ज़्यादा नहीं

संयुक्त राष्ट्र ने काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य में ईबोला पर क़ाबू पाने के लिए अपने प्रयास और ज़्यादा तेज़ और सघन करने की घोषणा की है. काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य में ईबोला की महामारी फैले हुए क़रीब दस महीने हो चुके हैं और हाल के सप्ताहों में ईबोला के संक्रमण के मामलों में भी बढ़ोत्तरी हुई है.

गृहयुद्ध और 'स्थाई विभाजन' के कगार पर खड़ा है लीबिया

लीबिया में राजनीतिक अस्थिरता से अब तक जो क्षति हुई है उससे उबरने में अभी वर्षों का समय लग सकता है लेकिन अगर त्रिपोली और आसपास के इलाक़ों में हिंसा को नहीं रोका गया तो गृहयुद्ध छिड़ने की आशंका है जिससे देश का स्थाई रूप से विभाजन भी हो सकता है. ये कहना है कि लीबिया में संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिनिधि घसन सलामे का जिन्होंने सुरक्षा परिषद को स्पष्ट शब्दों में स्थिति की गंभीरता से अवगत कराया है.