प्रवासी और शरणार्थी

कुवैत में प्रवासी श्रमिकों की सुरक्षा: रेज़िडेंट कोऑर्डिनेटर का ब्लॉग

कुवैत में, संयुक्त राष्ट्र ने उस ज़ैनोफ़ोबिक बयानबाज़ी का मुक़ाबला करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसमें प्रवासी श्रमिकों पर कोविड-19 फैलाने का झूठा आरोप लगा था. कुवैत में संयुक्त राष्ट्र के रेज़िडेंट कोऑर्डिनेटर  तारेक अलशेख ने इस ब्लॉग में विदेशी निवासियों के अधिकारों की रक्षा के लिए किये जा रहे प्रयासों पर प्रकाश डाला है.

‘दुनिया भर में फँसे’ हैं प्रवासी और कोविड-19 के कारण हैं ख़तरे में भी

संयुक्त राष्ट्र की प्रवासन एजेंसी, आईओएम के प्रमुख ने गुरुवार को कहा है कि हज़ारों प्रवासी "दुनिया भर में" फँसे हुए हैं, और कोविड-19 के संक्रमण के बढ़ते ख़तरे का सामना कर रहे हैं. आईओएम प्रमुख एंतोनियो विटोरिनो ने नए कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए कुछ देशों द्वारा तथाकथित इम्युनिटी पासपोर्ट जारी करने और मोबाइल फ़ोन ऐप का उपयोग करने के प्रस्तावों का हवाला देते हुए कहा, "स्वास्थ्य ही अब नई संपदा है."

बांग्लादेश में बांस की खेती को बढ़ावा

बांग्लादेश के कॉक्सेस बाज़ार में विशाल शरणार्थी बस्ती की निर्माण परियोजना के लिए 2 करोड़ 40 लाख से अधिक बांसों की कटाई की गई है. अंतरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (IOM) के सहयोग से स्थानीय प्रशासन बांसों के लिए देश में एक टिकाऊ बाज़ार को सृजित करने का प्रयास कर रहा है जिससे शरणार्थियों की ज़रूरतों को पूरा करने के साथ-साथ इस क्षेत्र को बांस व्यवसाय के केंद्र के रूप में भी विकसित किया जा सकेगा. 

शरणार्थियों और प्रवासियों के साथ मेल-जोल बढ़ाने के नए नुस्ख़े

शुक्रवार की दोपहर है और न्यूयॉर्क के ब्रुकलिन इलाक़े के एक छोटे से रेस्तरां के रसोईघर में, मुख्य बावर्ची अलेक्जेंडर हैरिस अपनी टीम को निर्देश दे रहे हैं. टीम के सदस्य उनकी बातों को ध्यान से सुनते हुए एक व्यस्त शाम के लिए तैयारी कर रहे हैं. हालांकि अभी रेस्तरां की सभी मेज़ें खाली हैं, लेकिन इस लोकप्रिय रेस्तरां में बैठने की जगह बेहद कम होने के बावजूद शाम होते-होते यहां भीड़ होने लगती है. 

वेनेज़ुएला सरकार से बंदियों को रिहा करने की अपील

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बेशेलेट ने वेनेज़ुएला का दौरा करने के बाद सरकार का आहवान किया है कि उन सभी लोगों को रिहा कर दिया जाए जिन्हें शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए गिरफ़्तार किया गया था. संयुक्त राष्ट्र के किसी मानवाधिकार विशेषज्ञ की ये पहली वेनेज़ुएला यात्रा थी. साथ ही उन्होंने कहा है कि देश में मानवाधिकारों की स्थिति पर निगरानी रखने के लिए उनके कार्यालय की एक टीम कराकस में मौजूद रहेगी.