कोस्टा रीका के उदाहरण से सीख सकते हैं अन्य देश

22 जनवरी 2020

कोस्टा रीका अपेक्षाकृत एक छोटा देश होने के बावजूद जलवायु कार्रवाई के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा रहा है. देश में बिजली उत्पादन का 95 फ़ीसदी से ज़्यादा हिस्सा कार्बन उत्सर्जन से मुक्त है और 52 प्रतिशत इलाक़ा वनों से ढंका हुआ है. 

स्पेन के मैड्रिड में हुए कॉप-25 जलवायु सम्मेलन के आकलन और कार्बन न्यूट्रैलिटी (नैट कार्बन उत्सर्जन स्थिति) के भविष्य पर बातचीत के लिए सोमवार, 20 जनवरी को भारत की राजधानी नई दिल्ली में संयुक्त राष्ट्र के स्थानीय मुख्यालय में एक चर्चा आयोजित की गई.

इस चर्चा में मध्य अमरीकी देश कोस्टा रीका के भारत में राजदूत क्लोडियो एन्सोरेना ने देश में कार्बन उत्सर्जन पर निर्भरता घटाने वाली योजनाओं के विभिन्न पहलुओं पर जानकारी दी.

दिल्ली में यूएन हिन्दी समाचार की सहयोगी अंशु शर्मा ने संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण एजेंसी की कार्यक्रम प्रबंधन अधिकारी दिव्या दत्ता से बातचीत में जानना चाहा कि पर्यावरण संबंधी चुनौतियों से निपटने में कोस्टा रीका जैसे मॉडल अन्य देशों की किस तरह मदद कर सकते हैं...

अवधि
7'6"

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड