UN News

विशेष

जलवायु और पर्यावरण मिस्र के तटीय शहर शर्म अल-शेख़ में कॉप27 जलवायु सम्मेलन में स्थानीय समयानुसार रविवार तड़के एक महत्वपूर्ण समझौते पर अन्तत: सहमति बन गई, जिसके तहत जलवायु-जनित आपदाओं से प्रभावित निर्बल देशों में होने वाली ‘हानि व क्षति’ के लिए मुआवज़ा दिए जाने की व्यवस्था की गई है. इसके साथ ही, दो हफ़्तों से जारी गहन चर्चा के बाद यूएन का वार्षिक जलवायु सम्मेलन समाप्त हो गया है.

ये भी ख़बरों में

प्रवासी और शरणार्थी संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने कहा है कि युद्ध, हिंसा और मानवाधिकार हनन के कारण विस्थापित हुए लोगों तक जीवनरक्षक सहायता पहुँचाने के लिये, देशों की सरकारों ने एक अरब 13 करोड़ अरब डॉलर की धनराशि का संकल्प लिया है.  
मानवीय सहायता संयुक्त राष्ट्र के आपदा राहत मामलों के प्रमुख मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि रूस के “मूर्खतापूर्ण युद्ध” ने यूक्रेन के लोगों व उससे भी आगे भीषण तबाही मचाई है जिससे भारी तकलीफ़ें हो रही हैं.