नवीनतम समाचार

कोविड के बाद की दुनिया के लिये बुनियादी बदलावों की ज़रूरत

ऐसे में जबकि, कोविड-19 महामारी दुनिया भर में एक सदी में सबसे गम्भीर और विनाशकारी स्वास्थ्य, सामाजिक-आर्थिक और मानवीय संकट पैदा करने पर आमादा है,  संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने मंगलवार को एक उच्चस्तरीय परिचर्चा में इस स्थिति का लाभ वास्तविक, बुनियादी और आवश्यक बदलाव लाने के लिये एक अवसर के रूप में करने की पुकार लगाई है.

इथियोपिया के टिगरे क्षेत्र में आम आबादी की सुरक्षा किये जाने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष मानवाधिकार अधिकारी मिशेल बाशेलेट ने इथियोपिया के टिगरे क्षेत्र में युद्धरत सभी पक्षों से अपनी सेनाओं को ऐसे स्पष्ट और बिल्कुल सुलझे हुए आदेश देने को कहा है कि आम लोगों को निशाना बनाया जाए, और हमलों से उनकी रक्षा की जाए.

कोविड-19: आपसी सम्बन्धों पर प्रभाव

स्वास्थ्य संकट की स्थिति में, स्कूल, सामाजिक संस्थाओं और प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुँच खो देने के कारण, ख़ासतौर पर लड़कियों को बाल-विवाह और कम उम्र में गर्भवती होने के जोखिम का सामना करना पड़ता है.

बांग्लादेश की 15 साल की त्रिशा कहती हैं, "मैं एक ऐसी सामाजिक व्यवस्था चाहती हूँ, जहाँ महिलाएँ और बच्चे पूरी तरह से सुरक्षित हों. बाल विवाह हमारे समाज के लिये एक अभिशाप है. जब कोई लड़की बाल विवाह का शिकार होती है, तो वह शारीरिक और भावनात्मक रूप से प्रभावित होती है.”

यह वीडियो, लड़कियों ने ख़ुद बनाकर, अपने विचार, अपने शब्दों में, व्यक्त किये हैं. (वीडियो देखें)...

कोविड-19: वैक्सीन खोज की अन्धेरी सुरंग में नज़र आई दमदार रौशनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा है कि कोविड-19 के ख़िलाफ़ वैक्सीन की खोज, जाँच-पड़ताल के साथ ही, अन्य प्रामाणिक सार्वजनिक स्वास्थ्य उपाय भी अपनाए जा रहे हैं, मगर अब इस बारे में कुछ ठोस उम्मीद जागी है कि स्वास्थ्य महामारी का ख़ात्मा करने में वैक्सीनें असरदार भूमिका निभाएँगी.

अफ़ग़ानिस्तान: सहायता सम्मेलन में टिकाऊ युद्धविराम लागू करने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के दो वरिष्ठ उच्चायुक्तों ने अफ़ग़ानिस्तान में बहुत लम्बे समय से चले आ रहे संघर्ष और अशान्ति को ख़त्म किये जाने का आहवान किया है. उन्होंने सोमवार को जिनीवा में हुए एक प्रमुख सम्मेलन में कहा कि देश में सामान्य स्थिति तभी लौट सकती है जब एक टिकाऊ युद्धविराम लागू किया जाए.

कोविड-19: एक लड़की की नज़र में असमानता

कोविड-19 महामारी के बढ़ते फैलाव के बीच, लड़कियाँ महिला ख़तना (FGM) से मुक्ति पाने का अधिकार पाने और सुरक्षा व कल्याण के लिये समान अवसरों का उपयोग करने के लिये आवाज़ उठा रही हैं.

निजेर में 15 साल की एस्टा पूछती हैं, "अगर कोई इलाज मिल भी गया, तब भी क्या क्या हमारे जैसे देशों को वो हासिल हो पाएगा?" 

यह वीडियो, लड़कियों ने ख़ुद बनाकर, अपने विचार, अपने शब्दों में व्यक्त किये हैं. (देखिये वीडियो)...

कोविड-19 के प्रभावों के बावजूद, कार्बन उत्सर्जन में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी

विश्व मौसम संगठन (WMO) ने कहा है कि वर्ष 2019 में वातावरण में कार्बनडाय ऑक्साइड का स्तर 410.5 अंश प्रति 10 लाख (PPM) के नए ऊँचे रिकॉर्ड पर पहुँच गया था, और इस वर्ष भी इस स्तर के बढ़ते रहने की सम्भावना है. संगठन ने ग्रीन हाउस समूह की गैसों पर अपने वार्षिक बुलेटिन में सोमवार को ये जानकारी दी. 

कोविड-19: वैक्सीन उपलब्ध कराने के लिये, यूनीसेफ़ की मुस्तैदी तेज़

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष-(UNICEF) कोविड-19 महामारी की वैक्सीन उपलब्ध होने पर इसे 92 देशों में जल्द से जल्द मुहैया कराने की योजनाओं पर दुनिया भर में अनेक साझीदारों, प्रमुख एयरलाइनों, समुद्री परिवहन कम्पनियों और अन्य ढाँचागत संगठनों के साथ मिलकर काम कर रही है, जिनकी संख्या 350 से भी ज़्यादा है. एजेंसी सोमवार को ये ख़बर जारी की है.

कोविड-19: जी-20 समूह की बैठक से पहले आपसी एकजुटता और समर्थन का आहवान

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इस सप्ताहान्त जी-20 समूह के नेताओं के बीच होने वाली बैठक से पहले एकजुटता और सहयोग की अहमियत को फिर रेखांकित किया है. यूएन प्रमुख ने शुक्रवार को न्यूयॉर्क में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सन्देश स्प्ष्ट है... कोविड-19 से पुनर्बहाली को समावेशी होना होगा, निर्बलों के लिये ठोस कार्रवाई सुनिश्चित करनी होगी, और इस संकट से उबरने की प्रक्रिया को टिकाऊ व जलवायु कार्रवाई के नज़रिये से महत्वाकाँक्षी बनाना होगा. 

लीबिया में शान्ति की दिशा में ठोस प्रगति, महिलाओं की भूमिका अहम

 लीबिया, दशकों की राजनैतिक अस्थिरता और हिंसक संघर्ष के बाद शान्ति पथ की ओर क़दम बढ़ा रहा है और इस प्रक्रिया में अन्तरराष्ट्रीय समुदाय को अपनी भूमिका निभानी होगी. लीबिया में यूएन महासचिव की कार्यवाहक विशेष प्रतिनिधि स्टेफ़नी विलियम्स ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास इन्टरव्यू में ने राष्ट्रीय सहमति वाली सरकार और लीबियाई नेशनल आर्मी के बीच हाल ही में ट्यूनीशिया में हुई पहले दौर की वार्ता की सराहना की है.