वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

कोविड-19: यूएन हिन्दी कवरेज

कोविड-19: अन्तरराष्ट्रीय स्वास्थ्य आपदा – यूएन हिन्दी न्यूज़ कवरेज
पहली बार इन मामलों की जानकारी, दिसम्बर 2019 में चीन के वूहान में मिली.

चीन सहित दुनिया के कई देश नॉवल कोरोनावायरस (कोविड-19) के ख़तरे का सामना कर रहे हैं. चीन सहित अनेक देशों में इस वायरस के संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते रहे हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) हालात पर क़ाबू पाने के लिए विशेषज्ञों, सरकारों व साझीदार संगठनो के साथ मिलकर काम करता रहा है ताकि नए वायरस के बारे में वैज्ञानिक जानकारी को पुख़्ता बनाया जा सके, उसके फैलने और घातकता में कमी लाई जाए और प्रभावित देशों व व्यक्तियों को सेहत का ध्यान रखने के लिए ज़रूरी क़दम सुनिश्चित किए जा सकें.

कोरोनावायरस से जुड़ी ख़बरों पर नियमित अपडेट यहाँ उपलब्ध है...

पुर्तगाल के लिस्बन में एक बुज़ुर्ग महिला को वैक्सीन की तीसरी बूस्टर ख़ुराक लगाई जा रही है.
© WHO/Khaled Mostafa

योरोप: 14 लाख ज़िन्दगियों की रक्षा करने में, कोविड-19 टीकों से मिली मदद

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि कोविड-19 वैक्सीन के ज़रिये योरोपीय क्षेत्र में 14 लाख लोगों की जान बचाने में मदद मिली है, और यह टीकाकरण का एक ऐसा सबूत है जिसे ख़ारिज नहीं किया जा सकता है.

जापान की राजधानी टोक्यो में, कोविड-19 से बचाव के लिये मास्क पहने हुए लोग. (फ़ाइल फ़ोटो)
© ADB/Richard Atrero de Guzman

कोविड-19: तेज़ी से फिर फैल रहा है संक्रमण, WHO ने किया आगाह

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शुक्रवार को आगाह किया है कि कोरोनावायरस संक्रमण मामलों में एक बार फिर, विश्व भर में उछाल दर्ज किया जा रहा है, और निगरानी व्यवस्था के स्तर में कमी की वजह से बीमारी के वास्तविक मामले कहीं अधिक होने की आशंका है. 

इंडोनेशिया में एक स्वास्थ्यकर्मी, मरीज़ के उपचार के लिए जाने से पहले संक्रमण से बचाव के उपाय को अपना रही है.
© Unsplash/Viki Mohamad

कोविड-19 महामारी से मिले सबक़ को अमल में लाना होगा, यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ध्यान दिलाया है कि दुनिया को अगली वैश्विक महामारी से निपटने के लिए तैयार रहना होगा और इस क्रम में, कोविड-19 महामारी से लिए गए सबक़ के आधार पर क़दम उठाए जाने होंगे.

अफ़ग़ानिस्तान में, स्कूलों के अध्यापकों का, कोविड-19 की वैक्सीन से टीकाकरण किया गया था. (फ़ाइल चित्र)
© UNICEF/ Azizullah Karimi

कोविड-19 पर संशोधित दिशा-निर्देशों में, अस्पताल भर्ती के जोखिम में बदलाव

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोविड-19 के उपचार पर अपने दिशा-निर्देशों में नवीनतम जानकारी के साथ संशोधन किया है, जिनमें इस बीमारी के कम-गम्भीर मामलों के लिए संशोधित सिफ़ारिशें भी शामिल की हैं.

अफ़्रीका में पहला कोविड-19 टीकाकरण अभियान मार्च 2021 में घाना और कोडे डी आइवर में शुरू हुआ, जो COVAX सुविधा द्वारा प्रदान किया गया था, ये एकमात्र वैश्विक पहल है जो सरकारों और निर्माताओं के साथ काम करती है ताकि ये सुनिश्चित किया जा सके कि विश्व भर में COV…
© UNICEF/Miléquêm Diarassouba

कोविड-19: वैक्सीन के बौद्धिक सम्पदा अधिकार में छूट देने से मनाही, मानवाधिकारों का उल्लंघन

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार विशेषज्ञों ने मानवाधिकारों का हवाला देते हुए वैश्विक उत्तरी गोलार्द्ध में स्थित देशों (ग्लोबल नॉर्थ) से कोविड-19 टीकों और उपचारों के लिए बौद्धिक सम्पदा अधिकारों में छूट देने का आग्रह किया है.

