नवीनतम समाचार

महामारी के लिये पूर्व तैयारी व उससे निपटने के लिये एक सन्धि का आग्रह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) में एक वरिष्ठ अधिकारी डॉक्टर माइक रेयान ने किसी महामारी का सामना करने के लिये पहले से तैयारी करने व उसका मुक़ाबला करने के लिये, एक वैश्विक सन्धि की ज़रूरत पर ज़ोर दिया है. उन्होंने देशों से इस पल का सदुपयोग करते हुए, इस विचार को समर्थन देने का आग्रह भी किया है.

कोविड के दौरान, रंगहीनता की स्थिति वाले लोगों की अन्ध विश्वासी हत्याएँ बढ़ीं

संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ इकपॉनवोसा इरो ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के दौरान बहुत से लोग निर्धनता के गर्त में धँस रहे हैं और उन हालात के कारण, ऐल्बीनिज़्म यानि रंगविहीनता वाले लोगों की हत्याओं की संख्या में बढ़ोत्तरी देखी गई है.

मानव तस्करी: कोविड संकट काल में लाखों पर जोखिम, कार्रवाई की पुकार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरूवार को सदस्य देशों से मानव तस्करी के विरुद्ध कार्रवाई करने का आहवान किया है. मानव तस्करी के पीड़ितों में एक तिहाई बच्चे हैं.  

भारत में कोविड-19 और महिलाएँ – कुछ अहम प्रश्नों के उत्तर 

भारत में हाल के महीनों के दौरान, कोविड-19 महामारी के फैलाव की दूसरी लहर अपने साथ अभूतपूर्व बर्बादी लेकर आई है. महिलाओं और लड़कियों सहित, देश के निर्धनतम और निर्बलतम समुदायों को, आर्थिक चुनौतियों पर पार पाने और स्वास्थ्य संकट के दंश को कम करने में अपार मुश्किलों का सामना करना पड़ा है. 

बांग्लादेश: जान लेवा बाढ़, भूस्खलन से रोहिंज्या शरणार्थियों की मुसीबतें बढ़ीं

बांग्लादेश के कॉक्सेस बाज़ार में विशाल शरणार्थी बस्तियाँ, पिछले तीन दिनों से तेज़ हवाओं और मॉनसून की भारी बारिश की चपेट में हैं, जिससे रोहिंज्या शरणार्थियों की ज़िन्दगियों पर भीषण असर हुआ है. 

खाद्य प्रणालियों में बदलाव, कोविड संकट में भी आशा की किरण

संयुक्त राष्ट्र की उप महासचिव आमिना जे मोहम्मद ने कहा है कि एक टिकाऊ और समृद्ध ग्रह तभी हासिल हो सकता है जब हम सभी एक साथ मिलकर और एकजुटता के साथ काम करें. उन्होंने एक प्रमुख वैश्विक खाद्य सुरक्षा सम्मेलन की समाप्ति के अवसर पर ये बात कही है.

शरणार्थी सुरक्षा पर ऐतिहासिक सन्धि को हुए 70 वर्ष

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने कहा है कि 1951 में वजूद में आई शरणार्थी कन्वेन्शन के बुनियादी सिद्धान्तों और भावना के लिये, ये समय, एक बार फिर नवीन संकल्प दोहराने का एक बेहतरीन मौक़ा है. एजेंसी ने इस अन्तरराष्ट्रीय सन्धि की 70वीं वर्षगाँठ के मौक़े पर बुधवार को ये बात कही है.  

ग़ाज़ा: मानवीय राहत प्रयास जारी, मगर राजनैतिक समाधान की अब भी दरकार

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष उपसमन्वयक लिन हेस्टिन्ग्स ने कहा है कि अन्तरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा ग़ाज़ा को तात्कालिक सहायता मुहैया कराए जाने के बावजूद, इसराइल और फ़लस्तीन के बीच टकराव का राजनैतिक समाधान ढूंढे जाने की आवश्यकता है.  

कोविड-19: नए संक्रमण मामलों में उछाल, डेल्टा वैरिएंट 132 देशों में पहुँचा

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि पिछले सप्ताह कोविड-19 संक्रमणों में आठ फ़ीसदी की वृद्धि हुई और 38 लाख से ज़्यादा नए मामलों की पुष्टि हुई. 

वायरल हेपेटाइटिस की विकराल चुनौती, उन्मूलन प्रयासों में तेज़ी का आहवान

दक्षिण-पूर्व एशिया के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन के क्षेत्रीय कार्यालय (WHO SEARO) का कहना है कि वर्ष 2030 तक, सार्वजनिक स्वास्थ्य ख़तरे के रूप में वायरल हेपेटाइटिस को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिये मौजूदा प्रयासों में तेज़ी लानी होगी.