अफ्रीका

सूडान: दारफ़ूर मिशन समाप्ति के बाद भी सहायता का संकल्प

संयुक्त राष्ट्र महासचिव और अफ्रीकी संघ आयोग के अध्यक्ष ने सूडान के दारफ़ूर क्षेत्र में, इन दोनों संगठनों का संयुक्त सहायता मिशन गुरूवार, 31 दिसम्बर को ख़त्म हो जाने के बाद भी, वहाँ शान्ति और सामान्य स्थिति को मज़बूत करने में अपना योगदान जारी रखने का आश्वासन दोहराया है.

यमन: अदन हवाई अड्डे पर हुए हमले की तीखी भर्त्सना

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने बुधवार को अदन हवाई अड्डे पर हुए घातक हमले की तीखी भर्त्सना की है. इस हमले में कम से कम 26 लोगों के मारे जाने, और 50 से ज़्यादा के घायल होने की ख़बरें हैं.

यूनीसेफ़ की चेतावनी - संकटग्रस्त क्षेत्रों में लाखों बच्चे, अकाल के निकट

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने कहा है कि वर्ष 2021 के दौरान, काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य, नाइजीरिया के पूर्वोत्तर इलाक़े, मध्य सहेल, दक्षिण सूडान और यमन में एक करोड़ से भी अधिक बच्चे अत्यन्त गम्भीर कुपोषण से जूझ रहे होंगे. यूनीसेफ़ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर तत्काल ठोस क़दम नहीं उठाए गए तो ये संख्या और भी बढ़ सकती है.

दारफ़ूर में शान्तिरक्षा मिशन बन्द होने की पुष्टि

सूडान के दारफ़ूर क्षेत्र में, संयुक्त राष्ट्र और अफ्रीकी संघ का संयुक्त मिशन (UNAMID) गुरूवार, 31 दिसम्बर को आधिकारिक रूप से पूरा हो रहा है, जब सूडान की सरकार, इस इलाक़े में आम आबादी की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी संभालेगी.

टीगरे: तोप हमलों में, सैकड़ों आम लोगों के मारे जाने की ख़बरों पर चिन्ता

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने कहा है कि इथियोपिया के टीगरे क्षेत्र में, आम लोगों पर तोपों के हमलों और ग़ैर-लड़ाकों की सामूहिक हत्या किये जाने की ख़बरों की जाँच किया जाना ज़रूरी है, और स्वतंत्र जाँचकर्ताओं को पूरी सुविधा मिलनी चाहिये.

मोज़ाम्बीक़ में ढाई लाख विस्थापित बच्चों को घातक बीमारियों का ख़तरा

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने कहा है कि मोज़ाम्बीक़ में, पीने के स्वच्छ पानी, स्वच्छता व साफ़-सफ़ाई की कमी के कारण, लगभग ढाई लाख बच्चों के लिये जानलेवा बीमारियों का जोखिम पैदा हो गया है. ये सभी बच्चे उत्तरी प्रान्त में संकटों के कारण विस्थापित हैं.

लीबिया में, युद्धविराम के शान्ति लाभ, अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिये प्रयास शुरू

लीबिया में गृहयुद्ध को रोकने वाले, अक्टूबर में हुए युद्धविराम के अच्छे आर्थिक नतीजे मिलने शुरू हो गए हैं जिनसे देश के सामान्य लोगों के जीवन में कुछ बेहतरी आने की उम्मीद की जा रही है. केन्द्रीय बैंक के बोर्ड की बैठक, पाँच साल के व्यवधान के बाद शुरू हुई है और तेल उत्पादन भी पूरी रफ़्तार के साथ शुरू हो गया है, जिससे राजनैतिक परिवर्तन की प्रक्रिया तेज़ करने में मदद मिलेगी.

नाइजीरिया में अग़वा किये गए स्कूली लड़कों की तुरन्त रिहाई की पुकार

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने नाइजीरिया के पश्चिमोत्तर हिस्से में स्थित एक स्कूल पर हमला करके, अग़वा किये गए सैकड़ों लड़कों की तुरन्त और बिना शर्त रिहाई की पुकार लगाई है. इन लड़कों का अपहरण किये जाने का सन्देह, सन्दिग्ध डाकुओं पर है.

दक्षिण सूडान में सेवा के लिये भारतीय शान्तिरक्षक पुरस्कृत

भारत में महिलाओं के लिये सेना का हिस्सा होना आम बात नहीं है. यही बात मालाकाल में तैनात शान्तिरक्षकों की टुकड़ी पर भी खरी उतरती है, जहाँ हाल ही में आठ सौ से अधिक शान्तिरक्षकों को दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन में सेवा के लिये पदक से सम्मानित किया गया.

डीआरसी: राजनैतिक तनाव, सशस्त्र हमले, विस्थापन और कोविड चुनौतियाँ दरपेश

काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य (डीआरसी) में यूएन मिशन की अध्यक्ष लैला ज़ैरूगुई ने सोमवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि देश में, अनेक तरह के ख़तरों और जोखिमों का सामना कर रहे नागरिकों को, सरकारी संस्थानों द्वारा, स्थिरता और सुरक्षा मुहैया कराए जाने की सख़्त ज़रूरत है.