थाईलैण्ड की राजधानी बैंकॉक में एक प्रयोगशाला में काम करते स्वास्थ्यकर्मी. वायरस क्षेत्र में सहयोग पर आधारित ये विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा समर्थित प्रयोगशाला है.
WHO/P. Phutpheng

कोविड-19: महामारी के विरुद्ध लड़ाई जारी रखने और नए उपायों पर ज़ोर

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई में टैक्नॉलॉजी, ज्ञान व क्लीनिक सम्बन्धी डेटा की सुलभता में बेहतरी लाने पर लक्षित एक साझेदारी के दायरे को विस्तृत बनाए जाने की घोषणा है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी ने ज़ोर देकर कहा है कि वैश्विक महामारी की रोकथाम व उपचार के लिए प्रयासों को जारी रखा जाना होगा. 

युद्ध, यूक्रेन के बच्चों और उनके परिवारों के लिए विनाशकारी साबित हुआ है.
© UNICEF

यूक्रेन: युद्ध और कोविड-19 के कारण बड़े पैमाने पर शिक्षा हानि

संयुक्त राष्ट्र बाल एजेंसी की एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि यूक्रेन के बच्चों की पढ़ाई-लिखाई को व्यापक स्तर पर नुक़सान के संकेत दिखाई दे रहे हैं. पहले कोविड​​​​-19 महामारी और फिर रूसी आक्रमण के कारण उन्हें लगातार चौथे वर्ष, शिक्षा में बाधा का सामना करना पड़ रहा है.

 विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक, डॉक्टर टैड्रॉस ऐडहेनॉम घेबरेयेसस की फ़ाइल फ़ोटो.
© WHO/Pierre Albouy

कोविड-19: EG.5 वैरिएंट पर WHO की नज़र

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक, डॉक्टर टैड्रॉस ऐडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा है कि कोविड​​​​-19 के कई ‘प्रकारों’ (variant of interest) की नज़दीकी तौर पर निगरानी की जा रही हैजिनमें नया वेरिएंट EG.भी शामिल है. हाल ही में, अनेक देशों में EG.के बढ़ते मामले सामने आए हैं.

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक मोबाइल टीकाकरण इकाई में 6 महीने के एक लड़के का टीकाकरण.
© UNICEF/Saiyna Bashir

WHO: वैश्विक टीकाकरण कवरेज, पटरी पर लौटने के संकेत

विश्व स्वास्थ्य संगठन ( (WHO) और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) के नवीन आँकड़ों से मालूम होता है कि कुछ देशों में टीकाकरण सेवाओं के बहाल होने के संकेत नज़र आ रहे हैं, अलबत्ता टीकाकरण कवरेज अब भी कोविड-19 महामारी के पूर्व स्तरों से कम है, विशेष रूप से निम्न व मध्य-आय वाले देशों में. इस स्थिति ने बच्चों को, बीमारियाँ फैलने के गम्भीर जोखिम में धकेल दिया है.

CAS प्रशिक्षण कार्यशाला में भाग लेने वाले प्रतिभागी.
© UNICEF/Sandeep Biswas

भारत: दुष्प्रचार व दुस्सूचना से निपटने के लिए, यूनीसेफ़ की अनूठी पहल

भारत में संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने कोविड-19 महामारी के दौरान ग़लत व झूठी जानकारी का प्रसार रोकने के लिए, ‘आलोचनात्मक मूल्यांकन कौशल (Critical Appraisal Skills – CASकी शक्ति का उपयोग किया, जिससे महामारी व टीकाकरण से जुड़ी भ्रान्तियों को दूर करने व टीकाकरण अभियान में एक नई जान फूँकने में मदद मिली